जिला कांगड़ा में मतगणना को लेकर अधिकारियों ने किया पूर्वाभ्यास

धर्मशाला, 03 दिसम्बर: हिमाचल विधानसभा निर्वाचन के तहत कांगड़ा जिले के सभी 15 विधानसभा क्षेत्रों के वोटों की गिनती के लिए आज शनिवार को मतगणना कार्य में लगे मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक तथा माइक्रो ऑब्जर्वरों को मतगणना का पूर्वाभ्यास करवाया गया। राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज कांगड़ा में उपायुक्त कांगड़ा डॉ. निपुण जिंदल और राजकीय डिग्री कॉलेज धर्मशाला के त्रिगर्त सभागार में अतिरिक्त उपायुक्त गंधर्वा राठौड़ की उपस्थिति में मतगणना का पूर्वाभ्यास सम्पन्न हुआ। बता दें, पॉलटेक्निक कॉलेज कांगड़ा में डाकमतपत्र की गिनती में लगे कर्मचारियों और धर्मशाला कॉलेज सभागार में ईवीएम द्वारा मतगणना में लगे कर्मचारियों की रिहर्सल करवाई गई। जिले में 1100 के करीब निर्वाचन कर्मचारियों को इस दौरान प्रशिक्षण दिया गया।

8 दिसम्बर को पूरी सतर्कता से होगी मतगणना
इस दौरान उपायुक्त कांगड़ा डॉ. निपुण जिंदल ने मतगणना कार्य में लगे सभी अधिकारी-कर्मचारियों को निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों से अवगत कराते हुए उन्हें मतगणना कार्य में विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 8 दिसंबर को सुबह कड़ी सुरक्षा निगरानी में ईवीएम मशीनों को स्ट्रांग रूम से निकालकर बूथ वाईज मतगणना अधिकारियों के टेबल पर पहुंचाई जाएंगी। मतगणना अधिकारी ईवीएम को एजेंटों की उपस्थिति में सबसे पहले कंट्रोल यूनिट सील को चैक कराएंगे। बाद में रिजल्ट का बटन दबाकर उम्मीदवार के नाम सहित मशीन में दर्शाए जाने वाले मतों का रिजल्ट दिखाएंगे।

मतगणना हॉल में मोबाइल व अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण पर प्रतिबंध रहेगा
डॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि मतगणना के दिन यानि 8 दिसंबर को मतगणना हॉल में मोबाइल सहित अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण ले जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कोई भी अधिकारी, कर्मचारी, पार्टी के उम्मीदवार, एजैंट, आदि मतगणना हॉल में अपने साथ मोबाइल व कोई अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण साथ नहीं ले जा सकेंगे।

दूसरी रिहर्सल 7 दिसंबर को
उपायुक्त ने बताया कि कांगड़ा जिले में विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर दूसरी मतगणना संबंधी रिहर्सल मतगणना में लगे सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को अपने-अपने उपमंडल में 7 दिसम्बर को करवायी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिला कांगड़ा में मतगणना के लिए कुल 209 टेबल लगाए जाएंगे। जिनमें 161 टेबल ईवीएम और 48 टेबल डाक मतपत्रांे की गिनती के लिए स्थापित होंगे।
अधिकृत लोगों को ही मिलेगा प्रवेश
उन्होंने बताया कि मतगणना स्थल पर सिर्फ अधिकृत पास धारी व्यक्ति ही प्रवेश पा सकेगें। इसके लिए निर्वाचन कार्यालय द्वारा डियूटी पर तैनात सभी कर्मियों को पास जारी किए जा रहे हैं। मतगणना के प्रत्येक चक्र के बाद निर्वाचन अधिकारी द्वारा उम्मीदवार को प्राप्त मतपत्रों की संख्या की घोषणा की जाएगी।

पीपीटी के माध्यम से समझाई बारीकियां
रिहर्सल के दौरान अतिरिक्त दंडाधिकारी रोहित राठौड़ ने कांगड़ा और नोडल अधिकारी संदीप शर्मा ने धर्मशाला में पीपीटी के माध्यम से मतगणना प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर उन्होंने मतदान अधिकारियों को मतगणना से जुड़ी व्यावहारिक बारीकियों से अवगत करवाया।
पूर्वाभ्यास सत्र के दौरान निर्वाचन नायब तहसीलदार संजय कपूर भी मौजूद रहे।