हमीरपुर 25 फरवरी।  स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री विपिन सिंह परमार ने आज बड़सर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत गलू में प्राईवेट अस्पताल रोशनी का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि इस निजी अस्पताल के खुलने से क्षेत्र के साथ बिलासपुर तथा ऊना जिला के लोगों को स्वास्थ्य की बेहतर सुविधाएं उपलब्ध होगी। उन्होंन बताया कि अस्पताल में विशेषकर हडिडयों के रोगियों तथा ववासीर से ग्रस्त रोगियों के इलाज की सुविधा उपलब्ध होगी। उन्होंने इस अस्पताल के प्रबंधक बिधि चंद  तथा उनकी पूरी टीम को बधाई दी तथा कहा कि जिस प्रकार अस्पताल का नाम रोशनी रखा गया है उसी के  अनुरूप अस्पताल  के चिकित्सक लोगों का बेहतर ढंग से  उपचार कर उनके जीवन में रोशनी लाएंगे। 
        उन्होंने कहा कि  प्रदेश सरकार द्वारा लोगों को घर द्वार पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने के मकसद से विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में एमबीबीएस डॉक्टरों के 200 पदों तथा 1400 पैरा मैडीकल स्टाफ के खाली पदों को भरा जा रहा है।  उन्होंने कहा कि इसी प्रकार आयुर्वेदिक औषधालयों में  भी चिकित्सकों के 200 पदों को 50-50  प्रतिशत  वरिष्ठता तथा हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग के माध्यम से भरा जाएगा।  उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा प्रत्येक  विभाग को जन कल्याणकारी  योजनाओं को प्रभावशाली तरीके से लागू कर  उनका लाभ आमजन तक पहुंचाने तथा अन्य विकास कार्यों के लिए 100 दिन का लक्ष्य निर्धारित किया है जिसे पूरा करने के लिए विभाग प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि हमीरपुर में मैडीकल कालेज में इसी सत्र से कक्षाएं शुरू कर दी जाएगी। 
            स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि विभाग शिमला में हैल्पलाईन सेवा शुरू  करने जा रहा है जिसके माध्यम से लोगों की समस्याओं का तुरंत निपटारा किया जाएगा।  उन्होंने कहा कि अढ़ाई लाख परिवारों को यूनिवर्सल हैल्थ प्रोटैक्शन प्रो्रगाम के अंतर्गत लाकर प्रत्येक परिवार के पांच सदस्यों को स्वास्थ्य बीमा सुविधा के अंतर्गत लाभ प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि पहले  योजना के तहत बीमा केवल  सीएमओ कार्यालय जिला मुख्यालय पर ही बनाए जाते थे परंतु अब ये सुविधा लोगों को तहसील मुख्यालय पर भी उपलब्ध करवा दी जाएगी जिससे उनका धन तथा समय की बचत होगी। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नडडा का मदर चायलड अस्पताल के लिए धन का प्रावधान करने के लिए भी आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर  मुख्यातिथि ने हिमाचली पहाड़ी एवं हिन्दी कवि तथा साहित्यकार  अजीत दीवान नारंग द्वारा रचित कविता संगह अलवेला कवि अजीत दीवान नारंग का विमोचन भी किया। इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने बड़सर विश्राम गृह में लोगों की समस्याएं सुनीं तथा अधिकतर समस्याओं का मौके पर निपटारा किया। 
          बड़सर विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक बलदेव शर्मा ने भी मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा बड़सर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में 7 डॉक्टरों के खाली पदों को भरने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि  अब क्षेत्र के  लोगों को निश्चित रूप से  घर द्वार पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होंगी। 
            रोशनी अस्पताल के हडडी रोग विशेषज्ञ डा0 कुलदीप कुमार ने  स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार का स्वागत किया तथा उन्हें शॉल, टोपी तथा बाबा बालकनाथ जी की फोटो भेंट कर सम्मानित किया। उन्होंंने बताया कि यह अस्पताल पिछले नौ वर्ष से लोगों को अपनी सेवाएं दे रहा है तथा अब इसका अपना भवन बनने पर जिला हमीरपुर, ऊना तथा बिलासपुर के लोगों को  और भी बेहतर ढंग से  स्वास्थ्य उपचार की सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी।   रोशनी अस्पताल परिसर में हडिडयों के रोगियों के लिए निशुल्क मैडीकल चैक अप कैंप का भी आयोजन किया गया।   
    इस अवसर पर नादौन विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक विजय अग्रिहोत्री, मंडल अध्यक्ष कुलदीप ठाकुर, एसडीएम विशाल शर्मा, अस्पताल के प्रबंधक बिधि चंद, डा0 प्रदीप कुमार, डा0 भानू, डा0 जितेन्द्र , डा0 दीपशिखा,सीएमओ डा0 सावित्री कटवाल के अतिरिक्त पार्टी के पदाधिकारी, कार्यकर्ता तथा अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।