सोलन -दिनांक 03.01.2020-राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) सोलन द्वारा आज जिला के नालागढ़ उपमंडल के नवाग्राम में स्वयं सहायता समूहों के पदाधिकारियों के लिए एक कार्यशाला आयोजित की गई।
कार्यशाला में नाबार्ड के जिला विकास प्रबन्धक अशोक चौहान ने स्वयं सहायता समूहों की अवधारणा पर विस्तार से प्रकाश डाला। इस अवसर पर समूहों के पदाधिकारियों के दायित्व, बही खाता, परिचालन में पारदर्शिता के संबंध में सारगर्भित जानकारी प्रदान की गई। कार्यशाला में नाबार्ड द्वारा कार्यान्वित की जा रही रुरल मार्ट, हाट, सूक्ष्म उद्यमिता विकास प्रशिक्षण, कृषक उत्पादक संगठन इत्यादि विभिन्न योजनाओं पर जानकारी दी गई। इस अवसर पर अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन से अरुण सिंगला द्वारा बही खाता, कार्यवाही रजिस्टर सही तरीके से बनाने के संबंध में सूक्षम रूप से समूह के पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया गया।
कार्यक्रम में विभिन्न समूहों की महिलाओं को प्रेरित करने के लिए स्वयं सहायता समूहों की कहानियां भी साझा की गईं।
यूको आरसेटी के निदेशक ने इस अवसर पर संस्थान द्वारा चलाए जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रमों की जानकारी प्रदान की। वित्तीय साक्षरता सलाहकार ने बैंको के माध्यम से चलाई जा रही किसान क्रेडिट कार्ड, अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना तथा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना पर विस्तृत जानकारी प्रदान की।
कार्यशाला में क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबन्धक संजय शर्मा, अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन के आरएस राणा, वित्तीय साक्षारता सलाहकार विक्रम ठाकुर निदेशक यूको आरसेटी सोलन, जोगिंद्रा केंद्रीय सहकारी बैंक सोबन माजरा तथा यूको बैंक जोघों के अधिकारी तथा अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन के सदस्य उपस्थित थे।