हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने रविवार को स्थानीय हयात होटल में गान्धी-मण्डेला फाउण्डेशन द्वारा अयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल को प्रदेश में सकारात्मक बदलाव व ‘गुड गवर्नेस‘ के लिए ‘‘चैम्पियन ऑफ चेंज‘‘ अवार्ड से समानित कर बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

चण्डीगढ़ 02 अक्तूबर- हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने रविवार को स्थानीय हयात होटल में गान्धी-मण्डेला फाउण्डेशन द्वारा अयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल को प्रदेश में सकारात्मक बदलाव व ‘गुड गवर्नेस‘ के लिए ‘‘चैम्पियन ऑफ चेंज‘‘ अवार्ड से समानित कर बधाई एवं शुभकामनाएं दी।
इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों के श्रेष्ठ कार्य कर बदलाव लाने वाली हरियाणा की विभिुतियों को भी समान्नित किया। इनमें राज्यसभा सांसद, कार्तिकेय शर्मा, कंवल सिहं चौहान, महाबीर फौगाट, बबीता फौगाट, नीरज चौपड़ा, वीरेन्द्र सहवाग, सुमित अन्तिल, दीपा मलिक, नीतु घनघस, रीचा शर्मा, यशपाल शर्मा, मूर्ति देवी, राहूल केल, रितेश रावल, रूपेश पाण्डे, करनैल सिहॅं चीमा, डॉ गायत्री वासुदेवन, प्रदीप मोहन्ती, नौकशम चौधरी, सुनील बंसल, लै0 कर्नल रंदीप हूंडल सहित डॉ एस.वी.अंचना शामिल हैं। उन्होंने इन सभी अवार्डी को शुभकामनाएं दी।
उन्होंने कहा बदलाव के सबसे बड़े चैम्पियन हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी हैं, जिन्होंने देश को नई ऊचाईयों पर पहुंचाया है। प्रधानमंत्री जी के प्यार-प्रेम और आशीर्वाद से ही हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल जी ने प्रदेश में प्रर्वतक की भूमिका निभाई है। इन्होंने प्रदेश में सुशासन स्थापित कर एक नए युग की शुरूआत की है और आज प्रवर्तक के रूप में इन्हें सम्मान मिला है।
उन्होंनें कहा मुख्यमंत्री जी का यह कदम पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी के अंत्योदय के सपने को साकार करने वाला कदम सिद्ध हुआ है। श्री मनोहर लाल जी के राजनैतिक नेतृत्व में हरियाणा सरकार इसी माह आठ साल पूरे करने जा रही है। इन आठ सालों में प्रदेश में जो प्रगति हुई है वह अपने आप में अभूतपूर्व है। आज खेल, सैन्य, औद्योगिक उत्पादन, कृषि, डेयरी, समाज कल्याण, ढांचागत सुविधाओं के मामले में राष्ट्रीय स्तर पर हरियाणा का डंका बज रहा है। मेरी आपसे अपील है कि आप प्रदेश में नशे जैसी बुराई को उखाड़ फैकने मे काम करेगें, जिससे हमारा एक आदर्श समाज बनेगा। आप सभी समाज के लिए आदर्श है इसलिए अपने क्षेत्र में लोगों को बदलाव के लिए प्रेरित करें।
समारोह में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने सभी अवार्डीज को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जीवन में बदलाव समाज के लिए कारगर होते हैं। कुछ लोग मेहनत के बलबुते पर चैम्पियन हो जाते है और समाज को नेतृत्व प्रदान करते है। उन्होंने कहा कि कृषि के क्षेत्र में हमने 500 प्रगतिशील किसानों को चुना है। उनसे अपील की है कि 10-10 किसानों को प्रगतिशील किसानों की श्रेणी में शामिल करें।
उन्होंने कहा कि पिछले आठ वर्षो में हरियाणा में हुए क्षेत्र में सकारात्मक बदलाव आए है। प्रदेश में कई ऐसी योजनाएं क्रियान्वित की गई है। जिन्हें केन्द्र में राष्ट्रीय स्तर पर संचालित किया गया है। आज हरियाणा विकास के मामले में देश के विकसित राज्यों में प्रथम पंक्ति में शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जीवन में परिवर्तन अनिवार्य है। इसलिए अच्छे के लिए परिवर्तन लाएं जो जीवन में समयनुसार परिवर्तन लाए वहीं असली योद्धा होता है और देश व समाज को नई दिशा दे सकता है।
इस अवसर पर राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय व मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने गरीब बच्चों के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए स्वास्थ्य वैन को भी हरी झण्डी देकर रवाना किया। समारेह में जस्टिस के.जी. बालाकृष्णन ने वर्चुअल रूप से सम्बोधित किया तथा श्री नंदन झा व श्री श्याम जाजू जी ने भी अपने विचार और फाउंडेशन की गतिविधियॉं के बारे विस्तार पूर्वक बताया।

==========================

हरियाणा के राज्यपाल ने अश्विन नवरात्र के सातवें दिन श्री माता मनसा देवी मंदिर में पूजा-अर्चना कर लिया माता का आर्शीवाद
- राज्यपाल ने की प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि की कामना
चंडीगढ, 2 अक्तूबर-हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने आज अश्विन नवरात्र के सातवें दिन श्री माता मनसा देवी पंचकूूला में महामाई के दरबार में माथा टेका व विधिवत पूजा-अर्चना कर माता का आशीर्वाद लिया।
श्री दत्तात्रेय ने प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि की कामना की और कहा कि माता रानी की कृप्या दृष्टि परिवार, समाज व प्रदेशवासियों पर बनी रहे। उन्होंने कहा कि समाज के लोगों की परस्पर एकता व भाईचारे से देश शक्तिशाली बनता है। उन्होंने राष्ट्रीय पिता महात्मा गांधी व पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री के जन्म दिन की प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें देते हुये कहा कि महात्मा गांधी ने देश के लिये अहिंसा के सिद्धांत पर चलते हुये भारत को आजाद करवाने के लिये महत्वपूर्ण योगदान दिया। उन्होंने हमेशा शांति व सत्य के रास्ते को चुना। वे आज देश व दुनिया में महान व्यक्तित्व के रूप में जाने जाते है।
इस मौके पर उपायुक्त एवं श्री माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य प्रशासक श्री महावीर कौशिक ने राज्यपाल को माता मनसा देवी का चित्र भेंट किया।
इस अवसर पर गेल की पूर्व निदेशक श्रीमती बंतो कटारिया, श्री माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अशोक कुमार बंसल, सचिव शारदा प्रजापति तथा श्रीमाता मनसा देवी बोर्ड के गैर सरकारी सदस्य नरेंद्र जैन और हरबंस सिंगला भी उपस्थित थे।
===================================

हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी व पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री लाल बहादूर शास्त्री जी की जयंती अवसर पर रविवार को राजभवन में दोनों महापुरूषों को नमन करते हुए कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव में महापुरूषों को याद करना हर भारतवासी के लिए गर्व है।

चण्डीगढ़, 02 अक्तूबर - हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी व पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री लाल बहादूर शास्त्री जी की जयंती अवसर पर रविवार को राजभवन में दोनों महापुरूषों को नमन करते हुए कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव में महापुरूषों को याद करना हर भारतवासी के लिए गर्व है। इन्हीं महापुरूषों की बदौलत देश को स्वतत्रता प्राप्त हुई। उन्होंने दोनों विभुतियों के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी।

राज्यपाल श्री दत्तात्रेय ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने सर्वधर्म, समन्वय, सत्य, अहिंसा का पाठ पढ़ाते हुए देश को एकसूत्र मे पिरोकर आजादी दिलाई। उन्होंने महात्मा बुद्ध के बताए सत्य-अहिंसा के रास्ते पर चलते हुए मानवता को शांति का संदेश दिया। इसके साथ-साथ देश को मजबूती प्रदान करने के लिए गांधी जी ने कई आंदोलन चलाए।
उन्होंने कहा कि देश के द्वितीय प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री ने देश की स्वायत्तता और आत्मनिर्भरता का जो कार्य किया उसी की बदौलत आज भारतवर्ष न केवल सुरक्षा व खाद्यान्न की दृष्टि से आत्मनिर्भर है, बल्कि अन्य देशों को अनाज निर्यात करने व उन्हें सुरक्षा देने में सक्षम है। शास्त्री जी ने जय जवान-जय किसान का नारा देकर देश में हरित क्रांति को आगे बढ़ाया। उन्होनें बहुत कम कार्यकाल में ही देश की प्रगति में चार-चांद लगाए।
राज्यपाल श्री दत्तात्रेय ने गांधी व शास्त्री जी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि अनेक महापुरूषों ने गांधी जी को आदर्श मानकर उनके जैसा जीवन जीया। जब हम इन दोनों महापुरुषों का विचार करते हैं तो हमें ज्ञान होता है कि भारत कैसा होना चाहिए। गांधी जी ऐसा भारत चाहते थे जिसमें सभी समुदायों में समभाव हो, अस्पृश्यता कहीं देखने को न मिले, जीवन में स्वच्छता हो और महिलाओं व पुरूषों को समान अधिकार मिलें और देश समृद्ध, खुशहाल एवं स्वस्थ हो। भारत हर क्षेत्र में आत्मनिर्भर बने।
उन्होंने कहा है कि पूरा देश दोनों महान विभूतियों की जयंती पर्व के रूप में मना रहा है। इस अवसर पर उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वें प्रण ले कि वह अनुशासन में रहे और एकता के सूत्र में बंध कर देश व प्रदेश की तरक्की के लिए कार्य करें तभी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और श्री लाल बहादुर शास्त्री को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।
कैप्शन- 2 हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय रविवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी व पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री लाल बहादूर शास्त्री जी की जयंती अवसर पर नमन करते हुए।