देहरा, 10 फरवरी 2019। शिक्षा, विधि एवं संसदीय मामले मंत्री सुरेश भारद्वाज आज देहरा के राधा कृष्ण मंदिर में श्रीमती कमलावती सूद मेमोरियल भजन प्रतियोगिता के समारोह में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे।
इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि गीत संगीत मनुष्य समाज की सुखद कलायें हैं और संगीत हमें शारीरिक, मानसिक और आत्मिक स्वास्थ्य प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि संगीत एक तरह की स्वर साधना और प्राणायाम है जिससे शरीर एवं मस्तिष्क स्वस्थ रहता है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि हिमाचल सरकार सभी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारने का प्रयास कर रही है और शिक्षा विभाग में संगीत को भी प्राथमिकता दे रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने निर्णय लिया है कि स्कूलों में संगीत की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए हर विद्यालय में संगीत का अध्यापक होगा। उन्होंने कहा कि आज प्रतिस्पर्धा का समय है और विद्यार्थी संगीत में भी अपना भविष्य बना सकते हैं जो कि उनके लिए रोजगार का साधन भी बन सकता है।
शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रदेश को केंद्र सरकार से सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत 830 करोड़ रुपये स्वीकृत हुये हैं। सरकारी स्कूलों में बच्चों की नफरी को बढ़ाने और उन्हें उच्च गुणवत्ता की शिक्षा के लिये प्रदेश में 3 हजार स्कूलों में नर्सरी की कक्षाएं शुरू की जा रही हैं। पहले प्रदेश में एक वर्ष में 20 स्कूलों में ही आईसीटी लैब की सुविधा दे पाते थे जबकि अब 125 स्कूलों को यह सुविधा मिलेगी। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश के हर स्कूल में लाइब्रेरी की सुविधा भी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि हर स्कूल में पुस्तकालय हो,खेल का मैदान हो और बच्चों की पढ़ाई के लिये अच्छे क्लास रूम हों ताकि बच्चे अच्छे शैक्षणिक माहौल में शिक्षा ग्रहण कर सकें। इस के लिये प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में समग्र प्रयास कर रही है।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार ने केंद्रीय विश्वविद्यालय खोलने के लिये सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली हैं और शिक्षा का अगला सत्र शुरू होने से पहले सीयू का शिलान्यास कर दिया जाएगा। बजट बारे बोलते हुये उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस बजट में सभी की जरूरतों का ख्याल रखा है और इस से सभी वर्गों में खुशहाली आएगी।
समारोह में सेवानिवृत्त न्यायधीश अरुण गोयल व सुरेंद्र सूद ने अपने अन्य सदस्यों के साथ शिक्षा मंत्री का स्वागत किया और शिक्षा मंत्री को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। समारोह में विभिन्न विद्यालयों और शिक्षण संस्थानों के बच्चों ने संगीत प्रतियोगिता में भाग लिया। शिक्षा मंत्री ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागियों को पारितोषिक वितरित किये।उन्होंने संस्था में सांस्कृतिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिये अपनी ऐच्छिक निधि से 31 हजार रुपये देने की घोषणा भी की।
इस अवसर पर देहरा विस क्षेत्र विधायक होशियार सिंह, पूर्व विधायक योगराज, देहरा भाजपा मंडल अध्यक्ष सर्वदर्शन सिंह, जिप सदस्य शामदुलारी, नप देहरा अध्यक्ष सुनीता कुमारी, रोहिणी कड़ोल, वंदना सूद, आचार्य देशबन्धु, सुरेंद्र मोहन, विशेश्वर शर्मा, जगदीप डडवाल के साथ कई गणमान्य और विभागों के अधिकारी और बड़ी संख्या में स्थानीय निवासी उपस्थित रहे।