चण्डीगढ, 26 जून - हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि संत महात्माओं की वाणी व शिक्षाएं समाज को जोड़ने का कार्य करती है इसलिए हमें अपने जीवन चरित्र में इन शिक्षाओं को अपनाकर प्रचार प्रसार करना चाहिए, इससे देश मजबूत होगा। श्री दत्तात्रेय आज यहां सैक्टर -37 के लाॅ भवन में श्री सदगुरू कबीर जयन्ती समारोह में बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि एक महान कवि के रूप में कबीर जी ने समाज से अज्ञानता को दूर करने हेतू लोगों को सच्चे मानवतावादी होने के लिए प्रेरित किया। कबीर जी ने अपनी वाणी में कहा है कि व्यक्ति को दूसरों की बुराई से पहले स्वयं में झांक कर देखना चाहिए। कबीर जी का भाषा पर अधिकार होने के कारण उनकी कविताओं में भक्ति सहित अनेक रसों का स्पर्श है जो समाज के हर वर्ग का मार्ग दर्शन करता है।
उन्होंने कहा कि कबीर जी ऐसे पहले संत हुए है, जिन्होंने लोगों को व्यावहारिक जीवन शैली की भी शिक्षा दी। जुलाहे के तौर पर कपड़े बुनने का कार्य करते हुए न केवल परिवार का पालन-पोषण किया बल्कि विभिन्न संप्रदायों, जातियों और विभिन्न मतों को मानने वाले लोगों को एकता के सूत्र में पिरोने का कार्य किया।
श्री दत्तात्रेय ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी, कबीर जी व महान सन्तों के बताए मार्ग का अनुसरण करते हुए सबका साथ, सबका विकास की विचारधारा पर कार्य कर रहे है। साथ ही महिलाओं के सशक्तिकरण की अनेक योजनाएं क्रियान्वित की जा रही है, जिससे आज महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है। इसके लिए हरियाणा सरकार द्वारा भी सभी क्षेत्रों एवं वर्गों का समान विकास करवाने के लिए अनेक योजनाएं संचालित है। अनुसूचित जाति और पिछड़े वर्ग के उत्थान व उन्हें समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए भी अनेक कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं।
राज्यपाल ने कहा कि हरियाणा सरकार ने अनुसूचित जाति वर्ग की लड़कियों की शादी में विभिन्न श्रेणियों की कन्यादान राशि इक्तीस (31) से इकहतर (71) हजार रूपए तक करने का प्रावधान किया है। इसके साथ ही अनुसूचित जाति और विमुक्त/टपरीवास के लोगों के लिए आवास नवीनीकरण योजना के लिए सहायता राशि बढ़ाकर 80,000 रुपये की गई। इस अवसर पर उन्होंने हरियाणा सरकार की सराहना की और स्वैच्छिक कोष से श्री सदगुरू कबीर महा सभा, चण्डीगढ को पाॅंच लाख रूप देने की घोषणा की।
समारोह की अध्यक्षता करते हुए हरियाणा के राज्यमंत्री श्री अनूप धानक ने कहा कि प्रदेश सरकार हर वर्ग के विकास व कल्याण के लिए कृतसंकल्प है। गरीब वर्ग के लोग सरकार की योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सभी महापुरुषों के जन्मदिन राज्कीय स्तर पर बनाए जा रहे है । इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री हरियाणा को बधाई दी।
इस अवसर पर राजभवन में कार्यरत संयुक्त सचिव श्री अमरजीत सोलंकी ने राज्यपाल का स्वागत किया। मंच संचालन का कार्य बहुत ही सफलता पूर्वक प्रो0 जयनारायण ने किया। कार्यक्रम में चंडीगढ़ मेयर श्रीमती सरबजीत कौर, हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के सदस्य श्री सत्यवान शेरा, श्री संजय टंडन, श्री धर्मबीर, आई.ए.एस, श्री मुकेश सोलंकी, सद्गुरू कबीर महासभा के प्रधान श्री सुरजीत सिंह फौजी व अन्य सभा के पदाधिकारी व समाज के गणमान्य व्यक्ति तथा श्रद्धालु उपस्थित थे।