नाहन 04 अक्तूबर - वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा लोगों को बेहतर अवागमन की सुविधाएं उपलब्ध करवाने के दृष्टिगत सड़कों व पुलों के निर्माण के लिए विशेष प्राथमिकता दी जा रही है, जिसके तहत जिला सिरमौर की सभी ग्राम पंचायतों को सड़क सुविधा उपलब्ध करवा दी गई है।
यह जानकारी ऊर्जा मंत्री सुख राम चैधरी ने आज नाहन विधानसभा क्षेत्र के हरिपुरखोल नाले पर 2 करोड़ 78 लाख रूपये की लागत से बनने वाले पुल का शिलान्यास करने के उपरान्त उपस्थित जनसमूह को दी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान जिला सिरमौर की सभी विधानसभा क्षेत्रो के साथ-साथ नाहन विधानसभा क्षेत्र में भी अभूतपूर्व विकास कार्य हुए है। विकास को एक नई दिशा मिली तथा लोगों की आवश्यकता के अनुरूप विकास कार्य किये गये।
उन्होंने कहा कि नाहन विधान सभा क्षेत्र में दो उप-तहसीलें माजरा अथवा कालाअम्ब में बनाई गई, जिससे लोगों को राजस्व संबधी सुविधाऐं घरद्वार पर मिल रही हैं। नाहन विधानसभा क्षेत्र में लोगों की सुविधा के लिए सड़क, पेयजल, स्वास्थ्य तथा शिक्षण संस्थानों के भवनों के निर्माण पर विशेष प्रयास किये जा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि हरिपुरखोल अथवा कोदेवाला क्षेत्र में लोगों की विद्युत समस्याओं के निराकरण के तहत थ्री फेस लाईन के लिए शीघ्र ही सर्वे करवाया जायेगा। इसके अतिरिक्त हरिपुरखोल तथा मातर पंचायत के क्षेत्र में लो वोल्टेज की समास्या के निराकरण के लिए ट्रासर्फापर स्थापित किये जायेगें।
इसके पश्चात ऊर्जा मंत्री ने क्यारदा में 2 करोड़ 82 लाख रूपये की लागत से निर्मित रिंग रोड का लोकार्पण किया तथा 19 करोड़ 24 लाख रूपये की लागत से निर्मित होने वाले फतेहपुर-गुलाबगढ के मध्य बाता नदी पर बनने बाले पुल का शिलान्यास किया।
इसके पश्चात ऊर्जा मंत्री तथा विधायक नाहन डा0 राजीव बिंदल ने 2 करोड़ 43 लाख की लागत से माजरा उप-तहसील के अन्र्तगत 12 पंचायतो के 50 सिंचाई टयूबवेल का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि हर घर को नल से स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने तथा किसान के खेत तक सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए अनेक योजनायें आरम्भ की गई हैं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना तथा सौर सिंचाई योजना आरम्भ कर कृषि उत्पादन को बढ़ावा देने का प्रयास किया जा रहा है ताकि किसानों की आर्थिकी सुदृढ हो सके।
इस अवसर पर विधायक नाहन डॉ राजीव बिंदल ने कहा कि पूर्व में हरिपुरखोल पंचायत पांवटा विधानसभा क्षेत्र का अंग थी। इस पंचायत का विकास ऊर्जा मंत्री सुख राम चैधरी ने आरंभ किया। उन्होंने कहा कि इस पंचायत के लोगों की मूलभूत सुविधाओं के लिए सड़क, पुल तथा पेयजल की योजनाएं क्रियान्वित की जा रही है। उन्होंने कहा कि यहां 3 करोड़ की लागत से पेयजल योजना का निर्माण कार्य प्रगति पर है। हरिपुर में 2 करोड़ 82 लाख रुपए की लागत से निर्मित होने वाले पुल का शिलान्यास किया गया। इस पंचायत में 1 करोड़ 20 लाख रुपए व्यय कर पेयजल योजना का सुधार किया गया। उन्होंने कहा कि झील बांका बाड़ा सड़क पर 1 करोड़ की लागत से पुल का निर्माण किया गया। इसके अतिरिक्त झील बांका बाड़ा सड़क का निर्माण कार्य पूर्ण किया गया जिससे इस क्षेत्र के लोगों को बेहतर आवागमन की सुविधा उपलब्ध हो रही है। उन्होंने कहा कि लोहागढ़ सड़क पर 80 लाख रुपए से पुल का निर्माण किया गया तथा यहां 4 करोड़ की लागत से सड़क का निर्माण किया जा रहा है।
डॉ राजीव बिंदल ने कहा कि कोदेवाला स्कूल को हाई स्कूल, लोहगढ़ स्कूल को उच्च विद्यालय, हरीपुर को जमा दो किया गया। हरिपुर में स्वास्थ्य उप केंद्र भवन का निर्माण कार्य प्रगति पर है। इसके अतिरिक्त हरिपुर खोल में स्कूल के नए भवन का निर्माण किया गया। उन्होंने कहा कि कोदेवाला सड़क पर पुल का निर्माण किया गया तथा ठाकरावाला-भक्ता वाला को पुल निर्माण कर जोड़ा गया।
क्यारदा में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए डॉ बिंदल ने कहा कि क्यारदा क्षेत्र के लोगों को पेयजल सुविधा उपलब्ध करवाने पर 60 लाख से अधिक राशि व्यय की गई तथा किसानों के खेतों को सिंचाई सुविधा के सुदृढ़ीकरण पर 70 लाख रुपए व्यय किए जा रहे हैं जिससे भविष्य में शत-प्रतिशत खेतों को सिंचाई सुविधा उपलब्ध होगी। विकास को गति प्रदान करने के लिए क्यारदा का अलग पंचायत के रूप में गठन किया गया।
इस अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष विनय गुप्ता, जिला भाजपा महामंत्री जालम सिंह, पूर्व प्रधान हरिपुरखोल रीता ठाकुर, उप -प्रधान हरिपुरखोल नायब अली, पंचायत समिति सदस्य हेमलता, पूर्व उप-प्रधान हरिपुरखोल रणजीत सिंह, दीपचंद, अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग विजय अग्रवाल, अधिशाषी अभियन्ता के0एल0 चैधरी, अधिशाषी अभियन्ता जल शक्ति विभाग अरशद रहमान, प्रधान ग्राम पंचायत मातर अलका देवी, प्रधान ग्राम पंचायत क्यारदा सागर, प्रधान फतेहपुर तारावती, वरिष्ठ भाजपा नेता विजेश गोयल के अतिरिक्त विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा गणमान्य लोग उपस्थित थे।