चंडीगढ़, 11 जुलाई- लोगों की दशकों पुरानी मांग करनाल की पंजाब से कनेक्टिविटी को सुगम बनाने के प्रदेश सरकार के प्रस्ताव पर केंद्रीय सडक़, परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने मुहर लगाते हुए करनाल-कैथल-खनौरी रोड को फोरलेन बनाने के प्रस्ताव की मंजूरी प्रदान कर दी है। खुद केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को चिट्ठी लिखते हुए इस मार्ग समेत चार मार्गों के लिए केंद्रीय सडक़ निधि के तहत 348 करोड़ रूपए की राशि मंजूर करने की सूचना दी है। अब करनाल से पंजाब जाने में आधे घंटे से अधिक समय की बचत होगी।
प्रदेश में लगातार सडक़ मार्गों के विस्तार में क्रांति ला रही केंद्र एवं प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा करनाल और कैथल की जनता को बडी सौगात देने का काम किया गया है। केन्द्रीय सडक़ परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने हरियाणा में 132.49 किलोमीटर लंबी चार सडक़ों को चौड़ा करने और सुदृढ़ करने के लिए चालू वित्त वर्ष के दौरान केन्द्रीय सडक़ निधि (सीआरएफ) के तहत 348 करोड़ रुपये की मंजूरी प्रदान की है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा मुख्यमंत्री मनोहर लाल को लिखे गए पत्र में बताया गया है कि करनाल-कैथल-खनौरी (स्टेट हाइवे आठ) सडक़ को फोरलेन बनाने के लिए 175 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की गई है। इस राशि से 50 किलोमीटर के सेक्शन के फोरलेन बनने से पंजाब की ओर जाने वाले लोगों को सहूलियत होगी और आधा घंटा समय में भी कटौती होगी। इसी प्रकार, जिला कैथल के ढाण्ड में कैथल-ढाण्ड सडक़, पुराना बाइपास और नया बाइपास को चौड़ा करना, ऊंचा उठाने और मजबूत करने के लिए 18.70 किलोमीटर सेक्शन के लिए 34 करोड़ रुपए की राशि मंजूर की गई है। जिला करनाल में कोंड-मुनक-सालवान-असंध सडक़ को चौड़ा करने और फोरलेन बनाने के लिए 37.85 किलोमीटर टुकड़े के लिए 70 करोड़ रुपए की राशि मंजूर की गई है, वहीं जिले में नीलोखेड़ी-करसा-ढांड सडक़ को चौड़ा कर विस्तार करने के लिए 24.64 किलोमीटर सेक्शन पर 69 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जाएगी।
----------