सोलन दिनांक 29.06.2020
सोलन जिला में 2149 व्यक्ति स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में- डाॅ. गुप्ता

कोविड-19 के खतरे के दृष्टिगत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्रालय के दिशा-निर्देशानुसार सोलन जिला में वर्तमान में 2149 व्यक्तियों को निगरानी में रखा गया है। यह जानकारी आज यहां जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.के. गुप्ता ने दी।
डाॅ. गुप्ता ने कहा कि इन 2149 व्यक्तियों में से 1732 व्यक्तियों को होम क्वारेन्टीन किया गया है। इनमें से 1283 व्यक्ति ऐसे हैं जिन्हें अन्य राज्योें से जिला में आने के उपरान्त होम क्वारेन्टीन किया गया है। 449 अन्य व्यक्ति होम क्वारेन्टीन हैं। 375 व्यक्ति संस्थागत क्वारेन्टीन में हैं।
जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि जिला में अभी तक 13196 व्यक्ति 14 दिन की निगरानी अवधि पूर्ण कर चुके हैं।
उन्होंने कहा कि जिला में अभी तक कुल 15345 व्यक्तियों को निगरानी में रखा जा चुका है।
उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें और दो व्यक्तियों के मध्य कम से कम दो गज की दूरी बनाए रखें। उन्होेंने सभी से आग्रह किया कि आरोग्य सेतु एप डाऊनलोड करें और इस एप में दिए गए निर्देशों का पालन करें। उन्होंने कहा कि बाहरी राज्यों से आ रहे सभी व्यक्तियों को क्वारेनटाइन के सम्बन्ध में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशांे का पालन करना आवश्यक है।

==============================================

सोलन दिनांक 29.06.2020
समय पर ऋण उपलब्धता बेहतर आर्थिकी के लिए महत्वपूर्ण-केसी चमन

उपायुक्त सोलन केसी चमन ने कहा कि सोलन जिला में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के माध्यम से आर्थिक निर्भरता प्राप्त करने की व्यापक संभावनाएं हैं और इस दिशा में बैंकों का सहयोग अपेक्षित है। उन्होंने सोलन जिला में कार्यरत विभिन्न बैंकों को निर्देश दिए कि वे सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग स्थापित करने के लिए पात्रता अनुसार ऋण शीघ्र स्वीकृत करें ताकि युवा उद्यमी समय पर लाभ प्राप्त कर अपना व्यवसाय आरम्भ कर सकें। केसी चमन आज यहां जिला के अग्रणी बैंक यूको बैंक द्वारा निर्धारित जिला सलाहकार समीति की 159वीं त्रैमासिक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
केसी चमन ने कहा कि कोविड-19 के कारण उत्पन्न खतरे के मध्य वर्तमान में युवा शक्ति को सही दिशा प्रदान करना और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों के माध्यम से आर्थिकी को सुदृढ़ करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि उद्योग स्थापित करने के लिए ऋण आवश्यक है और यदि बैंक समय पर ऋण प्रदान करें तो स्थिति को संभालने में सहायता मिल सकती है। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री द्वारा घोषित महत्वकांक्षी आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत भी शीघ्र ऋण उपलब्ध करवाए जाएं।
उपायुक्त ने निर्देश दिए कि विभिन्न योजनाओं के तहत ऋण स्वीकृत करने के लिए सभी बैंक एक समर्पित अधिकारी की तैनाती करें। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी बैंक विभिन्न योजनाओं के तहत लंबित ऋण मामलों को शीघ्र निपटाएं और स्वीकृति अथवा अस्वीकृति के संबंध में आवेदक को सूचित करें। उन्होंने निर्देश दिए कि आत्म निर्भर भारत अभियान सहित अन्य वित्तीय योजनाओं के सम्बन्ध में युवाओं को जागरूक बनाया जाए।
केसी चमन ने कहा कि यह बैठक जिला की आर्थिकी को सुदृढ़ करने एवं पात्र युवाओं तक योजनाओं के लाभ पहुंचाने में महत्वपूर्ण है। उन्होंने निर्देश दिए कि त्रैमासिक बैठक से पूर्व खंड स्तर पर इस तरह की बैठकें आयोजित की जाएं और इस बैठक में अद्यतन जानकारी के साथ डाटा प्रस्तुत किया जाए।
उन्होंने जिला के अग्रणी बैंक यूको बैंक के प्रबंधक को निर्देश दिए कि जिला में केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा कार्यान्वित की जा रही विभिन्न ऋण योजनाओं की गतिविधियों का नियमित अनुश्रवण करें।
बैठक में अवगत करवाया गया कि आत्म निर्भर पैकेज के अंतर्गत जिला में 968 इकाईयों के लिए 37.05 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं। इसमें से अभी तक जिला में 27.14 करोड़ रुपये प्रदान किए गए हैं।
बैठक में जानकारी दी गई कि मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना के तहत वर्ष 2019-20 में कुल 84 लाभार्थियों को स्वरोजगार आरंभ करने के लिए ऋण प्रदान किए गए।
बैठक में बैंको द्वारा विभिन्न योजनाओं के अंर्तगत निर्धारित वित्तीय लक्ष्यों व उपलब्धियों की समीक्षा की गई।
बैठक में जानकारी दी गई कि जिला में मार्च 2020 तक प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत 188618 खाते खोले गए हैं। इन खातों में 5718.73 लाख रुपए जमा हैं। 85.68 प्रतिशत खाता धारकों को रूपे कार्ड जारी कर दिए गए हैं। इस अवधि तक प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना से 253537 लाभार्थी जुड़े है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना से 150959 तथा अटल पैंशन योजना से 30305 लाभार्थी जुड़ चुके हैं।
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत सोलन जिला में मार्च 2020 तक 14075 खाते खोले गए हैं। योजना की शिशु श्रेणी के तहत 4415 व्यक्तियों को लगभग 2125 लाख रुपए, किशोर श्रेणी में 6904 व्यक्तियों को लगभग 17813 लाख रुपये तथा तरूण श्रेणी के तहत 2756 व्यक्तियों को लगभग 19691 लाख रुपये स्वीकृत किए गए हैं। जिला में मार्च, 2020 तक 34875 किसान क्रेडिट कार्ड जारी किए गए हैं।
भारतीय रिजर्व बैंक के सहायक महाप्रबन्धक स्वर ग्रोवर ने बैंकों को समय-समय पर जारी होने वाले दिशा-निर्देशों की जानकारी दी तथा इनकी अनुपालना का आग्रह करते हुए सभी बैंक अधिकारियों से खंड स्तरीय बैंकर्ज समिति की प्रत्येक कार्यशाला में उपस्थित रहने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सोलन, हमीरपुर और चम्बा जिला के बैंको को दिसम्बर, 2020 तक पूर्ण डिजीटिकरण के लिए चिन्हित किया गया है।
डीडीएम नाबार्ड अशोक चैहान ने नाबार्ड के अंतर्गत कार्यान्वित किए जा रहे कृषि क्लीनिक केन्द्र तथा कृषि व्यापार केन्द्र के बारे में जानकारी प्रदान की। उन्होंने स्वयं सहायता समूह के डिजिटाईजेशन के लिए कार्यान्वित की जा रही ई-शक्ति परियोजना के बारे में भी अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि जिला में किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत दुग्ध एवं मत्स्य उत्पादन में भी ऋण उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।
इससे पूर्व सहायक प्रबंधक एवं अग्रणी जिला प्रबंधक वीके राजदान ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा बैठक की कार्यवाही का संचालन किया।
इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त विवेक चंदेल, जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी राजकुमार, जिला कृषि अधिकारी डाॅ. सीमा कंसल सहित अन्य अधिकारी एवं विभिन्न बैंको के प्रबंधक तथा प्रतिनिधि उपस्थित थे।

===============================================

सोलन दिनांक 29.06.2020
यूको आरसेटी के प्रशिक्षण कार्यक्रम रोजगार के लिए महत्वपूर्ण-केसी चमन

उपायुक्त सोलन केसी चमन ने कहा कि यूको ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (यूको आरसेटी) द्वारा कार्यान्वित किए जा रहे विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम युवाओं को बेहतर स्वरोजगार एवं रोजगार उपलब्ध करवाने की दिशा में महत्वपूर्ण हैं। केसी चमन आज यहां यूको आरसेटी सलाहकार समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
केसी चमन ने कहा कि कोविड-19 के कारण वर्तमान में अनेक ऐसे रोजगारपरक कार्यक्रम निलंबित हैं जो युवाओं के लिए महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि बैंकों को यह सोचना होगा कि भविष्य में कि प्रकार इन कार्यक्रमों को कार्यान्वित किया जाए जिससे कि अधिक से अधिक युवा कम समय में लाभ प्राप्त कर सकें। उन्होंने बैंक प्रतिनिधियों को इस दिशा में व्यापक कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि यूको ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (यूको आरसेटी) को ऐसे प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने चाहिएं, जो युवाओं को रोजगार एवं स्वरोजगार के बेहतर अवसर प्रदान कर सकें।
यूको ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान के निदेशक विक्रम ठाकुर ने इस अवसर पर संस्थान की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि संस्थान द्वारा प्रथम अप्रैल, 2019 से 31 मार्च 2020 तक 422 युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया गया। उन्होंने कहा कि संस्थान उद्योग की मांग तथा स्वरोजगार के अनुसार ही प्रशिक्षण उपलब्ध करवाता है।
विक्रम ठाकुर ने वर्ष 2019-20 में यूको आरसेटी द्वारा कार्यान्वित किए जाने वाले प्रशिक्षण कार्यक्रमों की विस्तृत जानकारी प्रदान की।
इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त विवेक चंदेल, जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी राजकुमार, जिला कृषि अधिकारी डाॅ. सीमा कंसल सहित अन्य अधिकारी एवं विभिन्न बैंको के प्रबंधक तथा प्रतिनिधि उपस्थित थे।

===============================================

सोलन दिनांक 29.06.2020
विभिन्न स्थानों पर उचित मूल्य की दुकान खोलने के लिए आवेदन आमंत्रित

सोलन जिला के विकास खण्ड धर्मपुर तथा विकास खण्ड नालागढ़ की विभिन्न ग्राम पंचायतों में उचित मूल्य की दुकानें खोलने का निर्णय लिया गया हैं। यह जानकारी जिला खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले नियंत्रक मिलाप शांडिल ने आज यहां दी।
उन्होंने कहा कि धर्मपुर विकास खंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत जगजीत नगर के ग्राम पल्हेच वार्ड संख्या-1 तथा नालागढ़ विकास खंड की ग्राम पंचायत किरपालपुर के ग्राम निक्कुवाल, वार्ड संख्या-2 में उचित मूल्य की दुकाने खोलने का निर्णय लिया गया है।
मिलाप शांडिल ने कहा कि इच्छुक अभ्यर्थी इन दुकानों के लिए आवेदन निर्धारित प्रपत्र पर जिला खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले नियंत्रक सोलन के कार्यालय में 22 जुलाई, 2020 को सांय 05.00 बजे तक कर सकते है।
उन्होंने कहा कि उचित मूल्य की दुकान खोलने के लिए प्रथम प्राथमिकता सार्वजनिक संस्थान या सार्वजनिक निकाय जैसे पंचायत, स्वयं सहायता समूह, सहकारी समितियां या महिलाओं का कोई समूह, दूसरी प्राथमिकता एकल नारी, विधवा जोकि बच्चों का स्वयं पालन पोषण कर रही हो, शारीरिक रूप से अपंग व्यक्ति जो उचित मूल्य की दुकान का कार्य करने मे सक्षम हों, भूतपूर्व सैनिक, शिक्षित बेरोजगार व्यक्ति जिनके परिवार से कोई व्यक्ति सरकारी नौकरी में न हो, को प्रदान की जाएगी। तीसरी प्राथमिकता हिमाचल प्रदेश राज्य नागरिक आपूर्ति निगम को प्रदान की जाएगी।
उन्होंने कहा कि उचित मूल्य की दुकान के संचालन के लिए इच्छुक व्यक्ति मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम दसवीं उतीर्ण होना चाहिए। आवेदन के लिए प्रपत्र निरीक्षक, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले धर्मपुर तथा नालागढ़ के कार्यालय से प्राप्त किया जा सकता है।
आवेदन के साथ शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, अपनी दुकान अथवा किराए की दुकान संबंधी प्रमाण पत्र, दिव्यांगता प्रमाण पत्र, भूतपूर्व सैनिक प्रमाण पत्र अथवा उचित मूल्य की दुकानधारक की मृत्यु उपरान्त उसके वारिस संबंधी आवश्यक प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने होंगे।

===============================================

SOLAN दिनांक 29.06.2020
जीवन प्रमाण पत्र सत्यापन की प्रक्रिया प्रथम सितम्बर 2020 से

प्रदेश के साथ-साथ सोलन जिला में भी वर्ष 2020-21 के लिए पैंशन भोगियों द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाले जीवन प्रमाण पत्र के सत्यापन की प्रक्रिया प्रथम सितम्बर, 2020 से आरम्भ की जाएगी। यह जानकारी आज यहां एक सरकारी प्रवक्ता ने दी।
उन्हांेने कहा कि जिला में सभी पैंशन भोगियों के जीवन प्रमाण पत्र अब प्रथम सितम्बर, 2020 के उपरांत स्वीकार किए जाएंगे।

===============================================

सोलन -दिनांक 29.06.2020
सोलन जिला से आज कोरोना संक्रमण जांच के लिए भेजे गए 128 सैम्पल

सोलन जिला से आज कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि के लिए 128 व्यक्तियों के रक्त नमूने केन्द्रीय अनुसंधान संस्थान कसौली भेजे गए। यह जानकारी आज यहां स्वास्थ्य एवं परिवार कल्यण विभाग के एक प्रवक्ता ने दी।
प्रवक्ता ने कहा कि इन 128 रक्त नमूनों में से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नालागढ़ से 29, क्षेत्रीय अस्पताल सोलन से 30, ईएसआई काठा से 32, एमएमयू कुम्हारहट्टी से 13 तथा ईएसआई बरोटीवाला से 24 सैम्पल कोरोना वायरस संक्रमण जांच के लिए भेजे गए हैं।
जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि आज भेजे गए 128 सैम्पल में से 114 की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है। जबकि 09 फोलोअप तथा 05 नवीन सैंपल की रिपोर्ट आनी अपनी शेष है।
उन्होंने कहा कि जिला में अभी तक कोरोना संक्रमण की जांच के लिए 12017 व्यक्तियों के रक्त नमूने एकत्र किए गए हैं।
जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा बाहरी राज्यों से प्रदेश में आने वाले लोगों से आग्रह किया कि वे क्वारेनटाइन सम्बन्धी दिशा-निर्देशों का पूर्ण पालन करें। उन्होंने कहा कि इन नियमों की अनुपालना न केवल बाहर से आने वाले व्यक्तियों के परिवारों अपितु समाज को किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचाने में सहायक सिद्ध होगी।
डाॅ. गुप्ता ने सभी से आग्रह किया कि खांसी, जुखाम, बुखार या सांस लेने में तकलीफ होने पर शीघ्र समीप के स्वास्थ्य संस्थान से सम्पर्क करें। इस सम्बन्ध में किसी भी सहायता के लिए हैल्पलाईन नम्बर 104 तथा दूरभाष नम्बर 221234 पर सम्पर्क किया जा सकता है।