चंडीगढ़ १० फ़रवरी,२०१९ : बसंत पंचमी के पावन अवसर पर चंडीगढ़ के सेक्टर २४ स्थित अणुव्रत भवन में आचार्य श्री महाश्रमणजी के आज्ञानुवर्ती मनीषीसंत मुनि श्रीविनय कुमार जी "आलोक " के सानिध्य में तेरापंथ का महाकुंभ का १५५ वां मर्यादा महोत्सव का आयोजन किया गया जिसमे भारतीय जनता पार्टी चंडीगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष संजय टंडन ने विशेष अतिथि के रूप में इसमें भाग लिया

इस अवसर पर जैन समाज के लोगों को बधाई प्रदान करते हुए संजय टंडन ने कहा कि पर्व, उत्सव इस लिए मनाये जाते हैं ताकि इन उत्सवों के माध्यम से व्यक्ति अपने उत्साह की अभिव्यक्ति बने और साथ ही साथ नई सोच, नए विचारों, नई स्फुरणा मिले । उत्सवों के माध्यम से सृजनात्मक एवं रचनात्मक शक्ति का प्रस्फुटन भी होता है। जैन समाज का तेरापंथ धर्मसंघ अपनी अनूठी सोच एवं मर्यादित कार्यप्रणाली के कारण अग्रणी है। च्तेरापंथज् शब्द के पीछे जुड़ा है आचार्य भिक्षु का बलिदान एवं तपोमय जीवन। उन्होंने कहा कि अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाने वाला है तेरापंथ। आचार विचार की शुद्धि की मूलभित्ति है तेरापंथ। इसलिए हम सभी को इस पर्व को एकसाथ मनाना चाहिए और ऐसे महान पुरुषों के द्वारा दिए गए सन्देश को अपने जीवन में लागू करना चाहिए