चंडीगढ़, 9 दिसम्बर: इनेलो के प्रधान महासचिव एवं ऐलनाबाद के विधायक अभय सिंह चौटाला ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस को जनता ने हाल ही में हरियाणा में हुए निकाय, पंचायत और जिला परिषद चुनावों समेत हिमाचल, गुजरात और यूपी में संपन्न हुए चुनावों और उप-चुनाव में आइना दिखा दिया है। जहां हिमाचल के विधान सभा चुनाव और दिल्ली में एमसीडी चुनाव में भाजपा के गढ़ डह गए वहीं कांग्रेस का भी दिल्ली एमसीडी और गुजरात में सूपड़ा साफ हो गया। यूपी में हुए उपचुनाव में भी भाजपा और कांग्रेस को मुंह की खानी पड़ी है।
अभय सिंह चौटाला ने कहा कि भाजपा को हिमाचल, दिल्ली और यूपी में जनता द्वारा चुनावों में हराना यह साफ करता है कि अब भाजपा के झूठे राष्ट्रवाद, धार्मिक भावनाओं को भडक़ाने और जात-पात के नाम पर फूट डालने वाली राजनीति को लोग समझ चुके हैं। तीन काले कृषि कानूनोंं के खिलाफ आंदोलन कर रहे साढे सात सौ किसान शहीद हो गए और भाजपा को कृषि कानून वापिस करना पड़ा। भाजपा ने वायदा किया था कि आंदोलन कर रहे किसानों के ऊपर दर्ज मुकदमे वापिस लिए जाएंगे और उनकी फसलें एमएसपी पर खरीदी जाएंगी लेकिन भाजपा सरकार ने अपना यह वायदा आज तक पूरा नहीं किया। इसी का ही परिणाम है कि किसानों ने हाल ही में सम्पन्न हुए चुनावों में भाजपा को हराकर करारा जवाब दिया।
उन्होंने कहा कि अब जनता चुनावों में रोजगार, विकास और महंगाई जैसे जनहित से जुड़े मुद्दों को प्राथमिकता देगी। जहां कांग्रेस भाजपा की बी टीम बनकर रह गई है वहीं इनेलो ने हमेशा किसान, कमेरे और छोटे व्यापारियों की आवाज बुलंद की है और प्रदेश में विकास, रोजगार, खराब हुई कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य और महंगाई जैसे जनहित के मुद्दों को जनता के बीच और विधान सभा में प्राथमिकता से उठाया है।
इनेलो नेता ने कहा कि आज किसानों को उसकी फसल के उचित दामों के लिए स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करना और उनकी फसलों के लिए एमएसपी निर्धारित करना, कर्मचारियों के लिए ‘ओल्ड पेंशन स्कीम’ लागू करना और युवा विरोधी अग्रिपथ योजना को खत्म करना, भाजपा सरकार द्वारा बंद किए गए स्कूलों को पुन: खोलना, अच्छी और मुफ्त शिक्षा देना, अच्छे और आधुनिक अस्पताल मुहैया करवाना, प्रदेश की बिगड़ी हुई कानून व्यवस्था को सुधारना, भाजपा सरकार द्वारा काटी गई बुढापा पेंंशन को बहाल करना, योग्य बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी देना ही इनेलो की प्राथमिकता है जिसे लेकर 2024 के विधान सभा चुनावों में उतरेंगे और जनता हमारी बातों पर मुहर लगाकर प्रदेश में इनेलो की सरकार बनाएगी।