सोलन -दिनांक 14.07.2020
सोलन जिला में 3135 व्यक्ति स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में- डाॅ. गुप्ता

कोविड-19 के खतरे के दृष्टिगत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्रालय के दिशा-निर्देशानुसार सोलन जिला में वर्तमान में 3135 व्यक्तियों को निगरानी में रखा गया है। यह जानकारी आज यहां जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.के. गुप्ता ने दी।
डाॅ. गुप्ता ने कहा कि इन 3135 व्यक्तियों में से 2530 व्यक्तियों को होम क्वारेन्टीन किया गया है। इनमें से 1849 व्यक्ति ऐसे हैं जिन्हें अन्य राज्योें से जिला में आने के उपरान्त होम क्वारेन्टीन किया गया है। 681 अन्य व्यक्ति होम क्वारेन्टीन हैं। 450 व्यक्ति संस्थागत क्वारेन्टीन में हैं।
जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि जिला में अभी तक 15004 व्यक्ति 14 दिन की निगरानी अवधि पूर्ण कर चुके हैं।
उन्होंने कहा कि जिला में अभी तक कुल 18139 व्यक्तियों को निगरानी में रखा जा चुका है। 04 व्यक्तियों को आईसोलेशन में रखा गया है। इनमें से क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में 01, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नालागढ़ में 02 तथा एमएमयू कुम्मारहट्टी में 01 व्यक्ति को आईसोलेशन में रखा गया है।
उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें और दो व्यक्तियों के मध्य कम से कम दो गज की दूरी बनाए रखें। उन्होेंने सभी से आग्रह किया कि आरोग्य सेतु एप डाऊनलोड करें और इस एप में दिए गए निर्देशों का पालन करें। उन्होंने कहा कि बाहरी राज्यों से आ रहे सभी व्यक्तियों को क्वारेनटाइन के सम्बन्ध में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशांे का पालन करना आवश्यक है।

=====================================

सोलन- दिनांक 14.07.2020
सोलन जिला से आज कोरोना संक्रमण जांच के लिए भेजे गए 549 सैम्पल

सोलन जिला से आज कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि के लिए 549 व्यक्तियों के रक्त नमूने केन्द्रीय अनुसंधान संस्थान कसौली भेजे गए। यह जानकारी आज यहां जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एनके गुप्ता ने दी।
डाॅ. गुप्ता ने कहा कि इन 549 रक्त नमूनों में से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नालागढ़ से 172, नागरिक अस्पताल बद्दी से 74, ईएसआई काठा से 52, क्षेत्रीय अस्पताल सोलन से 126, एमएमयू कुम्हारहट्टी से 37, नागरिक अस्पताल अर्की से 23, ईएसआई परवाणू से 45 तथा ईएसआई झाड़माजरी से 20 सैम्पल कोरोना वायरस संक्रमण जांच के लिए भेजे गए हैं।
उन्होंने कहा कि सोलन जिला में गत दिवस कोरोना संक्रमण के 69 व्यक्ति पाॅजिटव हुए हैं। जिला में अभी तक कोविड-19 के 258 रोगी पाॅजिटिव पाए गए हैं। इनमें से वर्तमान में 154 व्यक्ति कोविड एक्टिव हैं। कोरोना संक्रमित व्यक्तियों में से ईएसआई काठा में 18, नौणी में 16, श्रमिक छात्रावास नालागढ़ में 37, कोविड केयर सेन्टर बखालग में 19, निमन्त्रण होटल बद्दी में 59 तथा सेना अस्पताल कसौली में 02 व्यक्तियों का उपचार किया जा रहा है। मानकों के अनुसार 02 कोरोना रोगियों का उपचार घर पर किया जा रहा है।
जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा बाहरी राज्यों से प्रदेश में आने वाले लोगों से आग्रह किया कि वे क्वारेनटाइन सम्बन्धी दिशा-निर्देशों का पूर्ण पालन करें। उन्होंने कहा कि इन नियमों की अनुपालना न केवल बाहर से आने वाले व्यक्तियों के परिवारों अपितु समाज को किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचाने में सहायक सिद्ध होगी।
डाॅ. गुप्ता ने सभी से आग्रह किया कि खांसी, जुखाम, बुखार या सांस लेने में तकलीफ होने पर शीघ्र समीप के स्वास्थ्य संस्थान से सम्पर्क करें। इस सम्बन्ध में किसी भी सहायता के लिए हैल्पलाईन नम्बर 104 तथा दूरभाष नम्बर 221234 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

======================================

सोलन -दिनांक 14.07.2020

कोविड-19 के दृष्टिगत औद्योगिक इकाईयों के लिए आदेश

जिला दण्डाधिकारी सोलन के.सी. चमन ने जिला में विशेष रूप से औद्योगिक क्षेत्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन की रिपोर्ट के आधार पर जिला में स्थापित सभी औद्योगिक इकाईयों के प्रबन्धन को 07 दिवस के भीतर अपने परिसर में अस्थाई आईसोलेशन सुविधा तैयार करने के आदेश दिए हैं ताकि आवश्यकता अनुसार यहां कोरोना वायरस से संक्रमित कामगारों को रखा जा सके।

जिला दण्डाधिकारी ने आदेश दिए हैं कि इन आईसोलेशन सुविधाओं में अधोसंरचना ऐसी होनी चाहिए जो संक्रमण के कारण अन्य कामगारों से आईसोलेट किए गए कामगारों की चिकित्सा सम्बन्धी आवश्यकताओं को पूर्ण करने में सक्षम हो। इस विषय में आईसोलेशन केन्द्रों के लिए सभी अधिसूचित चिकित्सीय प्रोटोकोल स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा सम्बन्धित औद्योगिक इकाई को उपलब्ध करवाए जाएंगे। औद्योगिक इकाई जिला स्वास्थ्य कर्मिसों की सुविधा के लिए निजी चिकित्सा एवं पैरा मेडिकल कर्मियों की सेवाएं ले सकती है।

आदेशों के अनुसार कोविड-19 प्रबन्धन के लिए रसोईया, भोजन सेवा, सफाई एवं प्रचालन तन्त्र इत्यादि सम्बन्धित इकाई द्वारा उपलब्ध करवाया जाएगा।

यह आदेश जिला की सभी औद्योगिक इकाईयों पर लागू होंगे तथा उक्त सभी सुविधाआंे कासृजन शीघ्र करना होगा।

यह आदेश तुरन्त प्रभाव से लागू हो गए हैं।

============================================== सोलन -दिनांक 14.07.2020

निमन्त्रण होटल अस्थाई निर्दिष्ट कोविड केयर केन्द्र नामित

जिला दण्डाधिकारी सोलन के.सी. चमन ने कोविड-19 के दृष्टिगत मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन के आग्रह पर जिला के नालागढ़ उपमण्डल के बद्दी स्थित निमन्त्रण होटल, सन सिटी रोड़, समीप टोल बैरियर को रिगले कम्पनी के कोरोना संक्रमित रोगियों के लिए शर्तों के साथ अस्थाई निर्दिष्ट कोविड केयर केन्द्र नामित किया है।

आदेशों में प्रदत्त शर्तों के अनुसार कोविड पोजिटिव 59 रोगियों को होटल के उपरी तल पर अलग रखा जाएगा। नेगेटिव रिपोर्ट वाले व्यक्तियों को पृथक तल पर रखा जाएगा तथा यह सभी पुनः सैम्पलिंग तक क्वारेनटीन निर्देशों का पूर्ण पालन करेंगे। भोजन की व्यवस्था प्रोटोकोल के अनुरूप की जाएगी। इसका व्यय सम्बन्धित कम्पनी द्वारा वहन किया जाएगा। आवश्यक दवाईयां इत्यादि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा उपलब्ध करवाई जाएंगी। रोग के थोड़े लक्षण पाए जाने पर उक्त व्यक्ति को प्रोटोकोल के अनुसार समर्पित कोविड केन्द्र काठा भेजा जाएगा।

कम्पनी निर्धारित प्रपत्र के अनुसार रोगियों केे स्वास्थ्य के अनुश्रवण के लिए निजी स्वास्थ्य कर्मियों की सेवाएं लेगी। स्वास्थ्य कर्मियों को आवश्यक एवं तकनीकी निर्देश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा उपलब्ध करवाया जाएगा। कम्पनी के चिकित्सा कर्मियों के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा एक निगरानी अधिकारी नामित किया जाएगा।

परिसर एवं बाह्य सुरक्षा एवं अन्य प्रशासनिक मामलों का निपटारा स्थानीय प्रशासन द्वारा किया जाएगा।

कम्पनी का प्रभारी चिकित्सा अधिकारी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा नामित निगरानी अधिकारी के साथ समन्वय स्थापित कर निर्धारित प्रपत्र के अनुसार रोगियों की आवश्यक जांच का दैनिक अनुश्रवण करेगा।

जैविक कचरे को कम्पनी द्वारा सी.बी.डब्लयू.एफ एनवायरो इंजीनियरस को सौंपा जाएगा तथा इस जैविक कचरे का खर्च सम्बन्धित कम्पनी द्वारा वहन किया जाएगा। पीपीई किट, दस्ताने, एन-95 मास्क, टोपी, सैनिटाईजर तथा हाईपोक्लोराईट घोल इत्यादि भी सम्बन्धित कम्पनी द्वारा उपलब्ध करवाया जाएगा।

सम्बन्धित कम्पनी द्वारा परिसर की दैनिक सैनिटाईजेशन एक प्रतिशत हाईपोक्लोराईट घोल के द्वारा सुनिश्चित बनाई जाएगी।

यह आदेश तुरन्त प्रभाव से लागू हो गए हैं तथा आगामी आदेशों तक प्रभावी रहेंगे।

====================================

सोलन-दिनांक 14.07.2020
घरेलू रसोई गैस सिलेण्डर की दरों के सम्बन्ध में अधिसूचना

जिला दण्डाधिकारी सोलन केसी चमन ने घरेलू रसोई गैस सिलेण्डर की दरों में परिवर्तन के सम्बन्ध में अधिसूचना जारी की है।
यह अधिसूचना घरेलू रसोई गैस (आपूर्ति एवं वितरण का नियमन) आदेश, 2000 के खण्ड 9(ई) के अन्तर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए जारी की गई है।
इस अधिसूचना के अनुसार हिमाचल प्रदेश राज्य नागरिक आपूर्ति निगम सोलन के माध्यम से नगर परिषद सोलन के क्षेत्र, शहरी क्षेत्र तथा लोअर कलीन में 14.2 किलोग्राम भार वाले घरेलू रसोई गैस सिलेण्डर का मूल्य 668 रुपये प्रति सिलेण्डर निर्धारित किया गया है।
अधिसूचना के अनुसार परचून विक्रय मूल्य प्रति सिलेण्डर 623 रुपये तथा अतिरिक्त मजदूरी एवं परिवहन भाड़ा 45 रुपये निर्धारित किया गया है।
इस सम्बन्ध में 17 जनवरी, 2020 को जारी अधिसूचना के अनुरूप अन्य शर्तें अपरिवर्तित रहेंगी।

===================================

सोलन -दिनांक 14.07.2020
तकनीकी सहायकों के पद लिए दस्तावेजों का सत्यापन 18 जुलाई को

विकास खण्ड सोलन में तकनीकी सहायकों के 02 रिक्त पदों के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्रों का सत्यापन 18 जुलाई, 2020 को प्रातः 10.00 बजे विकास खण्ड कार्यालय सोलन में किया जाएगा। यह जानकारी खण्ड विकास अधिकारी ललित दुल्टा ने आज यहां दी।
उन्होंने कहा कि जिन अभ्यर्थियों ने इस पद के लिए आवेदन किया है वे निर्धारित तिथि को मूल दस्तावेजों सहित उपस्थित होना सुनिश्चित करें ताकि उनके प्रमाण पत्रों का सत्यापन किया जा सके।

=======================================

सोलन -दिनांक 14.07.2020
मुख्यमंत्री स्वालम्बन योजना की समग्र समीक्षा के लिए बैठक आयोजित

उपायुक्त सोलन केसी चमन ने महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र सोलन एवं जिला के अग्रणी बैंक के प्रबंधक को निर्देश दिए हैं कि महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना के माध्यम से जिला के पात्र युवाओं का लाभान्वित करने के लिए अधिक समन्वय स्थापित कर अग्रसक्रिय होकर कार्य करें। केसी चमन आज यहां मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना की समग्र समीक्षा के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
केसी चमन ने कहा कि यह योजना प्रदेश के स्थायी निवासियों को स्वरोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से आरम्भ की गई है। उन्होंने कहा कि योजना का लाभ युवाओं को तभी प्राप्त हो सकता है जब न केवल उन्हें योजना की पूर्ण जानकारी प्रदान की जाए अपितु जिला उद्योग केन्द्र एवं बैंकों द्वारा उनके मामलांे को शीघ्र अनुमोदित किया जाए।
उपायुक्त ने जिला के अग्रणी बैंक के प्रबंधक को निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना के तहत जिला उद्योग केन्द्र से स्वीकृत आवेदनों के मामलों में शीघ्र ऋण स्वीकृत करना सुनिश्चित बनाया जाए। उन्होंने कहा कि सही समय पर ऋण मिलने से ही युवा बेहतर कार्य कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में बैंकों को समय-समय पर निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि बैंक योजना के तहत ऋण के मामलों में शीघ्र कार्यवाही करते हुए यह जानकारी भी उपलब्ध करवाएं कि किस कारणवश ऋण स्वीकृत नहीं किया गया है।
उन्होंने निर्देश दिए कि 15 जुलाई सांय 3.00 बजे तक इस योजना के सम्बन्ध में पूर्ण जानकारी उपायुक्त कार्यालय को प्रेषित करें ताकि उच्च स्तर पर इस सम्बन्ध में अद्यतन जानकारी भेजी जा सके।
बैठक में जानकारी दी गई कि मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना के तहत वर्ष 2018-19 में लगभग 42.43 करोड़ रुपये के 180, वर्ष 2019-20 में लगभग 106 करोड़ रुपये के 394 तथा वर्ष 2020-21 में अब तक लगभग 32 करोड़ रुपये के 118 मामले समिति द्वारा बैंकों को ऋण स्वीकृति के लिए प्रेषित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इन मामलों में लगभग 38 करोड़ रुपये का उपदान प्रदान किया जाना है। अभी तक बैंकों द्वारा लगभग 31 करोड़ रुपये ऋण के 126 मामले स्वीकृत किए गए हैं। बैंकों के पास योजना के तहत 53 करोड़ रुपये ऋण के 218 मामले लंबित हैं।
जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक राजीव कुमार ने योजना के विषय में जानकारी प्रदान की।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त विवेक चंदेल सहित विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

=====================================

सोलन- दिनांक 14.07.2020
परवाणू में कन्टेनमेंट जोन से बाहर करने के सम्बन्ध में आदेश

जिला दण्डाधिकारी सोलन केसी चमन ने सोलन उपमण्डल के परवाणू के कुछ क्षेत्रों को कन्टेनमेंट जोन से बाहर करने के सम्बन्ध में आदेश जारी किए हैं। यह आदेश कार्यकारी दण्डाधिकारी एवं सहायक आयुक्त परवाणू की रिपोर्ट के आधार पर जारी किए गए हैं।
इन आदेशों के अनुसार सोलन जिला की कसौली तहसील के परवाणू की ग्राम पंचायत टकसाल के वार्ड नम्बर-4 उच्चा में स्थित कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास संख्या 124 एवं परिसर, ग्राम पंचायत टकसाल के वार्ड नम्बर 12 में कोरोना संक्रमित रोगी का आवास तथा रमेश हाउस से विजय हाउस तक जाने वाला सम्पर्क मार्ग एवं ग्राम पंचायत कसौली गड़खल के गांव नालवा में कोविड-19 संक्रमित रोगी का आवास, इसके साथ लगते 03 आवास एवं इन घरों को जाने वाले सम्पर्क मार्ग को कन्टेनमेंट जोन की परिधि से बाहर कर दिया गया है।
इन क्षेत्रों में अब 06 जुलाई 2020 को जारी आदेशों द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों को हटा दिया गया है। इन क्षेत्रों में 05 जुलाई, 2020 को जारी आदेश लागू होंगे।
यह निर्णय कार्यकारी दण्डाधिकारी एवं सहायक आयुक्त परवाणू की उस रिपोर्ट के आधार पर लिया गया है जिसमें सूचित किया गया है कि उक्त क्षेत्रों में सघन जांच एवं परीक्षणों के उपरांत कोविड-19 महामारी का कोई नया मामला नहीं पाया गया हैै
यह आदेश तुरंत प्रभाव से प्रभावी हो गए हैं।

====================================

सोलन -दिनांक 14.07.2020
नालागढ़ में कन्टेनमेंट जोन से बाहर करने के सम्बन्ध में आदेश

जिला दण्डाधिकारी सोलन केसी चमन ने उपमंडलाधिकारी नालागढ़ की रिपोर्ट के आधार पर नालागढ़ उपमण्डल में 02 जुलाई, 2020 को अधिसूचित कन्टेनमेंट जोन के क्षेत्रों के सम्बन्ध मंे आदेश जारी किए हैं।
इन आदेशों के अनुसार ग्राम पंचायत गुल्लरवाला के वार्ड नम्बर 7 गांव कड़ूआणा तथा बद्दी स्थित अमरावती सोसायटी के जेस्मीन टावर में स्थित कोविड-19 संक्रमित व्यक्ति के फ्लैट को कन्टेनमेंट जोन की परिधि से बाहर कर दिया गया है।
इन क्षेत्रों में अब 02 जुलाई, 2020 को जारी आदेशों के अनुसार प्रतिबंध लागू नहीं होंगे। इन क्षेत्रों में 05 जुलाई, 2020 को जारी आदेश लागू होंगे।
यह निर्णय उपमंडलाधिकारी नालागढ़ की उस रिपोर्ट के आधार पर लिया गया है जिसमें सूचित किया गया है कि उक्त क्षेत्रों में सघन जांच एवं परीक्षणों के उपरांत कोविड-19 महामारी का कोई नया मामला नहीं पाया गया है।
यह आदेश तुरंत प्रभाव से प्रभावी हो गए हैं।

=======================================
.दैनिक वेतन भोगी आधार पर भरे जाएंगे चतुर्थ श्रेणी के पद
धर्मशाला, 14 जुलाई: पशु स्वास्थ्य/प्रजन्न, कांगड़ा स्थित धर्मशाला के उपनिदेशक डॉ.संजीव कुमार धीमान ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला कांगड़ा में पशु पालन विभाग द्वारा स्तरोन्नत पशु औषधालयों एवं नये खोले गये पशु औषधालय/रिक्त पड़े चतुर्थ श्रेणी के 50 पदों को दैनिक वेतन भोगी आधार पर भरा जाना है।
उन्होंने बताया कि इन पदों के लिए आवेदन करने की अन्तिम तिथि 25 जुलाई, 2020 तथा जनजातीय क्षेत्र के निवासी आवेदनकर्ताओं के लिए यह समय सीमा 10 अगस्त, 2020 निर्धारित की गई है।
गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण(कोविड-19) के कारण आवेदनों की प्राप्ति पर रोक लगा दी गई थी।