धर्मशाला, 16 जनवरी:  खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर ने कहा कि लोगों को उनके घर-द्वार पर बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के प्रति राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि चिकित्सा संस्थानों तथा मेडिकल कॉलेजों में अत्याधुनिक विशेषज्ञ सेवाएं उपलब्ध करवाकर उन्हें सशक्त किया जा रहा है। कपूर ने आज क्षेत्रीय अस्पताल धर्मशाला में 4.30 लाख रुपये की लागत से लगाए गये फीजियोथैरेपी यूनिट का लोकार्पण करने के उपरांत यह बात कही।
उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय अस्पताल में डॉक्टरों के खाली पद शीघ्र भरने के लिए प्रयास किए जाएंगे।इसके अतिरिक्त तमाम तरह की मूलभूत स्वास्थ्य सुविधाएं प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध करवाई जाएंगी।
कपूर ने कहा कि इस फीजियोथैरेपी यूनिट में आधुनिक उपकरणों से विशेषज्ञों द्वारा मांसपेशियों के खिंचाव, जोड़ों के दर्द व अन्य हड्डियों के रोगों का उपचार किया जाएगा जिससे बड़ी संख्या में लोग लाभान्वित होगें। फीजियोथैरेपी शुल्क 50 रुपये होने से गरीब लोगों को बहुत मदद मिलेगी।
गौरतलब है कि फीजियोथैरेपी यूनिट क्षेत्रीय अस्पताल के कमरा नम्बर 104 में स्थापित की गई है।  
कपूर ने प्रदेश के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता की प्रतिबद्धता को दोराहते हुए कहा कि लोगों को गुणात्मक स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवा कर हिमाचल को स्वास्थ्य सेवाओं में देश में शीर्ष पर पहंुचाया जायेगा। 
उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों को मुफ्त दवाइयां एवं सस्ती व गुणात्मक स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाना सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने चिकित्सकों से आग्रह करते हुए कहा कि वे मरीजों के प्रति मृदुल एवं संवेदनशील व्यवहार रखें ताकि लोगों में डॉक्टरों के प्रति सम्मान व अपनेपन की भावना प्रगाढ़ हो। 
इस अवसर पर पूर्व विधायक संजय चौधरी, भाजपा मंडलाध्यक्ष रमेश अटवाल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.आरएस राणा, वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. दिनेश महाजन, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ.अजय दत्ता, मुख्य फार्मासिस्ट राजीव सूद, फीजियोथेरेपिस्ट दीप्ति गुप्ता, मैटरन विजय व राधा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा अस्पताल के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।