चंडीगढ़,(सुनीता शास्त्री),09.07.19- आज फैशन को प्रोफेशन के के रूप में देखा जा रहा है लउक़ी लडक़ेके भेद भाव से ऊपर उठकर दोनों कुछ नया करने में लगे हैं। फैशन पुराने में कुछ नया जोडक़र अलग कर दिखाना होता है जो कुछ अलग नया लगे । यह विचार भारतीय कॉस्ट्यूम डिजाइन सेक्टर में पायोनियर और बॉलीवुड फैशन डिजाइनर मनीष मल्होत्रा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए व्यक्त किये। वह चंडीगढ़ में इंटर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन डिजाइन (आईनिफ्ड) और लंदन स्कूल ऑफ ट्रेंड्स (एलएसटी) के सहयोग से ‘लर्न फ्रॉम मनीषमल्होत्राडिजिटल प्रोग्राम के माध्यम से स्टूडेंट्स को स्पेशलाइज्ड फैशन एजुकेशन ट्रेनिंग प्रदान करने आये हुए थे । उन्होंने बताया कि मेरे लिए आम आदमी और सेलीब्रेटी दोनों खास हैं। हॉ सेलीब्रेटी के बनाते समय उनसे उनकी च्वाइस पूद लेता हूं। सेलीब्रेटी के कपड़े बनाना कितना चेलेंजिंग होता है पूछने पर बताया कि पहले चेंलेंज लगता था लेकिन अब तो यह सब पार्ट ऑफ लाइफ हो गया है कोइ्र्र असुविधा नहीं होती ।मनीष मल्होत्रा ने फैशन टिप्स और डिजाइन के एस्थेटिक्स को भी शेयर किया। मनीष ने कहा कि ‘‘हर चीज की विविधता और डेमोग्राफिक्स दुनिया को करीब ला रही है। सोशल मीडिया ट्रेवल और एक दूसरे के साथ बातचीत इसको बनाने में अहम भूमिका निभाती है इसलिए यह ऑनलाइन फैशन कोर्स सभी के लिए सीखने का वरदान है।’’ मनीष मल्होत्रा कहते हैं कि यह कोर्स अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध शिक्षाविदों और उद्योग जगत के प्रमुखों द्वारा क्यूरेट किया गया और उनके द्वारा ही स्टूडेंट्स को इंटरनेशनल फैशन और इंटीरियर डिजाइन पाठ्यक्रम प्रदान करता है।