धर्मशाला, 5 अक्तूबरःसामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी ने लंज व शाहपुर में दशहरा उत्सव में बतौर मुख्यातिथि शिरकत की।
इस अवसर पर उन्होंने उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि आश्विन माह की शुक्ल पक्ष की दशमी के दिन मनाए जाने वाला दशहरा असत्य पर सत्य और बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि दशहरे का धार्मिक महत्व तो है ही लेकिन यह त्यौहार आज भी बेहद प्रासंगिक हैं तथा आज भी कई बुराईयों के रूप में रावण जिंदा है। यह त्यौहार हमें हर वर्ष याद दिलाता है कि हम बुराई रूपी रावण का नाश करके ही जीवन बेहतर बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि यह बुरे आचरण पर अच्छे आचरण की जीत की खुशी में मनाया जाने वाला त्यौहार है।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजन हमारे प्राचीन मूल्यों एवं संस्कृति को भावी पीढ़ी के लिए सहेजकर रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यह पर्व हमें निर्भिकता से सत्य के मार्ग के अनुसरण का संदेश देता है। सभी धर्मों के लोग इस उत्सव में भाग लेते हैं तथा आपसी भाईचारे, सहिष्णुता और सामाजिक सौहार्द की भावना को और मजबूत बनाते हैं।
उन्होंने कहा कि विविध सांस्कृतिक गतिविधियों के आयोजनों के लिए प्रदेश सरकार सभी जिला मुख्यालयों पर, जहां यह सुविधा उपलब्ध नहीं है, इंडोर सभागारों के निर्माण पर बल दे रही है तथा इसके लिए वर्तमान वित वर्ष में करोडों रूपये का प्रावधान रखा गया है।
इसके उपरांत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने विधिवत पूजा-अर्चना करके दशहरा की रस्म अदा की
इस अवसर पर दशहरा कमेटी द्वारा करवाई गई विभिन्न खेलों के विजेताओं को सरवीण ने स्मृति चिन्ह व ट्राफी देकर पुरस्कृत किया।
समाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीण चौधरी ने दशहरा मेला कमेटी लंज को 31 हज़ार व शाहपुर मेला कमेटी को 40 हज़ार रुपये देने की घोषणा की ।
इस अवसर पर जनम सिंह गुलेरिया , पूर्व प्रधान लंज रमेश , बीडीसी प्रीतम सिंह मुख्य सलाहकार ,अभिषेक , सोमी शर्मा, सुरिंदर , ओम प्रकाश मेहरा , कमल मेहरा ,अमलीक सिंह , सोनू , मोनू, संजीव ,प्रधान आशा देवी , ऊपर लंज रेखा देवी , व्यपार मण्डल प्रधान नसीब राणा , विनय डोगरा , गिरधारी लाल पूर्व प्रधान दलजीत कौर , बीडीसी कत्तक शाहपुर व्यापार मण्डल के प्रधान जितेन्द्र सोंधी , जोगिंदर महाजन उर्फ जिन्दू , राकेश मनु , सहित भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।