विद्यार्थी जीवन में खेलों का विशेष महत्व- विपिन सिंह परमार

धर्मशाला, 13 अगस्त- स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री, विपिन सिंह परमार ने आज सुलह विधानसभा क्षेत्र के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पुढ़वा में आयोजित सुलह जोन की अंडर 19 वर्ष से कम आयु वर्ग के छात्रों की तीन दिवसीय खेलकूद प्रतियोगिता के समापन समारोह में बतौर मुख्याअतिथि के रूप में शिरकत की । इस प्रतियोगिता 31 स्कूलों के 342 खिलाड़ियों ने भाग लिया।
उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि विद्यार्थी जीवन में शिक्षा के साथ-साथ खेलों का भी विशेष महत्व है। खेलों से बच्चों के व्यक्तित्व का बहुआयामी विकास होता है। उनमें जुझारूपन, अनुशासन, सहयोग और नेतृत्व के गुणों का विकास होता है।
उन्होंने अध्यापकों से विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने के साथ-साथ उनके व्यक्तित्व विकास का आह्वान करते हुए कहा कि युवा देश के भविष्य निर्माता है और उनकी बहुमुखी प्रतिभा को निखारा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ खेलों का भी विद्यार्थी जीवन में अहम् रोल है। इससे विद्यार्थियों में अनुशासन के साथ-साथ आपसी भाईचारे का समावेश भी होता है।
उन्होंने प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए स्कूल के प्रधानाचार्य व खेलकूद प्रतियोगिता में सहयोग के लिए स्टॉफ की पीठ थपथपाई व बधाई दी। उन्होंने छात्रों को अच्छे भविष्य की कामना की।
इस मौके पर उन्होंने अर्जुन का पौधा लगाया। इस अवसर पर स्थानीय स्कूली बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। मुख्यातिथि ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए 51000 रुपए देने की भी घोषणा की। स्कूल के सेवानिवृत प्रधानाचार्य रमेश गोयल ने मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 11000 रुपए का चैेक दिया।
उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पुढ़वा के अधूरे पड़े भवन के कार्य को शीघ्र पूरा करने लिए लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए तथा खेल मैदान व स्टेज की छत के लिए प्राक्कलन तैयार करने को भी कहा।
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सुलह ने ओवरऑल ट्रॉफी हासिल की।
इसके उपरांत उन्होंने जन समस्याएं भी सुनीं।
इस अवसर पर मंडलाध्यक्ष देसराज शर्मा, महामंत्री चन्द्रवीर पाल, एसडीएम धीरा संजीव ठाकुर, प्रधानचार्य पुढ़बा विजय गुलेरिया, प्रधानाचाय एसोसिएशन के प्रधान अनिल नाग, एसएमसी प्रधान राकेश राणा, प्रधान पुढ़बा रुचि राणा, प्रधान बलौटा सुमना देवी , उपप्रधान पुढ़बा नरेंद्र कुमार, प्रीतम राणा, डॉक्टर सुरेंद्र, विपिन राणा, कर्नल धर्मेश कानोत्रा, रमेश परिहार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, स्कूलों के प्रतिनिधि, पंचायत के प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में क्षेत्र लोग मौजूद थे।
===============================================

सोलन दिनांक 13.08.2019
आंगनबाड़ी सहायिका पदों के लिए आवेदन आमंत्रित

बाल विकास परियोजना धर्मपुर में आंगनवाड़ी सहायिका के रिक्त पदों को भरने के लिए 28 अगस्त, 2019 को प्रातः 11 बजे बाल विकास परियोजना अधिकारी कार्यालय धर्मपुर के सभागार में वाक-इन-इन्टरव्यू (साक्षात्कार) आयोजित किए जाएंगे। यह जानकारी आज यहां एक विभागीय प्रवक्ता ने दी।
उन्होंने कहा कि इन पदों पर सरकार द्वारा समय-समय पर निर्धारित मानदेय देय होगा। इच्छुक अभ्यर्थी बाल विकास परियोजना अधिकारी कार्यालय धर्मपुर के कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं।
उन्होंने कहा कि बाल विकास परियोजना वृत कसौली के तहत आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नंबर 3 कसौली तथा बाल विकास परियोजना वृत कृष्णगढ़ के तहत आंगनबाड़ी केंद्र नयानगर में एक-एक पद आंनबाड़ी सहायिका का भरा जाना है।
उन्होंने कहा कि इन पदों के लिए वही महिला उम्मीदवार पात्र हैं जो सम्बन्धित आंगनवाड़ी केन्द्र के लाभान्वित क्षेत्र में प्रथम जनवरी 2019 को सामान्य रूप से रह रहे परिवार से सम्बन्ध रखती हो। उम्मीदवार की आयु 21 से 45 वर्ष के मध्य होनी चाहिए। आंगनवाड़ी सहायिका के लिए शैक्षणिक योग्यता आठवीं पास होनी चाहिए। सहायिका पद के लिए आठवीं पास शैक्षणिक योग्यता के उम्मीदवार उपलब्ध न होने की स्थिति में न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता पांचवी पास मान्य होगी। उन्होंने कहा कि इन पदों के लिए उम्मीदवार के परिवार की वार्षिक आय 35 हजार रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। इस संबंध में उम्मीदवार को तहसीलदार अथवा नायब तहसीलदार द्वारा जारी तथा प्रतिहस्ताक्षरित प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा।
उन्होंने कहा कि आवेदक को आवेदन पत्र के साथ आयु, शैक्षणिक योग्यता, जाति, अपंगता, अनुभव, हिमाचली, परिवार रजिस्टर की नकल व अन्य योग्यता प्रमाणपत्रों की प्रमाणित प्रतियां साक्षात्कार के समय या इससे पूर्व जमा करवाने होंगे। उम्मीदवारों को पंचायत सचिव अथवा तहसीलदार से प्रतिहस्ताक्षरित स्थाई निवासी का प्रमाण पत्र लाना भी अनिवार्य है। आय प्रमाण पत्र तहसीलदार अथवा नायब तहसीलदार या इनसे अधिकर स्तर के अधिकारी प्रतिहस्ताक्षरित होना चाहिए। उम्मीदवारों को साक्षात्कार के दिन इन सभी प्रमाणपत्रों की मूल प्रतियां अपने साथ लाना अनिवार्य है। साक्षात्कार की तिथि बारे अलग से सूचित नहीं किया जाएगा।
अधिक जानकारी के लिए इच्छुक उम्मीदवार नजदीक के आंगनवाड़ी केन्द्र अथवा बाल विकास परियोजना अधिकारी धर्मपुर के कार्यालय दूरभाष नम्बर 01792-264037 पर सम्पर्क कर सकते हैं।
.
=====================================================

सोलन दिनांक 13.08.2019
अखिल भारतीय सैनिक विद्यालय प्रवेश परीक्षा 5 जनवरी, 2020 को

सैनिक स्कूल सुजानपुर टिहरा में छठीं एवं 9वीं कक्षा में प्रवेश के लिए अखिल भारतीय सैनिक विद्यालय प्रवेश परीक्षा 2020-21 का आयोजन 5 जनवरी, 2020 को किया जाएगा। यह जानकारी आज यहां एक सरकारी प्रवक्ता ने दी।
प्रवक्ता ने कहा कि यह प्रवेश परीक्षा केवल लड़कों के लिए आयोजित की जाएगी। प्रवेश परीक्षा में भाग लेने के लिए आॅनलाइन पंजीकरण करवाना होगा। प्रवेश परीक्षा के लिए आॅनलाइन आवेदन पत्र 5 अगस्त, 2019 से मिलने आरंभ हो गए हैं। उन्होंने कहा कि आॅनलाइन पंजीकरण की अंतिम तिथि 23 सितंबर, 2019 निर्धारित की गई है।
उन्होंने कहा कि छठी कक्षा में प्रवेश के लिए छात्र का जन्म प्रथम अप्रैल 2008 से 31 मार्च, 2010 के मध्य हुआ होना चाहिए। नवीं कक्षा में प्रवेश के लिए छात्र का जन्म प्रथम अप्रैल 2005 से 31 मार्च 2007 के मध्य हुआ होना चाहिए। प्रवेश परीक्षा में भाग लेने के लिए शुल्क का भुगतान भी आॅनलाइन ही होगा। प्रवेश परीक्षा प्रदेश के निर्धारित केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी।
प्रवक्ता ने कहा कि आॅनलाइन आवेदन वैब लिंक sainikschooladmission.in/index.html पर किए जा सकते हैं।
इस संबंध में अधिक जानकारी दूरभाष संख्या 01972-272024, 272039, 272040, मोबाइल नंबर 085100-44411 तथा हेल्पलाइन नंबर 0120-4348911 एवं 12 पर प्राप्त की जा सकती है।
अधिक जानकारी के लिए sainikschooladmission@gmail.com पर ईमेल की जा सकती है अथवा वैबसाईट www.sainikschoolsujanpurtira.org पर संपर्क किया जा सकता है। ==================================================

सोलन -दिनांक 13.08.2019

जिला स्तरीय स्वतंत्रता के आयोजन की सभी तैयारियां पूर्ण-केसी चमन

उपायुक्त ने की सभी से समारोह में उपस्थित होने की अपील
उपायुक्त सोलन केसी चमन ने कहा कि 15 अगस्त, 2019 को ऐतिहासिक ठोडो मैदान में आयोजित होने वाले जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं।
उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष डाॅ. राजीव बिंदल जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता करेंगे। वे प्रातः 11.00 बजे ठोडो मैदान में राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे और भव्य मार्चपास्ट की सलामी लेंगे। उन्होंने कहा कि इस अवस पर विभिन्न विद्यालयों द्वारा हिमाचल एवं सोलन की संस्कृति तथा देशभक्ति को दर्शाता सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया जाएगा।
उपायुक्त ने कहा कि डाॅ. बिंदल इस शुभ अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों एवं संस्थाओं को सम्मानित भी करेंगे।
केसी चमन ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस सभी के लिए गौरवान्वित करने वाला क्षण है। यह दिवस हम सभी को जहां एक ओर स्वतंत्रता के लिए असंख्य वीरों द्वारा दिए गए बलिदान की याद दिलाता है वहीं हमें यह प्रतिज्ञा करने के लिए भी संकल्पित करता है कि स्वतंत्रता को हर कीमत पर बनाए रखना है। उन्होंने सभी चुने हुए प्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों एवं आमजन से आग्रह किया कि जिला स्तरीय समारोह में ठोडो मैदान में पहुंचे और इस अवसर पर भारत मां के वीर सपूतों को श्रद्धांजलि अर्पित करें।
===============================

शहर में खुले में कूड़ा फैंकने वालों के कटेंगे चालान, सीसीटीवी कैमरा से रखी जाएगी निगरानीः उपायुक्त

हमीरपुर, 13 अगस्त। उपायुक्त श्री हरिकेश मीणा की अध्यक्षता में आज यहां हमीर भवन में साप्ताहिक समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। इसमें विभिन्न विभागों से जुड़े पहलुओं पर चर्चा की गयी।

श्री हरिकेश मीणा ने कहा कि हमीरपुर शहर में घर-घर से कूड़ा एकत्र करने की प्रक्रिया में काफी सुधार देखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि शहर को स्वच्छ बनाए रखने तथा इस अभियान को सफल बनाने में यहां के स्थानीय निवासियों की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे इधर-उधर कूड़ा फेंकने के बजाय नगर परिषद द्वारा नामित व्यक्ति के माध्यम से ही इसका निष्पादन करें। उन्होंने नगर परिषद अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रति वार्ड कूड़ा उठाने वाले वाहनों की सूची तैयार करें और लोगों को इन गाड़ियों के आने-जाने का समय तथा कूड़ा एकत्रीकरण के बारे में निरंतर सूचित व जागरूक करते रहें।

उन्होंने कहा कि खुले में कूड़ा फैंकने वालों के चालान काटे जाएं और इसके लिए शहर के विभिन्न स्थानों पर स्थापित सीसीटीवी कैमरा की सहायता से साक्ष्य जुटाकर दोषियों के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। कूड़ा-कचरा एकत्र करने में तैनात वाहनों की कार्यप्रणाली की भी समुचित निगरानी की जाए और उपमंडलाधिकारी (ना.) से आग्रह किया कि वे इसके लिए औचक निरीक्षण भी करें। उन्होंने नगर परिषद अधिकारियों को निर्देश दिए कि शहर में 100 कि.ग्रा. से अधिक मात्रा में कूड़ा-कचरा उत्पादित करने वाले निजी संस्थानों, व्यापारिक व अन्य प्रतिष्ठानों की सूची अद्यतन (अपडेट) करें और इनके द्वारा कचरा निष्पादन हेतु प्रयोग में लाई जा रही प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त कर उन्हें इसके समुचित निपटान की बाध्यता के बारे में भी अवगत करवाएं।

शहर में घरेलू भवनों के व्यवसायिक उपयोग के बारे में चर्चा करते हुए उन्होंने संबंधित विभागों को निर्देश दिए कि वे यह सुनिश्चित करें कि यहां शैक्षणिक व अन्य गतिविधियों से संबंधित संस्थान मानकों के अनुरूप स्थापित किए गए हैं। उन्होंने पुलिस व शिक्षा विभाग से आग्रह किया कि शैक्षणिक संस्थानों के आस-पास संदिग्ध गतिविधियों पर भी कड़ी निगरानी रखें। उन्होंने कहा कि शहर के प्रमुख स्थलों पर सीसीटीवी कैमरे स्थापित कर अवंछानीय गतिविधियों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इसी तरह की व्यवस्था अन्य स्थानों पर भी की जाएगी ताकि कानून-व्यवस्था बनाए रखने के साथ-साथ कूड़ा-कचरा खुले में फैंकने वालों तथा अन्य शरारती तत्वों की भी निगरानी की जा सके।

बैठक में वन विहार वाटिका (चिल्ड्रन पार्क) में हाई मास्ट लगाने, पेयजल स्रोतों की साफ-सफाई व मच्छरों इत्यादि की रोकथाम, दूध-पनीर व अन्य खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता, महिला थाना सहित अन्य मामलों पर भी चर्चा की गई।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन, अतिरिक्त उपायुक्त रत्तन गौत्तम, सहायक आयुक्त राजकिशन, उपमंडलाधिकारी (ना.) डॉ. चिरंजी लाल, पुलिस उपाधीक्षक रेणु शर्मा सहित अन्य विभागों के उच्चाधिकारी उपस्थित थे।