सोलन-दिनांक 02.04.2020
आवश्यक आदेश

जिला दण्डाधिकारी के.सी. चमन ने कोरोना वायरस के खतरे के दृष्टिगत सोलन जिला में विभिन्न वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए आने वाले सभी चालकों की सुविधा के लिए आदेश जारी किए हैं।
इन आदेशों के अनुसार सोलन जिला के अर्की उपमण्डल में झरना (दाड़लाघाट) स्थित झरना ढाबा (मालिक कृष्ण चन्द मोबाईल नम्बर 98052-61909), शालाघाट स्थित अतिथि भोजनालय (मालिक कमल चन्द मोबाईल नम्बर 98827-02752), चमाकड़ीपुल स्थित किरण ढाबा (मालिक प्रेमलाल मोबाईल नम्बर 98169-27951) तथा भराड़ीघाट स्थित मयूर ढाबा (मालिक मयूर मोबाईल नम्बर 94180-77774, 82194-75604) आगामी आदेशों तक प्रतिदिन हर समय खुले रहेंगे।
उपमण्डल कण्डाघाट में डेढ़घराट स्थित ठाकुर ढाबा (मालिक लायक राम मोबाईल नम्बर 98160-76924) आगामी आदेशों तक प्रतिदिन हर समय खुला रहेगा।
उपमण्डल नालागढ़ में, नालागढ़-स्वारघाट-मनाली मार्ग पर स्थित प्रकाश ढाबा (मालिक प्रकाश चन्द मोबाईल नम्बर 98162-95877), गोलजमाला स्थित समर ढाबा (मालिक रणजीत सिंह मोबाईल नम्बर 98053-95665), भुड बैरियर स्थित पंत जेएस ढाबा (मालिक रोशन लाल मोबाईल नम्बर 98057-56635), नालागढ़-भरतगढ़ मार्ग पर स्थित बैहल ढाबा (मालिक अरविन्द सिंह मोबाईल नम्बर 98160-88253), खेड़ा, राजपुरा बाईपास मार्ग पर लक्ष्मी ढाबा (मालिक बाॅबी रत्न भारद्वाज), किश्नपुरा-पिंजोर-नालागढ़ मार्ग पर पाल ढाबा (मालिक हैप्पी मोबाईल नम्बर 98163-13971) तथा खेड़ा नालागढ़ में संध्या ढाबा (मालिक सोनी मोबाईल नम्बर 98162-21356) आगामी आदेशों तक प्रतिदिन हर समय खुले रहेंगे।
इन सभी में कोविड-19 के खतरे के दृष्टिगत सोशल डिस्टेन्सिग एवं प्रत्येक टेबल के मध्य एक मीटर की दूरी तथा अन्य निर्देशों सहित परिसरों को उचित प्रकार से सैनिटाईज करने के नियम का पूरा पालन करना होगा।

सोलन उपमण्डल में ऐसे आदेश पहले ही जारी किए जा चुके हैं।
इस सम्बन्ध में पुलिस अधीक्षक सोलन, पुलिस अधीक्षक बद्दी, अतिरिक्त उपायुक्त सोलन, उपमण्डलाधिकारी कण्डाघाट, अर्की, नालागढ़ एवं ढााबा मालिकों को आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं।
====================================================
सोलन -दिनांक 02.04.2020
सोलन जिला में एक्टिव केस फाइंडिग अभियान 03 से 09 अप्रैल तक- के.सी. चमन
प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार सोलन जिला में 03 अप्रैल, 2020 से घर-घर जाकर जन-जन को कोरोना वायरस के लक्षणों की जानकारी प्रदान की जाएगी ताकि सभी जागरूक रहकर इस संकट का सफलतापूर्वक सामना कर सकें। यह जानकारी उपायुक्त सोलन के.सी. चमन ने दी।
केे.सी. चमन ने कहा कि सोलन जिला में यह ‘एक्टिव केस फाइंडिंग’ अभियान 03 अप्रैल से 09 अप्रैल, 2020 तक कार्यान्वित किया जाएगा। अभियान के तहत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की 783 टीमें घर-घर जाकर कोरोना वायरस संक्रमण की जांच करेंगी और लोगों को इस विषय में जागरूक करेंगी।
उपायुक्त ने सभी जिलावासियों से आग्रह किया कि ‘एक्टिव केस फाइंडिंग’ अभियान में पूरा सहयोग दें और घर आने वाली स्वास्थ्य विभाग की टीम को सही जानकारी प्रदान करें। उन्होंने कहा कि घर-घर सर्वेक्षण से जहां लोगों को वास्तविक अर्थों में जागरूक किया जाएगा वहीं यदि कोई कोराना वायरस के लक्षणों से ग्रसित होगा तो ऐसेे व्यक्ति तक त्वरित चिकित्सीय सहायता पंहुचाई जा सकेगी।
उन्होंने इन टीमों के सदस्यों से आग्रह किया कि ‘एक्टिव केस फाइंडिंग’ अभियान की सफलता के लिए वे पूर्ण समर्पण एवं कार्यनिष्ठा के साथ कार्य करें।
अभियान के विषय में टीमों के सदस्यों को जागरूक बनाने एवं प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए आज यहां एक विशेष प्रशिक्षण सत्र का आयोजन किया गया। इस सत्र की अध्यक्षता मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डाॅ. राजन उप्पल ने की। प्रशिक्षण कार्यक्रम में ‘एक्टिव केस फाइंडिंग’ अभियान की सूक्ष्म जानकारी प्रदान की गई। अभियान के तहत जुखाम, खांसी, बुखार इत्यादि लक्ष्णों के साथ गत 28 दिन में विदेश से आए व्यक्तियों की पहचाान की जाएगी। उन्होंने कहा कि अभियान की सफलता के लिए पर्यवेक्षक भी नियुक्त किए गए हैं।
इस अवसर पर जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.के. गुप्ता एवं जन शिक्षण तथा सूचना अधिकारी सुरेश शर्मा ने आवश्यक जानकारी प्रदान की।
=================================================================

सोलन-दिनांक 02.04.2020
सोलन जिला में एक्टिव केस फाइंडिग अभियान 03 से 08 अप्रैल तक- के.सी. चमन
प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार सोलन जिला में 03 अप्रैल, 2020 से घर-घर जाकर जन-जन को कोरोना वायरस के लक्षणों की जानकारी प्रदान की जाएगी ताकि सभी जागरूक रहकर इस संकट का सफलतापूर्वक सामना कर सकें। यह जानकारी उपायुक्त सोलन के.सी. चमन ने दी।
केे.सी. चमन ने कहा कि सोलन जिला में यह ‘एक्टिव केस फाइंडिंग’ अभियान 03 अप्रैल से 08 अप्रैल, 2020 तक कार्यान्वित किया जाएगा। अभियान के तहत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की 783 टीमें घर-घर जाकर कोरोना वायरस संक्रमण की जांच करेंगी और लोगों को इस विषय में जागरूक करेंगी।
उपायुक्त ने सभी जिलावासियों से आग्रह किया कि ‘एक्टिव केस फाइंडिंग’ अभियान में पूरा सहयोग दें और घर आने वाली स्वास्थ्य विभाग की टीम को सही जानकारी प्रदान करें। उन्होंने कहा कि घर-घर सर्वेक्षण से जहां लोगों को वास्तविक अर्थों में जागरूक किया जाएगा वहीं यदि कोई कोराना वायरस के लक्षणों से ग्रसित होगा तो ऐसेे व्यक्ति तक त्वरित चिकित्सीय सहायता पंहुचाई जा सकेगी।
उन्होंने इन टीमों के सदस्यों से आग्रह किया कि ‘एक्टिव केस फाइंडिंग’ अभियान की सफलता के लिए वे पूर्ण समर्पण एवं कार्यनिष्ठा के साथ कार्य करें।
अभियान के विषय में टीमों के सदस्यों को जागरूक बनाने एवं प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए आज यहां एक विशेष प्रशिक्षण सत्र का आयोजन किया गया। इस सत्र की अध्यक्षता मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डाॅ. राजन उप्पल ने की। प्रशिक्षण कार्यक्रम में ‘एक्टिव केस फाइंडिंग’ अभियान की सूक्ष्म जानकारी प्रदान की गई। अभियान के तहत जुखाम, खांसी, बुखार इत्यादि लक्ष्णों के साथ गत 28 दिन में विदेश से आए व्यक्तियों की पहचाान की जाएगी। उन्होंने कहा कि अभियान की सफलता के लिए पर्यवेक्षक भी नियुक्त किए गए हैं।
इस अवसर पर जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.के. गुप्ता एवं जन शिक्षण तथा सूचना अधिकारी सुरेश शर्मा ने आवश्यक जानकारी प्रदान की।
===================================
.तब्लीगी से लौटे तथा उनके संपर्क में आए लोगों की जानकारी दें
डयूटी में कोताही बरतने पर होगी सख्त कार्रवाई
धर्मशाला, 02 अप्रैल। दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज में आयोजित तब्लीगी जमात में मार्च माह में भाग लेकर कांगड़ा जिला में लौटे सभी लोगों तथा इनके संपर्क में आए व्यक्तियों के बारे में जानकारी जिला प्रशासन या टोल फ्री नंबर 104 तथा 1077 पर उपलबध करवाना अनिवार्य है। यह जानकारी देते हुए उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि जानकारी छुपाने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि प्रशासन कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कारगर कदम उठा रहा है तथा कोरोना के संदिग्धों को त्वरित क्वारंटीन किया जा रहा है। इसके साथ ही अन्य राज्यों तथा विदेश से लौटे नागरिकों को भी स्वास्थ्य विभाग के निर्देशासनुसार क्वारंटीन किया गया है।
ड्यूटी में कोताही नहीं बरतें:
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कोरोना महामारी को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया गया है तथा इस दौरान स्वास्थ्य विभाग, पुलिस विभाग तथा अन्य विभागों के अधिकारियों तथा कर्मचारियों को आवश्यक डयूटी पर तैनात किया गया है तथा जो भी अधिकारी तथा कर्मचारी दिशानिर्देशों के अनुसार डयूटी की अनुपालना नहीं करेगा उसके खिलाफ कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
बुजुर्ग घरों से बाहर निकलने में करें परहेजः
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि बुजुर्गों को घरों में ही रहने के लिए कहा गया है, बाजार से सामान इत्यादि लाने के लिए परिवार के युवाओं का सहयोग सुनिश्चित करें तथा अगर घर से बाहर निकलना बहुत ही ज्यादा जरूरी हो तो मास्क इत्यादि लगाकर निकलें और सामाजिक दूरी की अनुपालना भी सुनिश्चित करें।
खाद्य वस्तुओं तथा सब्जियों की आपूर्ति बारे:
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने बताया कि कांगड़ा जिला में सब्जियों तथा फल के 177 वाहन, दूध, दही, पनीर के 49 वाहन, अनाज के 292 वाहनों तथा रसोई गैस 39 वाहनों के माध्यम से आपूर्ति हुई है जबकि तूड़ी के 21 ट्रकों के माध्यम से कांगड़ा जिला में सप्लाई की गई है। उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला में खाद्य वस्तुओं की सप्लाई व्यवस्था सुचारू बनी हुई है तथा लोगों से किसी भी स्तर पर घरों में खाद्य वस्तुओं के भंडारण नहीं करने की जरूरत नहीं है।
बैंकों, एटीएम तथा दुकानों के बाहर चिह्न्ति करें जगह
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने बताया कि सब्जी तथा खाद्य वस्तुओं की दुकानों के बाहर उपभोक्ताओं के खड़े होने के लिए एक से डेढ़ मीटर तक की दूरी पर मार्किंग की जाए इसके साथ ही बैंकों में लेन देन के दौरान उपभोक्ताओं के खड़े होेने के लिए एक से डेढ़ मीटर दूरी तक स्थल चिह्न्ति करें तथा एटीएम के बाहर भी उपभोक्ताओं के लिए यह दूरी सुनिश्चित करनी होगी।

.0.