चंडीगढ़, 16 अक्तूबर- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि समाज के निर्माण में अधिवक्ताओं का अहम योगदान होता है। अधिवक्ता ऐसा वर्ग है, जिस पर समाज बहुत विश्वास करता है। ऐसे अधिवक्ताओं का भी नैतिक दायित्व बनता है कि वे न्याय के लिए उनके पास आने वाले जरूरतमंद गरीब लोगों की उम्मीदों पर खरे उतरें। उन्होंने अधिवक्ताओं से लोगों को सस्ता व सुलभ न्याय दिलाने की अपील की। मुख्यमंत्री ने भिवानी जिला बार के लिए 21 लाख रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की।
मुख्यमंत्री आज भिवानी के जिला बार में 50 साल प्रैक्टिस पूरी करने वाले अधिवक्ताओं के सम्मान में आयोजित गोल्डन जुबली समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि अधिवक्ताओं के पास दोनों तरफ से लोग इंसाफ के लिए आते हैं और अधिवक्ता दोनों के लिए अपना पक्ष रखता है, लेकिन यहां पर फर्ज यह बनता है कि गलती करने वालों को उसके गलत कदम का एहसास जरूर करवाया जाएगा। यह भी समाज के निर्माण का एक हिस्सा है। उन्होंने कहा कि अधिवक्ताओं को भी अन्त्योदय की भावना पर चलते हुए गरीब व्यक्ति को न्याय दिलाने में मदद करनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि जरूरतमंदों की कानूनी रूप से मदद के जिला में समय-समय पर विधिक सेवाऐं प्राधिकरण की तरफ से कानूनी जागरूकता कैंप और लोक अदालतों का आयोजन किया जाता है, लेकिन सभी मामलों का निपटारा वहां पर होना संभव नहीं होता है। ऐसे में अधिवक्ताओं में सेवा भाव की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि पीडि़त व्यक्ति को न्याय मिलना जरूरी है ताकि उसका न्यायिक प्रक्रिया में विश्वास बना रहे।
श्री मनोहर लाल ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए ही निचली अदालतों से लेकर सर्वोच्च न्यायालय तक की स्थापना की गई है, जबकि इससे पहले न्याय दिलाना पंचायतों या गणमान्य लोगों का काम होता था। मुख्यमंत्री ने भिवानी बार में 50 साल व उससे अधिक समय से प्रैक्टिस कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता वेंकटेश आचार्य, एनके जैन, टीडी हंस, सावित्री देवी और रामनिवास शर्मा को शॉल व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने बार की ई-लाईब्रेरी में जरूरी सामान के लिए दो लाख रुपए देने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने बार परिसर में पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश भी दिया। कार्यक्रम को जिला एवं सत्र न्यायाधीश एएस नारंग ने भी संबोधित किया। उन्होंने भिवानी बार के सदस्यों के व्यवहार और कार्य कुशलता की प्रशंसा की। कार्यक्रम में बार एसोसिएशन के प्रधान चेतन आनंद ने मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल व अन्य अतिथियों का स्वागत किया।