हिसार,16.01.18- : अनुसूचित जाति से सम्बन्धित लम्बित मांगों को लेकर प्रदेशभर की सभी अनुसूचित जाति सभाएं प्रदेश के मान्नीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुख्यमंत्री आवास पर मिली। मान्नीय मुख्यमंत्री सभी मांगों को जल्द से जल्द से पूरा करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी मंत्री डा. बनवारी लाल, परिवहन मंत्री श्री कृष्ण पवार व चीफ सके्रट्री अनिल कुमार, आईएएस भी उपस्थित रहें।
यह जानकारी देते हुए डा. भीम राव अम्बेडकर सभा, हिसार के प्रधान उदयभान चौपड़ा ने बताया कि प्रदेश भर की सभी अनुसूचित जाति सभाओं द्वारा अपनी-अपनी मांगों का ज्ञापन मान्नीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल को सौंपा हुआ था। लम्बा समय बीत जाने के बाद सोमवार को मान्नीय मुख्यमंत्री द्वारा मुख्यमंत्री आवास, चण्डीगढ़ में एक बैठक बुलाई गई, जिसमें सभी सभाओं के पदाधिकारिओं ने भाग लिया। उन्होंने बताया कि जिला हिसार की तरफ से संत शिरोमणि श्री गुरू रविदास महासभा, हिसार के प्रधान जयपाल सिंह रंगा, श्री गुरू रविदास सभा, बरवाला के प्रधान सत्यवान बालक, पूर्व प्रधान इन्द्राज भारती, खुशीराम, पूर्व प्रधान बिजेन्द्र सभरवाल, सुरेश बरार, बंशीलाल व पूर्व प्रधान धूपसिंह न्योलिया ने मिलकर एक मांगपत्र मुख्यमंत्री को सौंपा।  मुख्यमंत्री जी ने इन मांगों को जल्द से जल्द पुरा करने का आवश्वासन दिया है। उन्होंने बताया कि मांगपत्र में संत शिरोमणि श्री गुरू रविदास जी के नाम इसी जन्मोत्सव के उपलक्ष पर एक विश्वविद्यालय की स्थापना करना, प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालयों में डा. भीम राव अम्बेडकर की तस्वीर लगाने, हिसार स्थित राजकीय कन्या महाविद्यालय का नाम माता सावित्रीय बाई फूले रखने, खेतीहार मजदूरों को बीमा सुविधा तथा उनका पंजीकरण किया जाए ताकि आपदा के हालात में उन्हें मुआवजा दिए जाने बारे, अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों को 200 यूनिट तक बिजली पानी की नि:शुल्क सुविधा देने, स्वास्थ्य तथा शिक्षा क्षेत्र का निजिकरण रोकने, सभी सरकारी विभागों का बैकलॉग निकालकर जल्द से जल्द पूरा करने, अनुसूचित जाति के कर्मचारियों को पदौन्नति में आरक्षण देने, छात्रों को वजिफा देने सहित विभिन्न सामाजिक मुद्दों को शामिल किया गया है।