प्रधानमंत्री रोज़गार सृजन कार्यक्रम की सफलता की मिसाल सोलन के ओच्छघाट की रजनी शर्मा
02 वर्ष की अल्प अवधि में अपने कपड़ा उद्योग में उपलब्ध करवाया 10 लोगों को रोजगार

Solan,04.08.20-वैश्वीकरण और निजीकरण के वर्तमान दौर में शिक्षित युवाओं के लिए ऐसा रोजगार प्राप्त करना कठिन होता जा रहा है जो न केवल उनकी मूलभूत आवश्यकताओं अपितु सुरक्षित भविष्य के सपने को भी साकार कर सके। ऐसी परिस्थितियों में आंखों में हज़ारों सपने लिए शिक्षित किन्तु बेरोज़गार युवाओं के लिए आशा की किरण बनकर उभर रही हैं केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की वो योजनाएं जिनके अन्तर्गत सही समय पर उचित उपदान के साथ ऋण प्राप्त हो रहा है।
ऐसी ही एक महत्वकांक्षी योजना है प्रधानमंत्री रोज़गार सृजन कार्यक्रम। वर्तमान केन्द्र सरकार ने अपने पूर्व तथा इस कार्यकाल में योजना का समुचित प्रचार-प्रसार सुनिश्चित बनाया। हिमाचल प्रदेश में वर्तमान सरकार के कार्यकाल में इस महत्वपूर्ण योजना से पहाड़ के युवा को लाभान्वित करने के लिए प्रचार के साथ-साथ खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड तथा जिला उद्योग केन्द्रांे को युवाओं तक इस योजना को पहुंचाने के लिए स्पष्ट निर्देश दिए गए।
प्रचार माध्यमों से योजना की जानकारी मिली सोलन जिला के ओच्छघाट की रहने वाली रजनी शर्मा को। प्रदेश विश्वविद्यालय से एमएससी शिक्षित रजनी ने इस सम्बन्ध में लघु स्तर पर कपड़ा उद्योग स्थापित करने के लिए वर्ष 2017-18 में जिला उद्योग केन्द्र सोलन से जानकारी प्राप्त की। जिला उद्योग केन्द्र से उन्हें अवगत करवाया गया कि कपड़ा उद्योग के लिए उन्हें प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत समुचित ऋण उपलब्ध करवाया जा सकता है।
रजनी शर्मा ने अपने देवर भानु शर्मा के साथ मिलकर ओच्छघाट में कपड़ा उद्योग स्थापित करने की विस्तृत योजना खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड को प्रस्तुत की। उन्हें शीघ्र ही वर्ष 2018 में लघु कपड़ा उद्योग स्थापित करने के लिए 08 लाख रुपए का ऋण प्राप्त हुआ। योजना के तहत महिलाओं को ऋण पर 35 प्रतिशत उपदान का प्रावधान है। उन्हें खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा 35 प्रतिशत उपदान भी प्राप्त हुआ।
रजनी शर्मा ने इस ऋण की सहायता से ‘कामाक्षी एंटरप्राइजिज’ के नाम से अपना लघु उद्योग स्थापित किया। यहां उन्होंने विभिन्न विद्यालयों की वर्दी के साथ-साथ आसपास के क्षेत्र में कार्यरत उद्योगों की वर्दी तथा प्रयोगशालाओं में प्रयुक्त होने वाली वर्दी इत्यादि का उत्पादन आरम्भ किया। उनकी कार्यकुशलता एवं कार्य के ज्ञान ने उनके लघु उद्योग को स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
रजनी शर्मा ने इस सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि उन्होंने उद्योग स्थापित करने से पूर्व जिला के अग्रणी बैंक यूको बैंक के ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान से 10 दिवस का प्रशिक्षण प्राप्त किया। उन्हांेने कहा कि वे वर्दी के लिए कच्चा माल अर्थात कपड़ा दिल्ली, अम्बाला एवं लुधियाना से मंगवाते हैं। उन्होंने कहा कि तैयार उत्पादन की गुणवत्ता उनकी पहचान है। उन्होंने कहा कि तैयार उत्पाद को वे उचित एवं ऐसे प्रतियोगी मूल्य पर उपलब्ध करवाते हैं जो कपड़ा उद्योग के केन्द्र लुधियाना एवं अम्बाला से बेहतर है।
उन्होंने कहा कि उनका उद्योग 02 वर्ष की अल्प अवधि में ही अपनी पहचान बनाने में सफल रहा है। रजनी इस अल्पकाल में ही अपने इस उद्यम से महीने में लगभग 25,000 रुपए कमा रही हैं। वर्तमान में उनके उद्योग में 10 व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त है।
रजनी शर्मा ने कहा कि वर्तमान में केन्द्र तथा प्रदेश सरकार की ऐसी अनेक योजनाएं कार्यान्वित की जा रही है जो शिक्षित युवाओं को स्वरोगार आरम्भ करने के लिए बेहतर मंच प्रदान करती हैं।
उन्होंने एक शिक्षित युवा के आत्म सम्मान एवं परिश्रम के माध्यम से सफल होने की जीजिविषा को साकार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का आभार व्यक्त किया।
रजनी शर्मा मिसाल है उन असंख्य युवाओं के लिए जो स्वरोज़गार स्थापित करने के लिए राह की तलाश कर रहे हैं। ज़रूरत है केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की योजनाओं के रूप में उपलब्ध उन राहों पर चलने की जो शिक्षित युवाओं को स्थापित करने के लिए कार्यान्वित की जा रही हैं।

===================================

सोलन दिनांक 04.08.2020
अंतरराज्यीय सीमाओं पर कर्मियों की तैनाती

जिला दण्डाधिकारी सोलन के.सी चमन ने कोविड-19 के खतरे के दृष्टिगत जिला की अंतरराज्यीय सीमाओं पर अन्य राज्यों से आने वाले प्रदेश के निवासियों के समुचित प्रबंधन एवं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के निर्देशों की अनुपालना के लिए जिला के परवाणू नाका तथा टीटीआर नाका तथा क्वारेन्टीन केन्द्र पर कर्मियों द्वारा सेवाएं प्रदान करने के सम्बन्ध में आदेश जारी किए हैं।
यह आदेश आपदा प्रबन्धन अधिनियम-2005 की धारा 30 के अन्तर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए जारी किए गए हैं।
जिला दण्डाधिकारी ने 05 अगस्त से 09 अगस्त 2020 तक प्रातः, सांय तथा रात्रि समय की तीन शिफ्टों के लिए जिला के परवाणू नाका, टीटीआर नाका तथा क्वारेन्टीन केन्द्र में कर्मियों की तैनाती की है।
05 अगस्त से 09 अगस्त 2020 तक परवाणू नाके पर प्रातःकालीन डयूटी के लिए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला गईघाट के शेर सिंह एवं राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला धर्मपुर की रश्मी राठी, सांयकालीन डयूटी के लिए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पट्टा मसूलखाना केे लेख राम एवं राजकीय उच्च पाठशाला भागुड़ी के राकेश कुमार तथा रात्रि डयूटी के लिए महर्षि मार्कण्डेश्वर चिकित्सा महाविद्यालय कुम्हारहट्टी के अनिल और टिंक राज उपस्थित रहेंगे।
इसी अवधि में जिला के टीटीआर नाके पर प्रातःकालीन डयूटी के लिए सोलन होम्योपेथिक चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल के डाॅ. मनीष एवं डाॅ. प्रदीप, सांयकालीन डयूटी के लिए सोलन होम्योपेथिक चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल के शुभम दीक्षित एवं पुनिया नाबिंग तथा रात्रि समय में एम.एन. डीएवी दन्त महाविद्यालय के मलहा सिंह एवं पुमेश मेहता उपस्थित रहेंगे।
इस अवधि के दौरान क्वारेन्टीन केन्द्र में एम.एन. डीएवी दन्त महाविद्यालय के दीप चंद ड्यूटी पर तैनात रहेंगे।
=====================================

सोलन दिनांक 04.08.2020
नालागढ़ उपमण्डल में सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन के सम्बन्ध में आदेश

जिला दण्डाधिकारी सोलन के.सी.चमन ने जिला के नालागढ़ उपमण्डल में कोविड-19 के दृष्टिगत कुछ क्षेत्रों को सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन घोषित करने के सम्बन्ध में आदेश जारी किए हैं। यह आदेश केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्रालय द्वारा जारी निर्देशों तथा उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ की रिपोर्ट के अनुरूप लिए गए हैं।
इन आदेशों के अनुसार नालागढ़ उपमण्डल के खेड़ा गांव में हंसराज पटवारी की काॅलोनी/भवन जहां कोविड-19 रोगी पाया गया है, नालागढ़ स्थित आकाश अस्पताल, उप तहसील पंजेहरा के गांव कल्याणपुर में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास, अमरावती अपार्टमेन्ट बद्दी के समीप कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास नम्बर 14, बद्दी तहसील में बसन्ती बाग स्थित आवास नम्बर 137, बद्दी तहसील के गांव किशनपुरा में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास/भवन, बद्दी तहसील में गांव कुन्जाहल (बलियाना) में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास/भवन, बद्दी तहसील में भारतीय स्टेट बैंक के समीप सूरज माजरा लबाणा में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास/भवन, बद्दी तहसील में गांव डोगरांवाला में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास, गांव बद्दी में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगी का आवास, बद्दी तहसील के गांव थाना में मैसर्ज प्रोसपेरिटी फार्मा का पूरा उद्योग परिसर तथा तहसील बद्दी के भुड गांव में मैसर्ज डाॅ. रेड्डी फार्मा के पूरे उद्योग परिसर को सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन घोषित किया गया है।
जिला दण्डाधिकारी ने उक्त सभी सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन की पूर्ण बाड़बन्दी के आदेश जारी किए हैं।
जिला दण्डाधिकारी ने आपराधिक दण्ड संहिता की धारा 144 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए उक्त सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन में लोगों तथा वाहनों (आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर) की आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगा दिया है।
आदेशों के अनुसार आवश्यक सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रयुक्त अधिकारी एवं कर्मचारी उक्त क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित बनाएंगे। उक्त क्षेत्र में पेयजल तथा बिजली की निर्बाध आपूर्ति भी सुनिश्चित बनाई जाएगी। खण्ड चिकित्सा अधिकारी नालागढ़ क्षेत्र में फ्लू जैसी बीमारी के लक्षणों वाले व्यक्तियों की घर-घर स्क्रीनिंग के लिए समुचित संख्या में टीमें तैनात करना सुनिश्चित करेंगे। इस दिशा में पूरी निगरानी रखी जाएगी। क्षेत्र में संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आए सभी व्यक्तियों की खोज कर उनकी जांच की जाएगी और उन्हें आईसोेलेट किया जाएगा।
आदेशों के अनुसार पुलिस अधीक्षक बद्दी उक्त सूक्ष्म कन्टेनमेंट जोन में प्रवेश तथा निकासी प्रतिबन्धित करने के लिए समुचित संख्या में पुलिस बल की तैनाती करेंगे। उक्त क्षेत्र में वाहनों का आवागमन नियन्त्रित करने के लिए पुलिस नाके भी लगाएगी। कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए तैनात अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अतिरिक्त किसी अन्य व्यक्ति को कन्टेनमेंट जोन में आने-जाने की अनुमति नहीं होगी।
उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ यह सुनिश्चित बनाएंगे कि कन्टेनमेंट जोन में प्रवेश तथा निकासी के समय सभी वाहनों को अनिवार्य रूप से सेनिटाइज किया जाए।
आदेशों के अनुसार उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ उक्त कन्टेनमेंट जोन के लिए समग्र प्रभारी होंगे। तहसीलदार नालागढ़ तथा बद्दी उनके सहायक होंगे।
यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गए हैं तथा उक्त क्षेत्र की सैम्पलिंग एवं सभी सैम्पल की परीक्षण रिपोर्ट नेगेटिव आने तक लागू रहेंगे।