SOLAN, दिनांक 12.08.2020
नालागढ़ उपमण्डल में विभिन्न क्षेत्र कन्टेनमेंट जोन के दायरे से बाहर

जिला दण्डाधिकारी सोलन के.सी. चमन ने जिला के नालागढ़ उपमण्डल में विभिन्न क्षेत्रों को कन्टेनमेंट जोन की परिधि से बाहर करने के सम्बन्ध में आदेश जारी किए हैं। यह आदेश उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ की रिपोर्ट के आधार पर जारी किए गए हैं।
जिला दण्डाधिकारी ने नालागढ़ उपमण्डल में बसन्ती बाग बद्दी के सम्पूर्ण क्षेत्र, बसन्ती बाग बद्दी में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास नम्बर 143 एवं 143-ए, सब्जी मण्डी बद्दी तथा बद्दी तहसील की ग्राम पंचायत हरिपुर संडोली (खबरियां) में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास, हाऊसिंग बोर्ड काॅलोनी बद्दी के फेस-3, मैसर्ज यूएसवी कॅम्पनी, डीआईसी बद्दी इकाई का पूरे परिसर (उक्त कम्पनी के सभी कर्मियों को उपायुक्त सोलन के आदेशों की अनुपालना में कम्पनी की आईसोलेशन सुविधा में भेजा दिया गया है), ट्रक यूनियन, बाईपास गुग्गा माड़ी मन्दिर से कैनरा बैंक तक के क्षेत्र में सड़क एवं सभी दुकानों, बद्दी तहसील की ग्राम पंचायत हरिपुर संडोली (खबरियां) के वार्ड नम्बर 03 तथा 04, सब्जी मण्डी बद्दी के साथ स्थित क्षेत्र, एचडीएफसी बैंक के समीप बिग-बी परिसर के तीसरे गेट से नई सब्जी मण्डी (मोतिया प्लाजा के समीप) एवं बाईपास तक, बद्दी तहसील के भटोली कलां गांव में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास, बद्दी तहसील के रेहड़ू झिड़िवाला गांव में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास, नालागढ़ तहसील के गांव बैहली, मस्तानपुुरा में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास को कन्टेनमेंट जोन की परिधि से बाहर कर दिया है।
इन आदेशोें के अनुसार नालागढ़ उपमण्डल में एनआरआई चैक से अमरावती सोेसाईटी की सीमा तक हाऊसिंग बोर्ड बद्दी फेस-3 के पूरे क्षेत्र को कवर करते हुए, बद्दी तहसील में शिवालिक नगर, झाड़माजरी, नालागढ़ तहसील के खेड़ा गांव में हंसराज पटवारी की वह काॅलोनी/ आवास जहां कोविड-19 रोगी पाया गया था, आकाश अस्पताल नालागढ़, उप तहसील पंजैहरा के गांव कल्याणपुर, जोघों में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास, अमरावती अपार्टमैंट बद्दी के समीप कोविडड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास नम्बर-14, बसन्ती बाग बद्दी में आवास संख्या-137, बद्दी तहसील के किश्नपुरा गांव में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास/भवन, बद्दी तहसील के कुंजाहल गांव में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास/भवन, बद्दी तहसील के सूरजमाजरा लबाणा, एसबीआई के समीप में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास/भवन, बद्दी तहसील के डोगरांवाला गांव, बरोटीवाला में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास/भवन, बद्दी के भटोलीकलां गांव में यूनिकैम फैक्टरी के समीप स्थित भवन जहां कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी पाया गया था, बद्दी तहसील के थाना गांव में मैसर्ज प्राॅसपैरिटी फारमा तथा भुड (खोल) गावं में मैसर्ज डाॅ. रैड्डी फारमा के पूर्ण परिसर को कन्टेनमेंट जोन की परिधि से बाहर कर दिया गया है।
उक्त सभी क्षेत्रों में लगाए गए प्रतिबन्ध समाप्त कर दिए गए हैं। इन क्षेत्रों में 31 जुलाई, 2020 को जारी आदेश लागू रहेंगे।
======================================
सोलन दिनांक 12.08.2020
नालागढ़ उपमण्डल में सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन में संशोधन के सम्बन्ध में आदेश

जिला दण्डाधिकारी सोलन के.सी. चमन ने जिला के नालागढ़ उपमण्डल में पूव में घोषित सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन में संशोधन के सम्बन्ध में आदेश जारी किए हैं। यह आदेश उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ की रिपोर्ट के आधार पर जारी किए गए हैं।
इन आदेशो के अनुसार समूची सब्जी मण्डी बद्दी (हाल ही में कोविड-19 पाॅजिटिव मामले सामने आने के कारण), शिवालिक नगर, झााड़माजरी, बद्दी (हाल ही में कोविड-19 पाॅजिटिव मामले सामने आने के कारण), हाऊसिंग बोर्ड बद्दी का समूचा फेस-3 (हाल ही में कोविड-19 पाॅजिटिव मामले सामने आने के कारण), बसन्ती बाग बद्दी में केवल कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास तथा बद्दी तहसील की ग्राम पंचायत हरिपुर संडोली (खबरियां) में केवल कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी के आवास को सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन घोषित किया गया है तथा सभी सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन की पूर्ण बाड़बन्दी के आदेश दिए ग्ए हैं।
जिला दण्डाधिकारी ने आपराधिक दण्ड संहिता की धारा 144 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए उक्त सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन में लोगों तथा वाहनों (आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर) की आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगा दिया है।
आदेशों के अनुसार आवश्यक सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रयुक्त अधिकारी एवं कर्मचारी उक्त क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित बनाएंगे। उक्त क्षेत्र में पेयजल तथा बिजली की निर्बाध आपूर्ति भी सुनिश्चित बनाई जाएगी। खण्ड चिकित्सा अधिकारी नालागढ़ क्षेत्र में फ्लू जैसी बीमारी के लक्षणों वाले व्यक्तियों की घर-घर स्क्रीनिंग के लिए समुचित संख्या में टीमें तैनात करना सुनिश्चित करेंगे। इस दिशा में पूरी निगरानी रखी जाएगी। क्षेत्र में संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आए सभी व्यक्तियों की खोज कर उनकी जांच की जाएगी और उन्हें आईसोेलेट किया जाएगा।
आदेशों के अनुसार पुलिस अधीक्षक बद्दी उक्त सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन में प्रवेश तथा निकासी प्रतिबन्धित करने के लिए समुचित संख्या में पुलिस बल की तैनाती करेंगे। उक्त क्षेत्र में वाहनों का आवागमन नियन्त्रित करने के लिए पुलिस नाके भी लगाएगी। कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए तैनात अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अतिरिक्त किसी अन्य व्यक्ति को कन्टेनमेंट जोन में आने-जाने की अनुमति नहीं होगी।
आदेशों के अनुसार उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ उक्त कन्टेनमेंट जोन के लिए समग्र प्रभारी होंगे। तहसीलदार नालागढ़ तथा बद्दी उनके सहायक होंगे।
यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गए हैं तथा उक्त क्षेत्र की सैम्पलिंग एवं सभी सैम्पल की परीक्षण रिपोर्ट नेगेटिव आने तक लागू रहेंगे।

=====================================

सोलन -दिनांक 12.08.2020
सोलन जिला में 1463 व्यक्ति स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में- डाॅ. गुप्ता

कोविड-19 के खतरे के दृष्टिगत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्रालय के दिशा-निर्देशानुसार सोलन जिला में वर्तमान में 1463 व्यक्तियों को निगरानी में रखा गया है। यह जानकारी आज यहां जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.के. गुप्ता ने दी।
डाॅ. गुप्ता ने कहा कि इन 1463 व्यक्तियों में से 1136 व्यक्तियों को होम क्वारेनटीन किया गया है। 97 व्यक्ति संस्थागत क्वारेनटाईन में हैं।
डाॅ. गुप्ता ने कहा कि जिला में 04 व्यक्तियों को आईसोलेशन में रखाा गया है। इनमें से 02 व्यक्तियों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नालागढ़, 01 व्यक्ति को एमएमयू कुम्हारहट्टी तथा 01 व्यक्ति को अर्की में आईसोलेट किया गया है।
जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि जिला में अभी तक 19474 व्यक्ति 14 दिन की निगरानी अवधि पूर्ण कर चुके हैं।
उन्होंने कहा कि जिला में अभी तक कुल 20937 व्यक्तियों को निगरानी में रखा जा चुका है।
उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें और दो व्यक्तियों के मध्य कम से कम दो गज की दूरी बनाए रखें। उन्होेंने सभी से आग्रह किया कि आरोग्य सेतु एप डाऊनलोड करें और इस एप में दिए गए निर्देशों का पालन करें। उन्होंने कहा कि बाहरी राज्यों से आ रहे सभी व्यक्तियों को क्वारेनटीन के सम्बन्ध में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशांे का पालन करना आवश्यक है।