चंण्डीगढ : से. 26 स्थित ट्रांसपोर्ट चौक पर एयर प्योरीफायर टाॅवर लगाने का काम शुरू हो गया है। ये चौक चंडीगढ़ के सर्वाधिक प्रदूषित स्थलों में से एक है। ये दावा किया जा रहा है कि इस टावर के लगने से इस चौक के आसपास की आबो-हवा साफ़ सुथरी हो जाएगी व लगभग 500 मीटर के दायरे में तापमान भी 5 से 6 डिग्री कम हो जाएगा।

चंण्डीगढ में प्रदूषण और वन विभाग के डायरेक्टर देवेंद्र दलाई (आईएफएस) की मौजूदगी में बसंत पंचमी के रोज यहां भूमि पूजन संपन्न हुआ। पायस एयर प्राईवेट लिमिटेड (Pious Air Pvt. Ltd ) नाम की कंपनी के अधिकारियों मनोज जेना व नितिन आहलुवालिया के मुताबिक ये एयर प्योरीफायर लगभग 24 मीटर ऊंचा टाॅवरनुमा ढांचा होगा जो आसपास के 500 मीटर के दायरे के वातावरण से प्रदूषित वायु को इनटेक करेगा और स्वच्छ वायु बाहर वायुमंडल में छोड़ेगा। इस पर बाकायदा डिस्प्ले भी होगा कि टाॅवर जो हवा अंदर खींच रहा है उसमें प्रदूषण की कितनी मात्रा है व जो हवा बाहर आ रही है वो कितनी शुद्ध है। उन्होंने बताया कि हमने स्थानीय अधिकारियों से एक टाॅवर पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर नि:शुल्क लगाने का प्रस्ताव रखा जिसे उन्होंने मान लिया। इसके रखरखाव का जिम्मा भी उनकी कंपनी का ही होगा। बिजली का ख़र्च प्रशासन वहन करेगा जो कि बेहद मामूली बैठेगा। ये एयर प्योरीफायर टाॅवर अप्रैल अंत तक स्थापित हो जाएगा।

उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट की तमाम लागत के खर्च का वहन कंपनी ही करेगी। प्रशासन केवल इसके लिए लगभग 60 वर्ग मीटर जगह व बिजली मुहैया कराएगा। सकारात्मक नतीजे मिलने पर शहर में अन्य प्रदूषित क्षेत्रों में इन टाॅवर्स को लगाने बारे में योजना बनाई जाएगी।