बिलासपुर 22 सितम्बर:- जिला आपादा प्रबंधन हिमाचल प्रदेश के उपाध्यक्ष रणधीर शर्मा ने मत्स्य विभाग जगातखाना में 400 मछुआरों की सुरक्षा के लिए लाईफ जैकेट का वितरण किया। उन्होंने बताया कि मछुआरों को बरसात में मच्छली पकड़ने में आने वाली कठिनाओं को दूर करने के लिए लाईफ जैकेट प्रदान किए गए है ताकि मछुआरें बरसात के दिनों में भी मच्छली पकड़ सके।
इस अवसर पर उन्होंने दो मछुआरों को इंसुलेटिड बाॅक्स वाली मोटर साइकिल सामान्य जाति को 40 प्रतिशत अनुदान राशि तथा अनुसूचित जाति को 60 प्रतिशत अनुदान सहायता राशि देकर वितरित की।
इसके अतिरिक्त उन्होंने एक मछुआरें को 20 लाख रुपये की लागत वाली इंसुलेटिक व्हीकल 60 प्रतिशत अनुदान राशि उपलब्ध करवाकर वितरित की।
उन्होंने बताया कि जिला बिलासपुर में जलाशय में कार्यरत मछुआरों को किस्ती, गिल जाल व अन्य उपकरण उपलब्ध करवाने हेतु वर्ष 2020-21 में प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के अंतर्गत 2 लाख रुपये का प्रावधान है जिसमें सामान्य जाति के मछुआरों को 40 प्रतिशत की दर से 80 हजार रुपये व अनुसूचित जाति व महिलाओं को 60 प्रतिशत की दर से 1 लाख 20 हजार रुपये का अनुदान प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत गोविन्दसागर व कोलबांध जलाशय के 237 मछुआरों को लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मत्स्य कृषकों को नए तालाब के निर्माण हेतु प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के अंतर्गत वर्ष 2020-21 में 1.5 हैक्टेयर तालाबों का निर्माण किया जाना लक्षित है।
जिला परिषद सदस्य मान सिंह, पंचायत उप प्रधान रुप लाल, बीडीसी सदस्य बबली देवी, मत्स्य अधिकारी संदीप कुमार, अजय कुमार सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
.0.