चंडीगढ़, 4 अक्टूबर। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिला के नांगल चौधरी में इंटीग्रेटेड मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक हब तथा हिसार में कार्गो हब विकसित होने से इन दोनों क्षेत्रों में विकास के नए रास्ते खुलेंगे। उन्होंने कहा कि इन दोनों परियोजनाओं के लिए मंगलवार को दुबई में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल, डीपी वर्ल्ड के चेयरमैन और सीईओ सुल्तान अहमद बिन सुलेयम के साथ एक सकारात्मक चर्चा हुई है और जिसके जल्द ही फलीभूत होने की सम्भावना है। डिप्टी सीएम ने दुनिया की अग्रणी लॉजिस्टिक्स कंपनियों में से एक डीपी वर्ल्ड कंपनी के साथ हुई बैठक के बाद जानकारी दी कि दुबई में इन्वेस्ट हरियाणा रोड शो के दौरान नांगल चौधरी में एकीकृत मल्टी-मॉडल लॉजिस्टिक्स हब तथा हिसार में कार्गो हब विकसित करने की परियोजना पर चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि इसमें डीपी वर्ल्ड के चेयरमैन और सीईओ सुल्तान अहमद बिन सुलेयम ने काफी रुचि दिखाई है।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि हरियाणा के नांगल चौधरी (महेंद्रगढ़) में 900 एकड़ से अधिक क्षेत्र में उत्तर भारत में सबसे बड़े इंटीग्रेटेड लॉजिस्टिक हब के रूप में इंटीग्रेटेड मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक हब विकसित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस इंटीग्रेटेड मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक हब को दिल्ली-मुंबई डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर से कनेक्ट करने के लिए डीएफसीसीआईएल द्वारा कनेक्टिंग लाइन बनाई जा रही है। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि पिखलानी-साहनेवाल इलेक्ट्रीफाइड सिंगल लाइन पर माल की आवाजाही के लिए सात स्टेशन बनेंगे और लेवल क्रॉसिंग पर आठ आरओबी तथा 21 आरयूबी बनाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि रेवाड़ी-दाबला सेक्शन पर दो जंक्शन और एक नया स्टेशन बनेगा। इसी प्रकार, रेवाड़ी-दादरी सेक्शन पर माल की आवाजाही के लिए चार स्टेशन बनेंगे और पृथला में गुड्स अपलोडिंग फैसिलिटी बनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि 2.7 किलोमीटर का एलिवेटिड कॉरिडोर भी होगा।