इनेलो सुप्रीमो चौधरी ओमप्रकाश चौटाला, पार्टी महासचिव चौधरी अभय सिंह चौटाला व पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी ने प्रदेशवासियों को 74वें राष्ट्रीय पर्व (स्वतंत्रता दिवस) की शुभ कामनाएं दी

चंडीगढ़, 14 अगस्त: इनेलो सुप्रीमो चौधरी ओमप्रकाश चौटाला, पार्टी महासचिव चौधरी अभय सिंह चौटाला व पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी ने प्रदेशवासियों को 74वें राष्ट्रीय पर्व (स्वतंत्रता दिवस) की शुभ कामनाएं दी। इनेलो नेताओं ने बताया कि यह दिवस हर भारतीय के लिए गर्व का दिन होता है और इस दिन सभी देशवासी उत्साह और देशभक्ति की भावना में डूबे रहते हैं। 15 अगस्त को स्वतंत्रता सेनानियों और देश के लिए कुर्बानी देने वाले सैनिकों के सम्मान के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने प्रदेशवासियों से देश के महान स्वतंत्रता सेनानियों के दिखाए हुए मार्ग पर चलने की मनोकामना की।
===============================================

हिसार, भिवानी व जींद जिलों में स्पेशल गिरदावरी करवा के जल्द से जल्द 30 हजार रुपए प्रति एकड़ के हिसाब से किसानों को मुआवजा दे सरकार : अभय चौटाला

तीन जिलों में बरसात के कारण हुए जल भराव से किसानों को नरमा की फसल का करीब पचास हजार एकड़ में हुआ भारी नुक्सान

चंडीगढ़, 14 अगस्त: इनेलो नेता व विधायक अभय चौटाला नें एक बयान जारी करते हुए कहा कि हिसार, भिवानी व जींद, इन तीन जिलों में बरसात के कारण हुए जलभराव से किसानों क ो नरमा की फसल का करीब पचास हजार एकड़ में भारी नुकसान हुआ है। नरमा की फसल के साथ-साथ गन्ना, बाजरा, ग्वार व धान की फसल को भी इन तीनों जिलों में करीब चौबीस सौ एकड़ में नुकसान हुआ है। प्रदेश की सरकार इसके लिए स्पेशल गिरदावरी करवा के जल्द से जल्द 30 हजार रुपए प्रति एकड़ के हिसाब से किसानों को मुआवजा दे। किसानों के खेतों में लगभग दो फीट के करीब पानी खड़ा हो गया है उसे भी तुरंत प्रभाव से निकालने का इंतजाम सरकार करे।
इनेलो नेता ने कहा कि इंडियन नेशनल लोकदल हमेशा से ही किसान, मजदूर, छोटे व्यापारियों व कर्मचारियों के हकों की लड़ाई लड़ती रही है। जहां कोरोना महामारी के चलते लोकडाउन में दूसरे विपक्ष के लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकले वहीं हमने चाहे किसानों के साथ मंडियों में हुई लूट का मुद्दा हो, धान घोटाले का मुद्दा हो, सरसों की खरीद का घोटाला हो, गेंहू के भुगतान का मुद्दा हो या फि र प्रधानमंत्री फसल बीमा घोटाला हो, इन सभी मुद्दों को पुरजोर ढंग से उठाया।
उन्होंने कहा कि किसान को पहले मंडियों में लूटा गया और अब कुदरत की मार झेलने पर मजबूर है। किसान आज आर्थिक रूप से बुरी तरह टूट चुका है और कर्जे के नीचे दबा हुआ है। प्रदेश की भाजपा गठबंधन सरकार का किसानों के प्रति रवैया कभी भी अच्छा नहीं रहा है। अपने आप को किसान हितैषी बताने वाली सरकार में किसान ठगा सा महसूस कर रहा है।