धर्मशाला, 25 जनवरी: 10वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के उपलक्ष्य पर आज जिला परिषद् हॉल, धर्मशाला आयोजित जिला स्तरीय समारोह में अपने विचार रखते हुये उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने कहा कि देश की लोकतांत्रिक परम्पराओं की मर्यादा और स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को बनाये रखना प्रत्येक भारतीय का कर्तव्य है।
उन्होंने कहा कि हमें धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रकार के प्रलोभन से प्रभावित हुये बिना निर्भीक होकर सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए ताकि देश में स्वच्छ लोकतांत्रिक परम्परा कायम रहे। उपायुक्त ने बताया कि इस वर्ष राष्ट्रीय मतदाता दिवस का थीम ‘‘एक मजबूत लोकतंत्र के लिए चुनावी साक्षरता’’ रखा गया है। उन्होंने कहा कि मतदान करना हर जिम्मेदार नागरिक का अधिकार है, क्योंकि देश के नागरिकों से वोट से ही तय होता है कि सरकारी किसकी बनेगी।
इस अवसर पर सूचना एवं सम्पर्क विभाग के कलाकारों ने गीत-संगीत एवं नाटक के माध्यम से मतदाताओं को मताधिकार के प्रयोग एवं महत्व बारे जागरूक किया। इस दौरान विभिन्न शिक्षण संस्थानों के छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।
उपायुक्त ने उपस्थित सभी लोगों को राष्ट्र के प्रति चुनाव में भागीदारी की शपथ भी दिलाई और सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित भी किया।
इस दौरान तहसीलदार निर्वाचन उपेन्द्र शुक्ला ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा राष्ट्रीय मतदान दिवस के बारे में विस्तृत जानकारी दी।
इस अवसर एसडीएम हरीश गज्जू, विभिन्न विभागों के अधिकारी, स्कूलों के अध्यापक एवं गणमान्य लोग उपस्थित थे।