चण्डीगढ़ 25 जनवरी।हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण देव आर्य ने कहा कि लोकसभा एवं विधानसभा चुनावों में जनता की भागीदारी यह प्रदर्शित करती है कि हरियाणा के मतदाता लोकतंत्रित कर्तव्यों के प्रति सजग एवं जागरूक है और हमें प्रजातांत्रिक व्यवस्था को मजबूती प्रदान करने के लिए ओर ज्यादा प्रयास करने चाहिए।
राज्यपाल पंचकूला स्थित रैडबिशप कांपलैक्स में आयोजित 10वें राज्य स्तरीय राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर नागरिकों को मताधिकार का प्रयोग करने की शपथ भी दिलाई और चुनाव का प्रतीक लाॅगो का भी लोकार्पण किया। उन्होंने राष्ट्रीय मतदाता दिवस एवं गणतन्त्र. दिवस की बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश के नागरिक वोट का अधिकार बिना किसी भय, बाधा और पूर्ण स्वतऩ्त्रता के कर सके, इसके लिए भारत निर्वाचन आयोग की स्थापना की गई है।
श्री आर्य ने कहा कि भारतीय प्रजातंत्र की सबसे बड़ी विशेषता यही है कि देश के संविधान में प्रत्येक नागरिक को जाति, धर्म, संम्प्रदाय, लिंग, अमीर-गरीब आदि के भेदभाव को खत्म करके वोट का अधिकार प्रदान किया गया है। इसलिए प्रत्येक नागरिक को अपने मतों का प्रयोग करने के लिए जागरूक करने हेतू निर्वाचन आयोग निरन्तर अनेक कार्यक्रम आयोजित कर रहा है। उन्होंने कहा कि निर्वाचन की प्रक्रिया जितनी परिशुद्व एवं निष्पक्ष होगी उतनी ही जनमानस की आस्था प्रजातांत्रिक मूल्यों में बढ़ती जाएगी।
उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग का गठन 25 जनवरी 1950 को किया गया तथा वर्ष 2011 से भारत सरकार ने इस दिवस को मनाने का निर्णय लिया। तब से पूरे देशभर में यह दिवस मतदाताओं को जागरूक करने एवं लोकतंत्र के प्रति सजग करने के लिए बडे हर्षोल्लास से मनाया जा रहा है।
श्री आर्य ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार हरियाणा में मतदाता सूचियों का 97 प्रतिशत सत्यापन किया गया है। इससे निर्वाचकों का लिंगानुपात भी धीरे धीरे बढता जा रहा है। उन्होंने कहा कि नागरिकों विशेषकर युवाओं और महिलाओं को मतदान के प्रजातंात्रिक अधिकारों के प्रति प्रेेरित करने के लिए अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहाा है।
उन्होंने चुनाव के दौरान सराहनीय कार्य करने वाले अधिकारियों एवं जिला एवं राज्य स्तर पर आयोजित प्रतियोगिताओं में अव्वल रहने वाले विद्यार्थियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
राज्यपाल ने रेवाडी के उपायुक्त यशेन्द्र सिंह, कैथल की तत्कालीन एवं वर्तमान में हिसार की उपायुक्त डा. प्रियंका सोनी, आयुषमान भारत के निदेशक अशोक कुमार मीणा, कैथल की एसडीएम कमलप्रीत कौर, रेवाड़ी के एसडीएम रविन्द्र यादव को प्रशस्ति प्रदान कर सम्मानित किया। इसके अलावा मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में अव्वल रहने वाली हिसार से स्वीटी, निशा, पानीपत के यतीन, हिसार के कुलदीप सिंह, गुरूग्राम के गीतेश, रोहतक की काजल, भिवानी की स्नेह एवं तन्नु यादव को भी सम्मानित किया।
समारेाह को सम्बोधित करते हुए मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग अग्रवाल ने कहा कि चुनाव प्रक्रिया को मजबूत बनाने के लिए न केवल इसे समझना चाहिए बल्कि हमें बढचढ कर भाग लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि वोट की लिटरेशी को मजबूत करने की दिशा में ओर अधिक कार्य करने होगंे। उन्होंने कहा कि इस वर्ष का मुख्य थीम मजबूत लोकतंत्र सबकी भागीदारी रखा गया है जिसके तहत प्रत्येक नागरिक को जागरूक करने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मतदाता सूचियों के रिविजन का कार्य 10 फरवरी से शुरू होगा जो आगामी दो माह तक चलेगा। इस दौरान नए वोट बनाने, त्रुटि दूर करने के कार्य किए जाएगें। उन्होंने कहा कि 18 वर्ष की आयु के सभी युवाओं के नाम मतदाता सूची में जोडने का कार्य भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर लोगों को ग्राम, खण्ड एवं जिला स्तर पर जागरूक करने के लिए कार्यकम आयोजित किए गए है। इसके अलावा बूथ लेवल भी कार्यक्रम आयोजित किए गए है।
उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने समारोह में पहंुचने पर सभी का आभार जताया। इस अवसर पर अतिरिक्त निदेशक डी के बेहरा, संयुक्त निर्वाचन अधिकारी इन्द्रजीत, पुलिस आयुक्त सौरभ सिंह, अपूर्व कुमार सहित कई अधिकारी मौजूद थे।