समगौली, 20 सितम्बर- निरंकारी सत्गुरू माता सुदीकशा जी महाराज के आशीर्वाद के साथ संत निरंकारी मिशन की शाखा संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन की और से आज कोविड -19 के चलते गाँव समगौली में स्थित संत निरंकारी सतिसंग भवन में दूसरे रक्तदान कैंप का आयोजन किया गया, इस कैम्प में 130 श्रद्धालुओं,के साथ गाँवों के लोगों ने शामिल हो कर रक्तदान किया। इस रक्तदान कैंप का उद्घाटन डेराबस्सी म्युनिसिपल कौंसिल के ऐक्सियन इंज: गुरप्रताप सिंह जी ने किया। इस मौके उन्होंने कहा कि निरंकारी मिशन ने कोविड -19 की महामारी दौरान इलाको में समाज भलाई के लिए बहुत बढ़िया काम किये हैं, जो कि बहुत ही शलाघयोग हैं। विशेश तौर पर पहुँचे चण्डीगढ़ क्षेत्र के क्षेत्रीय संचालक श्री आत्म प्रकाश जी ने कहा कि संत निरंकारी मिशन ने covid -19 के इस दौर में आज रक्तदान कैम्प का आयोजन निरंकारी मिशन की तरफ से किये जा रहे अलग अलग कार्यों में वृद्धि का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि निरंकारी मिशन का मुख्य उदेश एक प्रभु परमात्मा की जानकारी करवा कर मनुष्य जन्म के असली मंतव्य को पूरा करना है। सत्गुरू माता सुदिक्षा जी महाराज की रहनुमाई में आज मिशन अध्यात्म जागृति के साथ साथ जीवन जाँच भी सिखा रहा है।

इस कैम्प में सरकारी मल्टी स्पेशिलिटी हस्पताल, सैक्टर 16, चण्डीगढ़ की 10 सदस्यता टीम ने डा. सिमरजीत कौर गिल के नेतृत्व में रक्त एकत्रित किया।
मास्टर गुरनाम सिंह, प्रमुख समगौली ने इस शुभ अवसर पर पहुँचे मुख्य मेहमान इंज: गुरप्रताप सिंह जी, गणमान्य सज्जनों, डाक्टरों की टीम और रक्तदानीयों का धन्यवाद किया और कहा कि सन 1986 में बाबा हरदेव सिंह जी महाराज द्वारा चलाए गए रक्तदान कैंप के साथ आज संत निरंकारी मिशन पूरे संसार में रक्तदान करने में प्रथम स्थान पर है। संत निरंकारी मिशन द्वारा अनेकों तरह के समाज भलाई के कार्य किये जाते हैं, जिन में पौधा रोपण, सफ़ाई अभियान और रक्तदान कैंप मुख्य हैं।
इस रक्तदान कैंप में पास के गाँवों के सरपंच, पंच और गणमान्य सज्जनों साथ साथ प्रमुख और सेवादल के संचालक उपस्थित थे।
इस कैम्प में सोशल डिस्टैंसिंग और सैनेटाईजेशन का विशेश ध्यान रखा गया।