SHIMLA, 12 दिसम्बर, 2018
मुख्यमंत्री से जय ज्वाला मां हिमाचल संघ मुंबई के सदस्यों ने भेंट की
जय ज्वाला मां हिमाचल संघ मुंबई के सदस्यों ने आज मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से विधानसभा तपोवन में भेंट की।
इस अवसर पर उन्होंने मुख्यमंत्री को हिमाचल दिवस पर मुबंई आने का निमंत्रण दिया। संस्था पिछले 11 वर्षों से मुंबई में हिमाचल दिवस मना रही है व यह संस्था अनेक सामाजिक कार्यों में भी कार्यरत है।
-------------------------------------

निश्चित तिथि 12.12.2018

नियम-62 के अंतर्गत श्री जीत राम कटवाल (झण्डूता) द्वारा उठाया गया मामला :

‘झण्डूता विधानसभा क्षेत्र में निर्माणाधीन फोरलेन परियोजना में स्थानीय निवासियों को हो रहे नुकसान व असुविधा (रिषीकेश, हीरापुर, बहनाजट्टां व औहर ग्राम पंचायतें) हेतु माननीय मुख्यमन्त्री महोदय का ध्यान आकर्षित करेंगे।’’

अध्यक्ष महोदय,

प्रश्न में उल्लेखित गांव किरतपुर-नैरचौक परियोजना से संबंधित हैं। किरतपुर-नैरचौक परियोजना का काम BOT के आधार पर मै0 किरतपुर-नैरचौक एक्सप्रेस वे लिमिटेड को 14/11/2013 को NHAI द्वारा दिया गया था, जिसको तीन वर्ष की अवधि में 12/11/2016 को पूर्ण किया जा जाना था। साईट की आवश्यकता के अनुसार मै. किरतपुर-नैरचौक एक्सप्रेस वे लिमिटेड द्वारा सुरक्षा कार्य को क्रियान्वित किया गया है। Concessionaireद्वारा धीमी प्रगति के कारण उसे Cure period notice (ठेकेदार को चेतावनी) 2/8/2018 को जारी किया गया है। वर्तमान में मै. किरतपुर-नैरचौक एक्सप्रेस वे लिमिटेड द्वारा कार्य को रोक दिया गया है। भारतीय राष्ट्रीय राज्य मार्ग प्राधिकरण (NHAI) तथा सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्रालय द्वारा सक्रिय रूप से काम को शुरू करने और समय पर समापन करने के लिए उचित कदम उठाए जा रहे हैं। काम शुरू होने पर ठेकेदारों द्वारा साईट आवश्यकता के अनुसार (protection works) को किया जाएगा।

मैं, श्री नितिन गडकरी माननीय केंद्रीय मंत्री सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार से मामला उठा रहा हूं कि वे भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण अधिकारियों को निर्देश दें कि हिमाचल में चल रहे फोर-लेन के प्रत्येक कार्य पैकेज के संबंध में ढलान संरक्षण व पर्याप्त परिवहन यातायात संकेत स्थापित करने और स्थिरीकरण के कार्यान्वयन के लिए कार्य योजना बनाकर हिमाचल प्रदेश सरकार के साथ सांझा करे। जिसके उपरानत, राज्य सरकार मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक समिति गठित करेगी जो हिमाचल में चल रहे फोर-लेन के प्रत्येक कार्य पैकेज की निगरानी करेगी, जिससे आम जनता को दिन और रात में सुरक्षित सड़कें व सुचारू यातायात प्रदान किया जा सके।

मैं, इस सदन को आश्वस्त करता हूं कि सरकार हिमाचल प्रदेश में चल रहे फोर-लेन के कार्य को गंभीरता से लेगी और लोगों की सम्पत्ति की सुरक्षा में समझौता नहीं सहन करेगी ताकि सभी कार्य समयबद्ध तरीके से पूर्ण किए जा सकें और आम जनता को किसी तरह की असुविधा न हो।

----------------------------------

Himachal emerged as world tourist destination due to Dalai Lama: CM

The State of Himachal Pradesh was fortunate that His Holiness Dalai Lama has chosen Himachal Pradesh as the place for the Tibetan government-in-exile, which was a matter for pride for the State.

This was stated by the Chief Minister Jai Ram Thakur while addressing the gathering on the occasion of high tea hosted by the Parliament of the Tibetan government-in-exile at Dharamshala today.

The Chief Minister said that with HH the Dalai Lama making Dharamshala his home, the place has emerged as a world tourist attraction. A large number of tourists and his followers across the world visit Dharamshala every year to seek his blessings, which has brought Dharamshala on world tourist map.

Jai Ram Thakur said that India and Tibet shares common culture and traditions and it was vital for the universal peace that both the communities work with better coordination.

Speaker, Parliament of Tibetan government-in-exile Pema Jungney presented the vote of thanks. Deputy Speaker Yeshi Phuntsok welcomed the Chief Minister and other dignitaries present on the occasion.

Former Chief Minister Virbhadra Singh, Speaker of the State Vidhan Sabha Dr. Rajiv Bindal, Members of the State Cabinet and MLAs were present on the occasion among others.