धर्मशाला, 07 जनवरी: जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान धर्मशाला के प्राचार्य विनोद चौधरी ने आज मंगलवार को जिला शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान धर्मशाला के प्रांगण में स्किल यात्रा के नाम से ‘‘स्किल ऑन व्हील ड्राईव’’ का शुभारंभ ने किया। हिमाचल प्रदेश समग्र शिक्षा के अंतर्गत लेंड-ए-हैंड-इंडिया संस्था का यह एक अभिनव प्रयास है।
इस अवसर पर चौधरी ने कहा कि इस ड्राईव का मुख्य उद्देश्य व्यवसायिक शिक्षा प्रदान कर इसे अपनाने के लिए विद्यार्थियों को प्रेरित करना है। इसके तहत विद्यालयों में केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही जागरूक शिक्षा की महत्वता तथा उपयोग के प्रति जागृति प्रदान करना है। प्रदेश के सरकारी विद्यालयोें में व्यवसायिक शिक्षा को गुणात्मक बनने के साथ साथ छात्र-छात्राओं के नामांकन में वृद्वि करना है। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से छात्र-छात्राओं में व्यवसायिक शिक्षा के प्रति उत्साह बढ़ेगाा तथा जीवन में स्वावलंबी बनने के लिए प्रोत्साहित होंगे।
व्यवसायिक शिक्षा के जिला समन्वयक अजय आचार्य ने जानकारी देते हुए बताया कि माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षा संस्थानों में कौशल शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए और विद्यार्थियों एवं शिक्षकों को कौशल शिक्षा के बारे में जागृत बनाने के लिये ‘‘स्किल ऑन व्हील अवेयरनेस ड्राईव’’ हिमाचल प्रदेश््रा के विभिन्न जिलों के विद्यालयों में जाकर व्यवसायिक शिक्षा कि प्रति जागरूकता प्रदान कर इसे अपनाने के लिए विद्यार्थियों को प्रेरित करेगी।
हिमाचल प्रदेश सरकार ने लेंड-ए-हैंड-इंडिया संस्था के साथ मिलकर शुरू किये इस अभियान के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश के करीबन 6 जिला मुख्यालय के महत्वपूर्ण स्कूलों में जाकर स्किल ऑन व्हील्स’ बस के माध्यम से व्यवसाय शिक्षा के लिए आवश्यक विविध कौशल प्रात्यक्षिक दिखाकर छात्र, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ बातचीत कर रहे हैं। माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक स्तर पर व्यावसायिक शिक्षा के विकास की केंद्र प्रायोजित योजना के बारे में जागरूकता बढाने के लिए ‘‘लेंड ए हैंड इंडिया’’ स्किल ऑन व्हील बस हिमाचल प्रदेश के शिमला, मंडी, बिलासपुर,, कांगड़ा, हमीरपुर ऊना नालागढ़, नाहन, आदि शहरो में व्यावसायिक शिक्षा का महत्व बढाने के लिये स्कूलों का दौरा करेगी और ‘प्रात्यक्षिक शिक्षा’ के माध्यम से कौशल शिक्षा को बढ़ावा देगी।
यह जागरूकता अभियान राज्य में व्यावसायिक शिक्षा योजना को मजबूत करने में मदद कर सकता है। इस स्किल यात्रा को भारत सरकार के निर्देशानुसार लेंड ए हेंड संस्था के साथ मिलकर चलाया जा रहा है, जिसमें बच्चों को तकरीबन 40 व्यवसायिक सेक्टर की जानकारी दी गई। इस स्किल यात्रा का शुभारंभ 2 जनवरी को माननीय शिक्षा मंत्री श्री सुरेश भारद्वाज जी ने शिमला से किया।
इसमें धर्मशाला क्षेत्र के नजदीकी पांच स्कूलों के लगभग 240 बच्चों के अतिरिक्त जिला शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान धर्मशाला के 230 प्रशिक्षुओं ने भाग लिया। इस दौरान विभिन्न स्कूलों से आए छात्र-छात्राओं को व्यवसायिक शिक्षा संबधीं उपकरणों का सुचारू रूप से उपयोग करने बारे जानकारी प्रदान की गई।
इस अवसर पर धलूं स्कूल से अध्यापिका भावना सहित नंदा, शैलजा, निर्जला, ईशा, विक्रम और रजनीश, मंदल से नितिन, आदित्य, अतुल, राहुल, शुभम सुनील, अनुज के साथ उपस्थित रहे। स्किल यात्रा में राज्य समन्वयक राज कुमार शर्मा, संघामित्रा दास, संदीप वर्मा, संदीप सोयल ,रोहित चौहान, जन्म सिंह, ऋषभ सरस्वती, सुनील शर्मा, लेंड ए हेंड पुणे से प्रशांत सोनावले, तुषार, अमन, महिंदर सिंह कुलभूषण कुमार, संदीप अवस्थी, जोगिंदर सिंह, अनिल जरयाल, रत्तन ठाकुर, अरविंद सिंह, अंबिका जोशी, निशा ठाकुर, नीलम, सपना धीमान आदि उपस्थित रहे।