हिसार, 5 मार्च: ऐलनाबाद के पूर्व विधायक एवं इनेलो के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने कहा कि उनकी रगों में चौधरी देवी लाल का खून है और वे उनके ही नक्शेकदम पर चलकर किसानों के हितों के लिए कोई भी कुर्बानी देने को तैयार हैं।
इनेलो प्रधान महासचिव शुक्रवार को हिसार कोर्ट कॉम्पलैक्स में जिला बार एसोसिएशन द्वारा किसान आंदोलन के समर्थन में दिए जा रहे सांकेतिक धरना का समर्थन करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने धरना पर बैठे वकीलों को संबोधित करते हुए कहा कि आज किसान आंदोलन ‘जन आंदोलन’ बन चुका है और भाजपा सरकार इस आंदोलन को लेकर जिस प्रकार का रवैया अपनाए हुए है वह लोकतांत्रिक प्रणाली में कभी भी जायज नहीं हठराया जा सकता। उन्होंने कहा कि किसानों के खिलाफ कांग्रेस-भाजपा एक हो गए हैं।
इनेलो प्रधान महासचिव ने कहा कि आज समाज का हर वर्ग किसान आंदोलन के समर्थन में खुल कर आगे आ रहा है। जिला बार एसोसिएशन ने जिस प्रकार से किसान आंदोलन के समर्थन में सांकेतिक धरना शुरू किया हुआ है वह बहुत ही सराहनीय है। उन्होंने कहा कि उनके सामने केवल दो ही विकल्प थे जिसमें पहला, उनके पास हरियाणा विधानसभा का सदस्य बने रहने और दूसरा किसानों के हितों के लिए अपनी सुविधाओं को त्यागना और उन्होंने चौधरी देवी लाल की राह पर चलते हुए अपने पद से इस्तीफा दिया। उन्होंने किसानों से आह्वान किया कि किसान आंदोलन को कमजोर करने की मंशा रखने वाले लोगों के मुंह पर तमाचा मारते हुए किसान आंदोलन को पहले से भी कहीं अधिक मजबूत बनाएं।
इनेलो नेता ने कहा कि कुछ लोग किसान आंदोलन के नाम पर राजनीति करते हुए केवल पगड़ी का रंग बदलने का काम कर रहे हैं। उनकी असलियत अब जनता व किसान समझ चुके हैं। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि भूपेन्द्र हुड्डा सौ प्रतिशत कांग्रेस छोड़ेंगे। इसीलिए उनकी पगड़ी का रंग बदल गया है। कांग्रेस की परम्परा रही है कि हर मुख्यमंत्री ने बाद में अपनी नई पार्टी बनाई जैसे बिरेन्द्र सिंह, बंसीलाल या भजनलाल ने बनाई थी वैसे ही भूपेन्द्र हुड्डा भी बनाएंगे।