चंडीगढ़ , 01-10-2020,

भारतीय जनता पार्टी द्वारा मनाए जा रहे देशव्यापी आत्मनिर्भर सप्ताह के तहत चंडीगढ़ भाजपा द्वारा आत्म निर्भर भारत अभियान से जुड़े लाभार्थियों के साथ एक वेबीनार का आयोजन किया गया। जिसको केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने मुख्य रूप से संबोधित किया । तथा सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के उपमहाप्रबंधक बालाचन्दरण, व भारतीय स्टेट बैंक के उप महाप्रबंधक ललित मोहन ने भी संबोधित किया ।

वेबीनार में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद,संगठन महामंत्री दिनेश कुमार, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन, सांसद किरण खेर, पूर्व सांसद सत्यपाल जैन, भाजपा महामंत्री चंद्रशेखर, रामवीर भट्टी , प्रदेश प्रवक्ता कैलाश चंद जैन, धीरेंद्र तायल , गुरप्रीत ढिल्लों, नरेश अरोड़ा, शिप्रा बंसल, गौरव गोयल सहित सभी जिला अध्यक्ष, मोर्चा अध्यक्ष, मंडल अध्यक्षों के अलावा बड़ी संख्या में शहर के व्यापारी , ट्रेड व इंडस्ट्री से जुड़े हुए लोग, स्ट्रीट वेंडर्स व आत्मनिर्भर भारत के तहत लोन लेने वाले लाभार्थि तथा बैंक कर्मी भी जुड़े ।

वेबिनार को सम्बोधित करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि आत्मनिर्भर का सही मतबल तो यह होता है कि कोई भी व्यक्ति, गाँव या देश किसी दूसरे के सहारे या किसी दूसरे पर निर्भर नहीं होकर खुद पर निर्भर रहे। यदि हमारा शहर या देश आत्मनिर्भर रहेगा तो हमें किसी दूसरे देश पर निर्भर नहीं रहना होगा इसी सोच के चलते ओर कारोना महामारी में डांवांडोल हुई देश की अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने हेतु प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आत्म निर्भर भारत अभियान के तहत बीस लाख करोड़ रुपए की राहत पैकेज की घोषणा की है।

अनुराग ठाकुर ने बताया कि प्रधानमंत्री मननीय श्री नरेन्द्र मोदी के दिशानिर्देशों में केंद्र सरकार द्वारा आत्म निर्भर भारत के तहत बीस लाख करोड़ रुपये की राहत दी गयी है| जिसमें श्रमिक / दिहाड़ी मजदूर, किसान, वे लोग जो छोटी-छोटी दुकान लगाते हैं, रेहड़ी-रिक्शा वाले, कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, हमारे लघु-मँझले उद्योग, सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्यम (MSMEs), मध्यम वर्ग के लोग और उच्च वर्ग के सभी लोगों के लिए किसी न किसी प्रकार की राहत दी गई है।

उन्होंने कहा कि इस पैकेज में सूक्ष्म और लघु उद्योगों (एम एस एम ई) के लिए

3 लाख करोड़ रुपए का लोन पैकेज,एमएसएमई सैक्टर में ई-कॉमर्स कोबढ़ावा देने के लिए नए कदम उठाए जाने का फैसला, देश भर में

प्रवासी मजदूर, किसानों और गरीबों के लिए कई घोषणाएँ , देश भर में वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना को लागू किया जाना आदि प्रमुख राहते है।

उन्होंने यह भी बताया कि

केंद्र सरकार देश भर में प्रवासी मजदूरों के लिए अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम लेकर आएगी जिसके तहत प्रवासी मजदूर जहां कहीं भी रहेंगे उन्हें वहीं पर रहने के लिए सस्ते किराये वाले मकान उपलब्ध कराये जाएँगे।

प्रत्येक फेरी वाले (Street Vendors) को दस हजार रुपये प्रत्येक के हिसाब से ऋण के रूप में मदद मिलेगी |

कृषि की आधारिक संरचना को मजबूत बनाने के लिए 1 लाख करोड़ रुपए की मदद दी गयी है।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि इस महामारी के दौरान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई जन धन योजना, आधार और यूपीए अकॉउंट सबसे अधिक महत्वपूर्ण सिद्ध हुए है।

किसानों के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि विपक्षी किसानों को बिना वजह के भड़का रहे हैं जबकि प्रधानमंत्री बार-बार यह आश्वासन दे चुके हैं कि एमएसपी पहले भी थी और आगे भी लागू रहेगी । मंडी व्यवस्था पहले की तरह लागू रहेगी एक और रास्ता किसानों के लिए खोला गया है । जिससे किसानों की आर्थिक व्यवस्था सुधरेगी।

उन्होंने कहा कि खेत किसान के हैं खेत का कहीं कोई समझौता नहीं होगा समझौता केवल खेती का होगा खेत का नहीं।

आत्मनिर्भर भारत स्कीम के तहत बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन वर्कर फंड में 40 हजार करोड़ , उनके स्वास्थ्य के लिए 15 हजार करोड रुपए का प्रावधान किया गया है। जबकि के आठ करोड़ गैस सिलेंडर दिए गए हैं । व्यापारी वर्ग के लिए बहुत सुविधाएं दी गई है ।

केंद्र सरकार ने यह प्रयास किया है कि महामारी के समय भी पैसे की कमी कहीं ना आए इस बात के प्रयास किए हैं । व्यापारियों की लिक्विडिटी बढ़ाने के हर संभव प्रयास किए हैं ताकि व्यापार को बढ़ावा मिले । उन्होंने आशा व्यक्त की कि यह महामारी जल्द समाप्त होगी और आर्थिक व्यवस्था भी सुदृढ़ होगी। उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत उसी हालात में संभव हो पाएगा जब इसमें हर भारतीय अपना योगदान दें। बैंकों को भी कहा कि बैंक भी इस बात का ख्याल रखें कि व्यापारी को किसी प्रकार की दिक्कत ना आए। व्यपारी आगे बढ़ेगा तो देश आगे बढ़ेगा।

इससे पूर्व प्रदेशाध्यक्ष श्री अरुण सूद ने मुख्य अतिथि व अन्य वक्ताओं का स्वागत किया व आत्मनिर्भर भारत के बारे जानकारी दी।

अरुण सूद ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का ऐसा सपना है जिससे हर भारतवासी आत्मनिर्भर बनेगा और हम दूसरों पर निर्भर होना छोड़ देंगे ।

केवल स्वदेशी वस्तुएं ही अपनाएंगे । लोकल पर वोकल भी इसी का हिस्सा है । और सरकार ने प्रत्येक भारतवासी को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हर संभव सहायता देने का बीड़ा उठाया है । उन्होंने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री जी ने अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए आर्थिक पैकेज दिया है जिसके माध्यम से समाज के प्रत्येक वर्ग को अपने पैरों पर खड़ा होने के लिए सहारा मिलेगा।

अरुण सूद ने लॉकडाउन के समय भारतीय जनता पार्टी द्वारा किए गए सेवा के कार्यों का भी उल्लेख किया। सेवा ही संगठन का उद्देश्य लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए राहत कार्यों का ब्यौरा दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की दूरदर्शी सोच की वजह से ही भारत में दुनिया भर के अन्य देशों के मुकाबले मृतकों की संख्या कम है।

इसके लिए प्रधानमंत्री का धन्यवाद , जिनकी बदौलत इस महामारी में भी हम सांस ले पा रहे।