चण्डीगढ़,26.11.20 : अखिल भारतीय श्री चैतन्य गौड़ीय मठ संस्थान के संस्थापक श्रीमाधव गोस्वामी जी महाराज का 116वां जन्म महोत्सव एवं देव उत्थान एकादशी पर्व मठ मंदिर सेक्टर 20 चंडीगढ़ में हर्षोल्लास विधि विधान से मनाया गया।

मठ मंदिर के प्रवक्ता जयप्रकाश गुप्ता ने बताया कि चैतन्य गौड़ीय मठ, चण्डीगढ़ के प्रबंधक बामन जी महाराज ने अपने संबोधन में भक्तों को कहा कि आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है। पिछले 4 महीनों से चतुर्मास व्रत का देव उठनी एकादशी को समापन हो गया और सबसे प्रसन्नता की बात ये है कि आज ही के दिन चैतन्य गौड़ीय मठ संस्थान के संस्थापक श्रीमाधव गोस्वामी जी महाराज का एक 116वीं जयंती मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि माधव महाराज जी का जन्म कांचन पाड़ा बांग्लादेश में हुआ था लेकिन उन्होंने भारत की चारों दिशाओं उत्तर,दक्षिण, पूरब व पश्चिम में शुद्ध भक्ति के प्रचार केंद्रों की स्थापना की और लाखों लोगों को इस भक्ति आंदोलन में जोड़ के रख दिया।

भजन कर परमधाम भगवान कृष्ण को प्राप्त कर सकता है। भक्तों ने अपने परम गुरु जी की जयंती की खुशी के मौके पर ढोल नगाड़ों के साथ नृत्य-संकीर्तन कर अपने आनंद व हर्षोल्लास को व्यक्त किया। कथा प्रवचन संकीर्तन के पश्चात भक्तों को फलाहार प्रसाद वितरित किया गया।