CHANDIGARH,15.05.19-प्राचीन कला केन्द्र एवं मोहाली सीनियर सिटीज़न ऐसोसिएशन की तरफ से एक सुरमई शाम का आयोजन किया गया । जिसमें मशहूर गीतकार श्री आर.डी.कैले,डाॅ.कोमल चुघ एवं श्री एस.डी.शर्मा ने शिव कुमार बटालवी के कुछ चुनिंदा गीत एवं कुछ खूबसूरत गजलों से इस शाम को सुरमई बना दिया । कार्यक्रम का आयोजन प्राचीन कला केन्द्र के डाॅण्शोभा कौसर सभागार मोहाली में किया गया ।
इस अवसर पर डाॅ.हरीश के.पुरी ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की ।

कार्यक्रम में सबसे पहले श्री एस.डी.शर्मा ने कुछ गीत और गजलें पेश की । जिसमें शहर तेरे तरकालां ढलियां,मैनूं विदा करो,जिएंगे ताज़ा गुलाब बनकर एवं ये कौन सी गई दिलरूबा महकी महकी पेश करके दर्शकों का मनोरंजन किया । उपरांत डाॅ.कोमल चुघ ने कुछ गीत एवं गजलें प्रस्तुत करके खूब तालियां बटोरी । कोमल चुघ ने मैं चभें दी खुशबू, आज जाने की जिद्द न करो, दिल में एक लहर सी है, हर तरफ हर जगह बेशुमार आदमी जैसी गजलें पेश करके खूब तालियां बटोरी ।
कार्यक्रम के अंतिम भाग में प्रसिद्ध गायक श्री आर.डी.कैले ने मंच संभाला और कुछ खूबसूरत गीतों एवं गजलों से शाम को और भी संगीतमयी बना दिया । उन्होंने मैनूं तां मेरे दोस्तां मेरे गम ने मारिया, इक कुड़ी तथा चुपके चुपके,क्या से क्या देखते रह गए जैसी गजलें पेश करके खूब वाहवाही लूटी ।
कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि श्री सजल कौसर एवं प्रिंसीपल एस.चैधरी,वाइस प्रेसीडेंट,मोहाली सीनियर सिटीज़न ऐसोसिएशन ने कलाकारों को सम्मानित किया ।