धर्मशाला 25 जनवरी: शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सरवीन चौधरी ने युवाओं का आह्वान किया कि वे शिक्षा, स्वास्थ्य तथा संस्कारों पर अपना ध्यान केन्द्रित करें, जिससे उन्हें अपने जीवन में नई ऊॅचाइयां हासिल करने में मदद मिले । सरवीन चौधरी आज शनिवार को शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बड़न्ज के वार्षिक समारोह की अध्यक्षता कर रही थीं।
उन्होंने कहा कि माता-पिता और शिक्षक विद्यार्थियों के सबसे बड़े शुभचिन्तक होते हैं इसलिए उनका सम्मान करना चाहिए, क्योंकि उनके मार्गदर्शन से जीवन में आगे बढ़ने में मदद मिलती है।
शहरी विकास मंत्री ने कहा कि किशोरावस्था भविष्य की नींव है और इस आयु वर्ग के बच्चों को अधिक जिम्मेदार होना चाहिए तथा सफलता हासिल करने के लिए पढ़ाई पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए।
उन्होंने बच्चों का आहवान किया कि वह पढ़ाई के साथ-साथ खेल-कूद प्रतिस्पर्धाओं में भी बढ़-चढ़ कर भाग लें। उन्होंने बच्चों को सलाह दी कि वह अपने सपनों के आधार पर अपने क्षमतावर्धन पर फोकस रखें और अपनी परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुये अपना लक्ष्य निर्धारित करें। उन्होंने अध्यापकों से आह्वान किया कि वह विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करें ताकि सरकारी विद्यालयों के विद्यार्थियों का शिक्षा का स्तर ऊंचा हो एवं इन विद्यालयों के वार्षिक परीक्षा परिणाम बेहतर हों।
उन्होंने उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर पुरस्कार प्राप्त करने वाले छात्र व छात्राओं को बधाई दी।
उन्होंने कहा कि छात्राएं आज प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं तथा राष्ट्र के समग्र विकास और समृद्धि में अपना योगदान दे रही हैं। उन्होंने विद्यार्थियों से आग्रह किया कि नशे के खिलाफ अभियान का हिस्सा बने तथा एक स्वस्थ और जीवंत समाज बनाने में अपना योगदान दें।
इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री ने मेधावी छात्रों को सम्मानित किया और स्कूल बैग भी वितरित किये।
इससे पूर्व स्कूल के प्रधानाचार्य ओंकार देव ने शहरी विकास मंत्री को सम्मानित किया और विद्यालय की अकादमिक उपलब्धियों को विस्तार से बताया तथा स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट पढ़ी।
इस अवसर स्कूली विद्यार्थियों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये ।
सास्कृतिक कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए मुख्यातिथि ने 15 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की और हिमाचल के पूर्ण राज्यत्व दिवस तथा मतदाता दिवस की भी बधाई दी ।
सरवीन चौधरी ने कहा कि 1 लाख रुपए स्कूल के फर्नीचर तथा 10 लाख 53 हजार रुपए कमरे बनवाने के लिए व्यय किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा हरनेरा बड़न्ज सिद्धपुर सलवाना तथा तत्वानी के रोड के सुधारीकरण के लिए 573.66 लाख रुपये की डीपीआर स्वीकृति के लिए भेज दी गई है जबकि शाहपुर से चकवन लपियाना रोड के सुधारीकरण के लिए 875 लाख, हरनेरा बड़न्ज सिद्धपुर सलवाना ततवानी रोड की टारिंग के लिए 15 लाख व्यय किये जा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि 131 लाख की लागत से बन रही उठाऊ पेयजल योजना हरनेरा, माहड़ को मार्च तक शुरू कर दिया जाएगा।
इस दौरान उन्होंने लोगों की समस्याओं को सुना तथा मौके पर ही निपटारा कर दिया।
इस अवसर पर स्थानीय प्रधान विजय धीमान, एसएमसी सुमित्रा देवी, मंडलाध्यक्ष अश्वनी चौधरी , पूर्व ब्लाक चेयरमैन नवीन ठाकुर, बीआरसी प्राइमरी देस राज, सुनील धीमान, विजय, दीपक अवस्थी , एसडीओ लोक निर्माण विभाग बलबीत, एसडीओ आईपीएच अनीश के अलावा समस्त स्कूलों के प्रधााध्यापक, बच्चे, अभिवावकों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।