ऊना, 25 सितंबर - कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत सिंहाणा में किसानों के लिए आज एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता ग्रामीण विकास पंचायती राज, कृषि मत्स्य एवं पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने की।
अपने संबोधन में वीरेंद्र कंवर ने कहा कि जिला ऊना व हमीरपुर में किसानों की आय को बढ़ाने के लिए जल्द ही दालचीनी की खेती शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा कि इसका शुभारंभ जल्द ही तनोह से किया जाएगा। उन्होने कहा कि किसानों को अपनी आय बढ़ाने के लिए मिश्रित खेती की ओर जाना होगा। खेती के साथ-साथ पशुपालन तथा मत्स्य पालन जैसी गतिविधियों के साथ जुड़ना होगा। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा प्रदेश सरकार प्राकृतिक खेती को बढ़ावा दे रही है ताकि जहर मुक्त खेती को हिमाचल प्रदेश में समाप्त किया जा सके। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में सरकार बनने के बाद अब तक 1 लाख 20 हजार किसानों को प्राकृतिक खेती के साथ जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि किसानों को अच्छी नस्ल के पशु पालने चाहिए ताकि उन्हें अधिक लाभ मिल सके।
कृषि मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार एफपीओ के माध्यम से किसानों को लाभान्वित करने का प्रयास कर रही है ताकि उन्हें अपने उत्पादों के बेहतर दाम मिल सके। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। यहां घरवासड़ा तथा पीपलू मैं पैराग्लाइडिंग खेलों को संचालित करने की अनुमति मिल गई है। इसके अलावा गोविंद सागर झील में वॉटर स्पोर्ट्स गतिविधियों का ट्रायल सफल रहा है। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि सोलहसिंगी धार के छोटे व बड़े किलों को आपस में जोड़ने के लिए वन विभाग को पांच लाख की धनराशि दी गई है। उन्होंने कहा कि राधा स्वामी सत्संग केंद्र तक जाने वाले लिंक रोड के लिए भी 11 लाख रुपए प्रदान किए गए हैं। कंवर ने कहा कि बरसात में हुए नुकसान के चलते यहां पर 14 डंगे तथा 5 पशुशालाएं बनाने को स्वीकृति मिली है। उन्होंने कहा यहां पेयजल की समस्या को समाप्त करने के लिए पुरानी लाइनें बदलने के लिए 10 लाख रुपए का एस्टीमेट बनाया गया है। इसके लिए धन स्वीकृत कर दिया गया है। उन्होंने घोषणा की कि स्थानीय स्कूल में 9 कमरे बनाए जाएंगे। इसके अलावा उन्होंने स्कूल में बैडमिंटन कोर्ट व खेल के मैदान के निर्माण के लिए चार लाख की धनराशि स्वीकृत की।
शहीद अजय के नाम पर बनेगा द्वार
अपने संबोधन में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि कारगिल में शहीद हुए अजय कुमार की याद में दो लाख की लागत से एक भव्य द्वार बनाया जाएगा।
इस अवसर पर एसडीएम विशाल शर्मा, बीडीओ बंगाणा यशपाल सिंह परमार, उप निदेशक कृषि डॉ. अतुल डोगरा, डाॅ. सत्येंद्र ठाकुर सहित स्थानीय पंचायत के प्रतिनिधि तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।