चण्डीगढ़, 25 फरवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि पत्रकारों को बिना किसी पक्षपात के पत्रकारिता करनी चाहिए और अपने मिशन के तहत समाज को जीवन जीने के स्तर को ऊंचा उठाने के लिए राह दिखानी चाहिए और पत्रकारों को साकारात्मक भाव से काम करना चाहिए। 
मुख्यमंत्री आज यहां चण्डीगढ़ जर्नलिस्टस एसोसिएशन द्वारा आयोजित नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट के 19वें अधिवेशन के समापन समारोह पर मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने अपने एैच्छिक कोष से यूनियन के लिए पांच लाख रुपए देने की घोषणा भी की। 
उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने अनुभवी पत्रकारों व वरिष्ठï पत्रकारों के सम्मान के लिए मान्यता प्राप्त पत्रकारों हेतु पेंशन का प्रावधान किया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने पत्रकारों के लिए अंशदायी बीमा योजना भी बनाई है जो पांच लाख रुपए से लेकर 20 लाख रुपए तक होगी और इस योजना का प्रकाशन भी जल्द होगा। इसी प्रकार, राज्य के 22 जिलों में मीडिया रूम की स्थापना भी की जा रही है जिनमें से पांच जिलों में मीडिया रूम स्थापित किए जा चुके हैं। वहीं, पत्रकारों के लिए अब वोल्वो बसों में भी यात्रा की सुविधा कर दी गई है। 
उन्होंने पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि पत्रकारों को लगातार विचार करते रहना चाहिए तथा पत्रकारों को पत्रकारिता को एक पेशे या काम के रूप में नहीं लेना चाहिए बल्कि इसे एक मिशन के रूप में लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि  अगर हम इतिहास उठाकर देखें तो महात्मा गांधी, लोक मान्यधर तिलक जैसे सरीखे लोगों ने देश को आजादी दिलाने में अपनी लेखनी का अहम योगदान दिया। इन जैसे लोगों ने देश के नागरिकों को अपनी लेखनी की दम पर एकसाथ इक्टठा किया और आजादी का एक प्रकार से विगुल बजाया। हालांकि देश आजाद हुआ परंतु देश को विभाजन की पीड़ा से भी गुजरना पड़ा और उस पीड़ा को लाखों परिवारों ने सहन किया। 
उन्होंने कहा कि भारत स्वतंत्र तो हो गया है परंतु समाज को आगे ले जाने के लिए पत्रकारों को देश के लोगों को जागरूक करना होगा। उन्होंने कहा कि विपक्ष के सामने राजनैतिक उदेश्य भी होते हैं, क्योंकि कई बार विपक्ष के लोग अच्छे कामों की भी आलोचना करने से नहीं चुकते, परंतु एक सच्चे पत्रकार को वास्तविक रूप से विषय को मूलरूप से लोगों के समक्ष रखना चाहिए और अपने लक्ष्य को निर्भय, निडरता के साथ मूल भावना के तहत काम करना चाहिए। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि पत्रकारिता में सनसनी या टीआरपी का लक्ष्य नहीं होना चाहिए बल्कि समाज को सही दिशा देनी चाहिए तभी पत्रकारिता का लक्ष्य सार्थक होगा।  उन्होंने पत्रकारों को सुझाव देते हुए कहा कि वे छोटी बातों को छोडक़र ऊंचा लक्ष्य रखें ताकि समाज की दिशा तय हो। नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट के 19वें अधिवेशन के समापन समारोह की बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्रकार के सम्मेलन करके वरिष्ठï पत्रकार विभिन्न विषयों पर चर्चा करें जैसे कि पत्रकारिता का स्तर किस प्रकार से ऊंचा उठाना है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे देश में बहुत विभिन्नताएं हैं जैसे कि अलग-अलग खान-पान हैं, अलग-अलग रहन-सहन हैं, परंतु फिर भी देश में एकता हैं और यही वजह है कि आज यहां देशभर के 19 राज्यों से पत्रकार एकत्रित हुए हैं। मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से कहा कि देश व प्रदेश की सेवा करना हमारा दायित्व हैं इसलिए सबका साथ-सबका विकास के तहत आप अपना सहयोग दें। 
हिमाचल प्रदेश के परिवहन व वन मंत्री श्री गोबिन्द ठाकुर ने कहा कि आज यहां पर देशभर के 19 राज्यों के पत्रकार इकटठा हुए हैं और उन्हें एक प्रकार से  छोटे भारत के दर्शन हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत अब विश्व गुरू बनने की ओर अग्रसर हैं और राजनैतिक संस्कृति को भी बदला है जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती थी। उन्होंने इस मौके पर उपस्थित पत्रकारों से संवाद स्थापित करते हुए कहा कि वे मनाली से विधायक हैं और मनाली आने का न्यौता वे देते हैं। उन्होंने कहा कि आज पत्रकारिता के क्षेत्र में विभिन्न चुनौतियां हैं जिन पर आज चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि समाचार पत्रों को पढकर कई निर्णय लेने में सहयोग मिलता है इसलिए पत्रकारों को यह विश्वसनियता बनाए रखनी चाहिए। 
नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट के राष्टï्रीय अध्यक्ष श्री अशोक मलिक ने कहा कि इस सम्मेलन में पत्रकारों से जुडे विभिन्न विषयों पर चर्चा की गई जिसमें वेज बोर्ड की सिफारिशों को लागू करवाना, पेंशन का लाभ, क्षेत्र में काम करने वाली पत्रकारों को हक इत्यादि शामिल थी। उन्होंने आश्वासन देते हुए कहा कि पत्रकारों का सहयोग देशहित में मिलता रहेगा। 
इससे पहले, जितेन्द्र अवस्थी ने आए हुए अतिथियों को स्वागत किया और पत्रकारों को संबोधित किया। वहीं, नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट के महासचिव मनोज वर्मा भी अपना संबोधन किया। 
इस मौके पर हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, हिमाचल प्रदेश के परिवहन व वन मंत्री श्री गोबिन्द ठाकुर तथा हरियाणा के सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक श्री समीरपाल सरो को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया गया। 
इस अवसर पर हरियाणा के मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार श्री अमित आर्य, नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट के कोषाध्यक्ष राकेश आर्य, सचिव सोमनाथ, नलिन आचार्य, राधेश्याम शर्मा, प्रभ जी, हितेश शंकर, विजय, उपला लक्ष्मण, केम गुप्ता, बीएम भारती, गुलाब बतरा, अमरनाथ वशिष्ठï, अवतार सिंह तथा जसबंत सिंह सहित अन्य राज्यों से आए हुए पत्रकार तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।