देहरा 24 अगस्तः उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर ने जिला स्तरीय छात्र खेलकूद प्रतियोगिता के समापन अवसर पर शिरकत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री युवा निर्माण योजना के तहत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में चरनबद्ध तरीके से दो बड़े बहुउद्देशीय खेल मैदान निर्मित किये जाएंगे। इन मैदानों के साथ युवाओं को जिम की सुविधा भी उपलब्ध होगी।
ठाकुर आज शनिवार को वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला डाडासीबा में 15 जोन की अंडर-19 छात्रों की 3 दिवसीय जिला स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता के समापन अवसर पर बोल रहे थे।
उद्योग मंत्री ने कहा कि विद्यार्थी काल में अनुशासन, परिश्रम की आदत बनानी चाहिये ताकि इसका लम्बे समय तक लाभ मिल सके। उन्होंने खिलाड़ियों से आह्वान किया कि वे खेल को खेल की भावना से खेलें। विभिन्न खेल जहां व्यक्तिगत विकास में महत्वपूर्ण हैं वहीं इनके माध्यम से ऊर्जा का समुचित उपयोग भी संभव होगा। उन्होंनेे खिलाड़ियों से आह्वान किया कि वे प्रतिस्पर्धा के दौर में कड़ी मेहनत कर हर चुनौती का सामना करने के लिए अपने आपको तैयार रखें। उन्होंने कहा कि आज के दौर में वही आगे बढ़ पाएगा, जिसमें प्रतियोगिता की भावना होगी एवं हर कला में पारंगत होगा।
बिक्रम ठाकुर ने कहा कि इससे शारीरिक, बौद्धिक और मानसिक विकास तो होता ही है, अनुशासन, प्रतिस्पर्धा, परिश्रम और देशप्रेम की भावना को भी बल मिलता है। प्रदेश के खिलाड़ी विभिन्न खेलों में अपने अच्छे प्रदर्शन से प्रदेश व देश का नाम रोशन कर रहे हैं, यह सभी के लिए गौरव की बात है। सरकार खिलाड़ियों को सभी सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए प्रतिबद्ध है।
बिक्रम ठाकुर ने अध्यापकों से विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने के साथ-साथ उनके व्यक्तित्व विकास का आह्वान करते हुए कहा कि युवा देश के भविष्य निर्माता हैं और उनकी बहुमुखी प्रतिभा को निखारा जाना चाहिए। उन्होंने बच्चों के मानसिक, शारीरिक तथा बौद्धिक विकास के लिए शिक्षा के साथ-साथ खेलों तथा अन्य सांसकृतिक गतिविधियों में सक्रिय भागीदारी की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का मानना है कि प्रदेश तभी आगे बड़ेगा जब यहाँ का युवा और छात्र आगे बढ़ेगा और सरकार युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए हर संभव प्रयास करेगी।
उन्होंने कहा कि यह बहुत गर्व का विषय है कि उनके विधान सभा क्षेत्र जस्वां-परागपुर में इन खेलों का आयोजन किया गया। उन्होंने स्कूल के अध्यापकों और कर्मचारियों के अलावा संगठन एवं क्षेत्र के समस्त लोगों को युवाओं को नशे से दूर रखने के लिए खेलों को बढ़ावा देने को कहा।
इस तीन दिवसीय खेल-कूद प्रतियोगिता में 15 शिक्षा खंड के विभिन्न स्कूलों के 700 छात्रों ने भाग लिया। प्रतियोगिता में खो-खो, कबड्डी, वालीबाल, बैडमिंटन और कुश्ती स्पर्धा का आयोजन किया गया।
बिक्रम ठाकुर ने विजेता टीमों को पुरस्कृत किया। खो-खो में नगरोटा बगवां प्रथम और बैजनाथ द्वितीय, वालीबाल में फतेहपुर प्रथम एवं जस्वां- परागपुर द्वितीय, कबड्डी में काँगड़ा प्रथम एवं फतेहपुर, बैड्मिंटन में नूरपुर प्रथम एवं सुलह द्वितीय और कुश्ती में फतेहपुर प्रथम एवं इन्दौरा द्वितीय विजेता रहा। इस दौरान बिक्रम ठाकुर ने खेलों को बढ़ावा देने के लिए 21हजार रुपये की राशि भी दी।
स्कूल के प्रधानाचार्य पवन कुमार ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा स्कूल द्वारा चलाई जा रही विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। डीएसएसए सचिव काँगड़ा जगदीश कौंडल ने टूर्नामेंट की विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की।
इस अवसर पर जिला भर से आए विद्यार्थियों ने मार्च पास्ट कर मुख्यातिथि बिक्रम ठाकुर को सलामी दी। साथ ही स्थानीय स्कूल के बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये।
इसके उपरांत उद्योग मंत्री ने डाडासीबा में लोगों की समस्याओं को सुना अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया तथा शेष समस्याओं के समाधान के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये।
इस अवसर पर प्रधानाचार्य डाडासिबा स्कूल पवन कुमार, मंडल अध्यक्ष विनोद शर्मा, पूर्व मंडल अध्यक्ष हरबंस कालिया, महिला मोर्चा अध्यक्षा अनीता सुपहिया, महामंत्री शेर सिंह डोगरा एवं रुपिंदर सिंह डैनी, किसान मोर्चा अध्यक्ष राकेश पठानिया, जन कल्याण विकास मंच सदस्या सपना देवी, एसडीएम धनवीर ठाकुर, डीएसपी एल.एम शर्मा, अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग गुरचरन राणा, अधिशाषी अभियंता विद्युत विभाग, डीएसएसए सचिव जगदीश कोंडल, विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी, विभिन्न स्कूलों से आए शिक्षक व विद्यार्थी एवं स्थानीय जनता भारी मात्रा में उपस्थित रही।