चम्बा, 16 अगस्त -हिमाचल प्रदेश अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम के उपाध्यक्ष जय सिंह की अध्यक्षता में आज इरावती होटल के प्रांगण में जिला चम्बा के अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम द्वारा 15 लाभार्थियों को ऋण वितरित किया गया ।
ऋण वितरण कार्यक्रम में जय सिंह ने कहा कि हिमाचल प्रदेश अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम द्वारा जिला चंबा में गत 4 वर्षों में 502 लोगों को स्वरोजगार योजना, हस्तशिल्प विकास योजना अंबेडकर लघु ऋण योजना एवं स्वालंबन योजना के अंतर्गत लगभग 2 करोड़ 47 लाख रुपए की कुल आर्थिक सहायता प्रदान की गई ।
उन्होंने कहा की लगभग 38 लाख सब्सिडी के रूप में निगम द्वारा विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत दिए गए l हिमाचल प्रदेश अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम द्वारा गत पिछले साढे 4 वर्षों में जिला में निगम की दलित वर्ग व्यवसायिक प्रशिक्षण योजना के तहत लाभार्थियों को विभिन्न क्षेत्र जैसे सिलाई, कढ़ाई, कंप्यूटर , फैशन डिजाइनिंग, खादी, ब्यूटी पार्लर कारपेंटर चंबा रुमाल चंबा चप्पल में प्रशिक्षण दिया गया ।
उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार के आदेशानुसार एकमुश्त ऋण निपटान योजना शुरू की गई थी जिसकी अवधि 1 वर्ष रखी गई थी जिसमें केवल चंबा जिले में ही 1616 लोगों को सीधा लाभ पहुंचाया गया है जिसके अंतर्गत लगभग 59 लाख रुपए की ऋण राशि माफ की गई हैl
उन्होंने कहा इसके अतिरिक्त इसमें 12 ऐसे मामले जिनका ऋण बड़े पैमाने पर था उनका भी ब्याज एवं दंड ब्याज माफ करते हुए 24 हजार रुपए की धनराशि को भी माफ किया गया इसके अतिरिक्त हिमाचल प्रदेश अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम की एकमुश्त ऋण निपटान योजना के अंतर्गत जिला में 7 लाख 22 हजार का ऋण ब्याज व दंड ब्याज माफ किया है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम चंबा को गत वर्ष 2021 में अंबेडकर लघु ऋण योजना के तहत 19 का लक्ष्य रखा गया था और 56 लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया जो कि प्रदेश में सबसे ज्यादा है।
इस अवसर पर लाभार्थियों सहित जिला प्रबंधक सुभाष चंद ,अखलाख खान, अंजलि चंद्रा ,उत्तम सिंह मौजूद रहे।