ऊना, 5 अक्तूबर - प्रगतिशील हिमाचल-स्थापना के 75 वर्ष के तहत ऊना विधानसभा के पुराना बस अड्डा में आयोजित होने वाले समारोह की तैयारियों को लेकर आज उपायुक्त, ऊना राघव शर्मा ने समारोह स्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने समारोह के सुचारु एवं सफल आयोजन को लेकर संबंधित विभागाधिकारियों को आवश्यक दिशानिर्देश दिए और समय रहते सभी तैयारियां मुकम्मल करने को कहा।
डीसी राघव शर्मा ने बताया कि इस समारोह में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर बतौर मुख्यातिथि शिरकत करेंगे। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री इस दौरान 296.35 करोड़ रुपये के विकास कार्यों के लोकार्पण व शिलान्यास भी करेंगे। इनमें सलोह में 128 करोड़ से निर्मित ट्रिप्पल आईटी जबकि ऊना में 36.29 लाख से निर्मित नैशनल करियर सैन्टर और 33.88 करोड़ से निर्मित लघु सचिवालय के भवन मुख्य रुप से शामिल हैं। इसके अलावा आईटीआई ऊना के अतिरिक्त भवन, आईटीआई मैहतपुर, सर्किट हाउस ऊना, बसदेहड़ा के अस्पताल, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के कार्यालय भवन सहित करोड़ों रुपये से निर्मित अन्य कई परियोजनाएं जनता को समर्पित की जाएंगी। डीसी ने बताया कि समारोह में विभिन्न विभागों द्वारा विकासात्मक प्रदर्शनियां भी लगाई जाएंगी जिनके माध्यम से हिमाचल प्रदेश की विकासस यात्रा को प्रदर्शित किया जाएगा।
इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त डॉ अमित कुमार शर्मा, एसडीएम ऊना डॉ निधि पटेल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
============================
जिला की 1113 बेटियों की शादी में जय राम सरकार ने दी 3.41 करोड़ रुपए की मदद
ऊना, 5 अक्तूबरः मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने बेटियों की शादी में आर्थिक मदद प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के साथ-साथ शगुन योजना को शुरूआत की है। इन दो योजनाओं के माध्यम से जिला ऊना की 1,113 बेटियों को शादी में आर्थिक सहायता के रुपए में 3.41 करोड़ रुपए वितरित किए गए हैं।
वर्ष 2021-22 में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत जिला ऊना की 504 बेटियों को 2.56 करोड़ रुपए दिए गए, जबकि वर्ष 2022-23 में अब तक 128 बेटियों को 65.28 लाख रुपए की आर्थिक मदद दी गई है। इस वित्तीय वर्ष में धुंदला से 9, ऊना से 48, अंब से 21, हरोली तथा गगरेट से 25 परिवारों को आर्थिक मदद दी जा चुकी है। वहीं शगुन योजना के तहत वर्ष 2021-22 में 329 पात्र परिवारों को बेटी की शादी के लिए 1.01 करोड़ रुपए दिए गए और वर्ष 2022-23 में अब तक 152 परिवारों को 47.12 लाख रुपए की सहायता प्रदान की गई है। इस योजना के तहत मौजूदा वित्तीय वर्ष में धुंदला से 15, ऊना से 44, अंब से 35, हरोली से 45 तथा गगरेट से 13 परिवारों को आर्थिक मदद दी गई है।
जिला कार्यक्रम अधिकारी सतनाम सिंह ने बताया कि मुख्मंत्री कन्यादान योजना के तहत 51 हजार रुपए की सहायता प्रदेश सरकार की ओर से दी जाती है। इस योजना के तहत ऐसी कन्याओं को विवाह के लिए आर्थिक मदद प्रदान की जाती है, जो अनाथ हों अथवा पिता की मृत्यु हो चुकी हो या पिता विकलांगता या गंभीर बीमारी के चलते आजीविका कमाने में असमर्थ हों तथा परिवार की वार्षिक आय 50 हजार रुपए से अधिक न हो।
वहीं शगुन योजना बीपीएल परिवारों की बेटियों के लिए हैं, जिसकी शुरूआत वर्तमान सरकार ने एक अप्रैल 2021 से की है। इस योजना के तहत सरकार बेटी की शादी को 31 हजार रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान करती है। इस योजना के तहत उन बीपीएल परिवारों को बेटी की शादी के लिए आर्थिक मदद दी जाती है, जिनके माता-पिता या तो जीवित नहीं हैं या लापता हैं। इन दोनों योजनाओं का लाभ प्राप्त करने तथा अधिक जानकारी के लिए पात्र परिवार निकटतम सीडीपीओ कार्यालय में योजना के तहत आर्थिक मदद प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकते हैं। आर्थिक सहायता सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती है।