कुल्लू- 14 मार्च 2019
मनाली विस क्षेत्र के 8 मतदान केंद्रों के नाम में आंशिक बदलाव
मनाली विधानसभा क्षेत्र के 8 मतदान केंद्रोें के नामों में आंशिक बदलाव किया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त यूनुस ने बताया कि कुछ स्कूलों के स्तरोन्नत होने के कारण यह बदलाव किया गया है। मतदान केंद्र बुरुआ-2 का नाम अब राजकीय उच्च पाठशाला बुरुआ होगा। इसी तरह मतदान केंद्र चित्राकूट अब डेफरी स्थित राजकीय प्राथमिक पाठशाला चित्राकूट, मतदान केंद्र कटराईं-1 राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कटराईं में स्थापित किया जाएगा।
इसी प्रकार लरांकेलो-1 का मतदान केंद्र रावमापा नथान स्थित लरांकेलो, बबेली का मतदान केंद्र पंचायत घर जिंदौड़ स्थित बबेली होगा। बनोगी के लिए रामापा नलहाच, नथान के लिए रामापा बस्तोरी तथा भेखली का मतदान केंद्र रावमापा सारी स्थित भेखली होगा।
--------------------------------------------------------------------------------------
दियोटसिद्ध में सिद्ध बाबा बालक नाथ जी के चैत्र मास मेले का शुभारंभ, श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए सभी आवश्यक प्रबंध पूरे : उपायुक्त
HAMIRPUR,14.03.19-हमीरपुर जिला के दियोट सिद्ध में एक माह तक आयोजित होने वाला सुप्रसिद्ध श्री सिद्ध बाबा बालक नाथ जी का चैत्र मास मेला आज से प्रारंभ हो गया। शुभारंभ अवसर पर उपायुक्त एवं आयुक्त श्री सिद्ध बाबा बालकनाथ जी मंदिर न्यास डॉ. रिचा वर्मा विशेष रूप से उपस्थित थीं।
इस अवसर पर पूजा-अर्चना के उपरांत हवन-यज्ञ की पूर्णाहुति डाली गयी और बाबा जी की भोग लगाने के बाद झंडा रस्म अदा की गयी।
डॉ. ऋचा वर्मा ने इस अवसर पर सभी श्रद्धालुओं को चैत्र मास मेले की हार्दिक शुभकामनाएं देते करते हुए कहा कि श्री सिद्ध बाबा बालक नाथ जी का यह पावन धाम हमीरपुर जिला ही नहीं बल्कि प्रदेश व देश के साथ-साथ विदेशों तक विख्यात है। प्रतिवर्ष लाखों श्रद्धालु चैत्र मास मेले के दौरान बाबा जी के दर्शनों के लिए दूर-दूर से यहंां पहुंचते हैं। उन्होंने कहा कि हर बार की तरह इस बार भी श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन व मंदिर न्यास द्वारा सभी न्यासियों व प्रबुद्धजनों के सहयोग से मेले के सफल आयोजन के लिए कई कदम उठाए गए हैं। श्रद्धालुओं को कतारों में आने व जाने के लिए स्टील रेलिंग लगाई गई हैं। उन्हें भवूती के साथ धूप का वितरण करने की भी व्यवस्था की गयी है। चकमोह से दयोट सिद्ध व दयोट सिद्ध से शाहतलाई तक श्रद्धालुओं के बैठने व आराम करने के लिए स्थान-स्थान पर सडक़ किनारे बैंच लगवाए गए हैं। कुछ स्थानों पर और रास्तों में 10 सौर लाईटें स्थापित की गई हैं। दयोटसिद्ध से लेकर शाहतलाई तक एलईडी लाईटें लगवाई गई हैं ताकि रात्रि के समय भी रौशनी की पर्याप्त व्यवस्था रहे।
उन्होंने कहा कि मंदिर परिसर में पंक्तिबद्ध श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए वाटर प्रूफ मैट (दरी) बिछवाई गई हैं, ताकि अधिक गर्मी होने पर उस पर पानी इत्यादि डालकर उन्हें राहत पहुंचाई जा सके। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए रास्ते में आवश्यक सूचना के फ्लैक्स लगाए गए हैं और मंदिर परिसर में भी बिजली की स्लाईड स्क्रीन के माध्यम से विभिन्न जानकारियां उपलब्ध करवाई जा रही हैं जिनमें चढ़ावे का विवरण भी शामिल है। बस अड्डा पर श्रदधालुओं की सुविधा के लिए पानी का कूलर लगवाया गया है और प्रत्येक सरायं, कैंटीन व पुलिस नियंत्रण कक्ष और स्वागत कक्ष में एक ही सीरीज केै वायरलेस सिम फोन लगवाए गए हैं। मेले के दौरान साफ-सफाई के भी पुख्ता प्रबंध किए गए हैं और पुरूष व महिलाओं के लिए अलग-अलग अस्थायी शौचालय भी स्थापित किए गए हैं। कैंटीन संख्या एक में श्रद्धालुओं के लिए सस्ती दरों पर भोजन की व्यवस्था की गयी है जिसके लिए मंदिर के भंडार से अतिरिक्त राशन का उपयोग किया जा रहा है।
उन्होंने स्थानीय व विशेषतौर पर बाहरी राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं से आग्रह किया कि वे मंदिर तक पहुंचने के लिए विधिमान्य परिवहन सेवाओं का ही उपयोग करें और ट्रकों इत्यादि में यात्रा न करें, ताकि किसी भी संभावित दुर्घटना इत्यादि से बचा जा सके।
इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त रत्तन गौत्तम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय कुमार सकलानी, श्री सिद्ध बाबा बालकनाथ जी मंदिर न्यास के अध्यक्ष एवं उपमंडलाधिकारी बड़सर विशाल शर्मा, मंदिर अधिकारी ओ.पी. लखनपाल, न्यास के सभी न्यासी, मंदिर के महंत सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
-------------------------------------------------
सोलन दिनांक 14.03.2019
लोकसभा चुनाव में स्थापित होंगे 557 मतदान केंद्र
19 सेक्टर मजिस्ट्रेट जबकि 70 सेक्टर अधिकारियों की होगी तैनाती
383070 मतदाता करेंगे अपने मताधिकार का प्रयोग
उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी विनोद कुमार ने आज यहां कहा कि लोकसभा चुनाव में सोलन जिला में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव संपन्न करवाने के लिए 19 सेक्टर मजिस्ट्रेट जबकि 70 सेक्टर अधिकारियों की तैनाती भी की जाएगी। उन्होंने बताया कि 21 जनवरी 2019 के आधार पर जिले के 383070 मतदाता लोकसभा चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि मताधिकार के लिए जिले में 557 मतदान केंद्र स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि कुल 557 मतदान केंद्रों में से 34 अति संवेदनशील घोषित किए गए हैं। इनमें से सर्वाधिक 13 मतदान केंद्र नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र के तहत हैं।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जो मतदाता फोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र प्रस्तुत नहीं कर सकेंगे वे अपनी पहचान की पुष्टि के लिए पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, नियोक्ता द्वारा जारी किया गया पहचान पत्र, बैंक या डाकघर द्वारा जारी पासबुक, पैन कार्ड, श्रम मंत्रालय द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, हेल्थ इंश्योरेंस स्मार्ट कार्ड, पेंशन कागजात, संसद सदस्य, विधायक या म्यूनिसिपल काउंसिलर को जारी आधिकारिक पहचान पत्र और आधार कार्ड दिखा सकते हैं।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने यह भी कहा कि राजनीतिक दलों द्वारा रैलियों और सभाओं के आयोजन के लिए सहायक निर्वाचन अधिकारियों द्वारा स्थलों को चिन्हित किया गया है। यह स्थल राजनीतिक दलों द्वारा लिखित आवेदन पर पहले आओ पहले पाओ के आधार पर उपलब्ध किए जाएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि लोकसभा चुनाव के दौरान आदर्श आचार संहिता को सुनिश्चित बनाने के लिए 15 स्टेटिक सर्विलांस टीमों का गठन किया गया है। जबकि इतनी ही संख्या में फ्लाइंग स्क्वायड भी तैनात रहेंगे। इसके अलावा 10 वीडियो सर्विलांस टीमें भी गठित की गई हैं। चुनाव प्रचार के दौरान रात 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक किसी को भी लाउड स्पीकर बजाने की अनुमति नहीं रहेगी। इसके अलावा मतदान प्रक्रिया संपन्न होने के लिए निर्धारित समय से 48 घंटे पूर्व तक की अवधि के दौरान भी लाउडस्पीकर का प्रयोग पूर्णतया वर्जित होगा।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि चुनाव प्रचार के लिए किसी भी धार्मिक स्थल या पूजा स्थल का उपयोग नहीं किया जा सकेगा। जिला निर्वाचन अधिकारी ने यह भी कहा कि राजनीतिक दलों या प्रत्याशियों द्वारा चुनाव प्रचार रैलियों और सभाओं इत्यादि के आयोजन के लिए प्रयुक्त की जाने वाली विभिन्न आइटमों के रेट चार्ट को भी अनुमोदित किया जा चुका है। इसी रेट चार्ट के आधार पर व्यय को संबंधित प्रत्याशी या राजनीतिक दल के चुनावी खर्च में जोड़ा जाएगा।
.-------------------------------------------
सोलन दिनांक 14.03.2019
जिले के टोल नाकों की नीलामी स्थगित
आबकारी एवं कराधान विभाग द्वारा वित्त वर्ष 2019-20 के लिए सोलन जिला के विभिन्न टोल नाकों की नीलामी जो कि 15 मार्च, 2019 को निर्धारित की गई थी, को किन्हीं अपरिहार्य कारणों से स्थगित कर दिया गया है।
उपायुक्त राज्य कर एवं आबकारी हिमांशु आर पंवर ने बताया नीलामी की आगामी तिथि के बारे में बाद में सूचित किया जाएगा।
-----------------------------------------------
सोलन दिनांक 14.03.2019
16 मार्च को विद्युत आपूर्ति बाधित
प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड सोलन से प्राप्त जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग पर फोरलेन कार्य के चलते 16 मार्च को विद्युत लाइनों का आवश्यक मुरम्मत व रखरखाव कार्य किया जाना है। इसके दृष्टिगत सोलन के विभिन्न क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी। यह जानकारी सहायक अभियंता विपुल कश्यप ने आज यहां दी।
उन्होंने कहा कि इसके दृष्टिगत सोलन शहर, रबौन, दियोठी, चम्बाघाट, शामती, बड़ोग, जौणाजी, सलोगड़ा, ब्रूरी तथा इसके आसपास के क्षेत्रों में 16 मार्च, 2019 को प्रातः 9.00 बजे से सांय 5.00 बजे तक विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी। 16 मार्च को मौसम खराब होने की स्थिति में विद्युत आपूर्ति अगले दिन बाधित की जाएगी।
उन्होंने लोगों से इस अवधि के दौरान सहयोग की अपील की है।
-----------------------------------------
सोलन दिनांक 14.03.2019
जिले के टोल नाकों की नीलामी कल
आबकारी एवं कराधान विभाग वित्त वर्ष 2019-20 के लिए सोलन जिला के टोल नाकों की नीलामी करेगा।
उपायुक्त राज्य कर एवं आबकारी हिमांशु आर पंवर ने बताया कि यह नीलामी 15 मार्च को आयोजित की जाएगी। नीलामी प्रक्रिया सुबह 11.00 बजे शुरू होगी।
--------------------------------------------
सोलन दिनांक 14.03.2019
चुनाव के दौरान विज्ञापनों का प्रमाणीकरण आवश्यक-जिला निर्वाचन अधिकारी
प्रसारण आरंभ होने की निर्धारित तिथि से 3 दिन पूर्व प्रस्तुत करना होगा विज्ञापन का मसौदा
लोकसभा चुनाव-2019 के तहत राजनीतिक दलों, समूह या प्रत्याशी को आवश्यक तौर पर सार्वजनिक मीडिया में कोई भी विज्ञापन जारी करने से पहले मीडिया प्रमाणीकरण एवं निगरानी समिति से आवश्यक अनुमोदन लेना जरूरी होगा।
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विनोद कुमार ने कहा कि सोलन जिला मुख्यालय स्थित जिला लोक संपर्क अधिकारी कार्यालय में मीडिया प्रमाणीकरण एवं निगरानी समिति का कार्यालय निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा कि आदर्श आचार संहिता के लागू होने के बाद मीडिया प्रमाणीकरण एवं निगरानी समिति का कार्य भी शुरू हो गया है। उन्होंने प्रसारण आरंभ होने की निर्धारित तारीख से कम से कम 3 दिन पूर्व कहा कि समिति द्वारा प्रिंट और इलैक्ट्रॉनिक विज्ञापनों के प्रारूप और पेड न्यूज का अवलोकन करते हुए नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि मीडिया प्रमाणन का मूल उद्देश्य आदर्श आचार संहिता के अनुपालन से जुड़ा हुआ है।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि सामाजिक सद्भाव बिगड़ने की आशंका, तनाव बढ़ाने वाला, नैतिकता सदाचार के विपरीत और किसी भी धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने वाले विज्ञापनों का प्रमाणीकरण नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोई भी राजनीतिक दल या प्रत्याशी अपना आवेदन प्रस्तावित विज्ञापन की डिजिटल प्रति और दो प्रतियों में उसका प्रतिलेख प्रसारण आरंभ होने की निर्धारित तारीख से कम से कम 3 दिन पूर्व संबंधित मीडिया प्रमाणीकरण एवं निगरानी समिति को प्रस्तुत करेगा।
---------------------------------------
जिला सैनिक कल्याण बोर्ड की बैठक आयोजित
धर्मशाला, 14 मार्च: उपायुक्त कांगड़ा संदीप कुमार की अध्यक्षता मेें आज यहां जिला सैनिक कल्याण बोर्ड की बैठक आयोजित की गई। उन्होंने बताया कि पेंशन भुगतान में परिवार की संयुक्त अधिसूचना के 19 मामलें लम्बित है, जिनकी सूची डीपीडीओ के कार्यालय योल में उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि यह पंेनशर डीपीडीओ कार्यालय आर्मी रिकार्ड के पास अपने प्रमाणपत्र दर्ज करवायें ताकि उन्हें पेंशन समय पर मिल सकें।
उपनिदेशक, जिला सैनिक कल्याण विभाग सेवानिवृत स्क्वाड्रन लीडर मनोज राणा ने बैठक की का संचालन किया तथा विभाग से संम्बंधित विभिन्न गतिविधियों बारे विस्तृत जानकारी दी।
इस अवसर पर विभिन्न विभागों के अधिकारी सहित अन्य गैर-सरकारी एवं सरकारी सदस्य उपस्थित थे।
--------------------------------------------------------------------------
एक लाख रूपये से उपर बैंक खातों में लेन-देन पर रखें नजर
धर्मशाला, 14 मार्च। लोकसभा निर्वाचन-2019 के दृष्टिगत जिला के सभी बैंकों के अधिकारियों को चुनाव आचार संहिता के दौरान बैंक खातों में लेन देन की मानिटरिंग सुनिश्चित करने का प्रशिक्षण दिया गया। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त राघव शर्मा ने बताया कि किसी भी खाते में एक लाख रूपये से उपर की जमा निकासी के बारे में पूरी छानबीन की जानी जरूरी है, इसके साथ ही आरटीजीएस के माध्यम से एक खाते से मल्टीपल एकाउंट्स में पैसे स्थानंतरित होने पर भी नजर रखी जानी चाहिए तथा इसकी प्रतिदिन रिपोर्ट व्यय निगरानी समिति को दी जानी जरूरी है। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग के निर्देशानुसार प्रत्याशी को नामांकन के दौरान अपने चुनावी बैंक अकाउंट भी अलग से खुलवाना पड़ेगा तथा उस बैंक एकाउंट में लेन देन पर की भी समीक्षा की जाएगी।
उन्होंने बताया कि बैंक खातों में दस लाख से उपर की राशि निकालने या जमा करवाने की सूचना आयकर विभाग के नोडल आफिसर को दी जानी जरूरी है। अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि लोकसभा चुनाव में प्रत्याशियों तथा पार्टियों के खर्च पर नजर रखने के लिए विभिन्न स्तरों पर कमेटियां भी गठित की गई हैं।
उन्होंने बताया कि लोकसभा प्रत्याशी को चुनाव प्रचार के लिए चुनाव आयोग द्वारा सत्तर लाख की राशि व्यय करने का प्रावधान रखा गया है तथा इस निर्धारित व्यय सीमा पर नजर रखने के लिए व्यय निगरानी समिति का गठन किया गया है जो कि प्रतिदिन रिपोर्ट चुनाव आयोग को प्रेषित करता है। उन्होंने कहा कि सभी बैंकों के अधिकारी अपने अपने बैंकों में प्रतिदिन की रिपोर्ट प्रेषित करने के नोडल अधिकारी भी तैनात कर लें ताकि निष्पक्ष तौर चुनावी प्रक्रिया संपन्न हो सके।
जमा-ऋण अनुपात में सुधार जरूरी: डीसी
धर्मशाला, 14 मार्च। उपायुक्त संदीप कुमार ने कहा कि जमा ऋण अनुपात में सुधार के लिए बैंकर्स को कारगर कदम उठाने अत्यंत जरूरी है। उपायुक्त संदीप कुमार वीरवार को जिला अग्रणी बैंक पीएनबी द्वारा आयोजित जिला स्तरीय समीक्षा समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बैंकिग प्रणाली के बारे में आम जनमानस को जानकारी देने के लिए जागरूकता शिविर आयोजित किए जाने जरूरी हैं।
उन्होंने कहा कि बैंकों द्वारा लोगों को एटीएम इत्यादि की सुविधा प्रदान की है लेकिन एटीएम उपभोक्ताओं के लिए क्या क्या सुविधाएं दी जा रही हैं इसके बारे में भी लोगों को जागरूक किया जाए। उन्होंने कहा कि त्रैमासिक समीक्षा बैठकों में सभी बैंकों के अधिकारी नियमित तौर पर उपस्थित रहें ताकि सही तौर पर बैकिंग सेवाओं की समीक्षा की जा सके इसके साथ उपायुक्त ने सभी बैंकर्स को निर्धारित लक्ष्यों को समयबद्व पूरा करने के दिशा निर्देश भी दिए गए।
इस अवसर पर पीएनबी के डिप्टी सर्कल हेड प्रतीक श्रीवास्तव तथा आरबीआई से संजीव मंडिया ने बैंकिंग व्यवस्था में सुधार के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की गई तथा अंतिम तिमाही में लक्ष्यों को पूरा करने पर बल दिया गया।
इससे पहले जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक हरविंद्र सिंह ने गत त्रैमासिक गतिविधियों के बारे में जानकारी दी तथा सभी बैंकों द्वारा अर्जित लक्ष्यों के बारे में विस्तार से बताया गया।