मतदाता सूचियों में पात्र के नाम दर्ज करवाने तथा अपात्र नागरिकों के नाम हटाने में सहयोग करें
16 अगस्त से 11 सितंबर, 2022 तक किए जाएंगे दावे/ आक्षेप दाखिल- देबश्वेता बनिक
हमीरपुर 16 अगस्त- जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग से प्राप्त निर्देशानुसार 1 अक्तूबर, 2022 की अहर्ता तिथि के आधार पर फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2022 करवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिला हमीरपुर के समस्त विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों 36-भोरंज(अ0जा0), 37-सुजानपुर, 38-हमीरपुर, 39-बड़सर तथा 40-नादौन में फोटो युक्त मतदाता सूचियों का प्रारूप में प्रकाशन 16 अगस्त से सभी मतदान केन्द्रों और निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी (एसडीएम)/सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों (तहसीलदार/नायब तहसीलदार)के कार्यालयों में कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि फोटोयुक्त मतदाता सूचियां जनसाधारण के लिए निशुल्क निरीक्षण हेतू 11 सितम्बर,2022 तक उपलब्ध रहेंगी।
उन्होंने बताया कि 10 अक्तूबर,2022 को फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का अंतिम रूप में प्रकाशन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 16 अगस्त को फोटो युक्त मतदाता सूचियों का प्रारूप प्रकाशन सभी मतदान केंद्रों और निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी/ सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों के कार्यालयों में प्रकाशन कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि उपरोक्त सभी स्थानों पर 16 अगस्त से 11 सितंबर, 2022 तक दावे/ आक्षेप दाखिल किए जाएंगे। 27 व 28 अगस्त, 2022 तथा 3 व 4 सितंबर, 2022 को विशेष अभियान चलाया जाएगा। 26 सितंबर, 2022 तक दावे/आक्षेपों का निपटारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 10 अक्तूबर को फोटायुक्त मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि फोटो मतदाता सूचियों के प्रारूप प्रकाशन की अवधि के दौरान अभिहित सूची में नाम जोडऩे, नाम हटाने, अथवा प्रविष्टियों में शुद्धि व सभा निर्वाचन क्षेत्र में नाम अन्यत्र स्थापित करने हेतु क्रमश: प्ररूप-6,7 अथवा 8 में अभिहित अधिकारी के समक्ष दावे/आक्षेप प्रस्तुत किए जा सकते हैं।
उन्होंने बताया कि निर्वाचन विभाग द्वारा सर्वसाधारण की सुविधा के लिए संचालित ऑनलाई पोर्टल http://www.nvsp.in अथवा मोबाईल ऐप वोटर हेल्पलाईन पर भी उचित फार्म भर अपने दावे/आक्षेप प्रस्तुत किए जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि यदि आवेदक सम्बन्धित बीएलओ के माध्यम से ऑनलाईन आवेदन करवाना चाहता है तो उसे निर्वाचन आयोग की GARUDA APP के माध्यम से यह सुविधा उपलब्ध रहेगी। उन्होंने बताया कि वर्तमान मतदाता सूचियों में कोई भी व्यक्ति अपना नाम दर्ज होने की पुष्टि विभाग की वेबसाइट http://ceohimachal.nic.in में हिमाचल प्रदेश की मतदाता सूचियां शीर्षक पर भी कर सकता है। उन्होंने विधानसभा क्षेत्र के समस्त जागरूक नागरिकों, स्थानीय राजनैतिक दलों , गैर सरकारी स्वयं सेवी संगठनों, महिला मंडलों, युवा मंडलों एवं समस्त नागरिकों से आह्वान किया है कि वे प्रारूप प्रकाशन की अवधि 16 अगस्त से 11 सितंबर, 2022 के मध्य प्रारूप में प्रकाशित फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का निरीक्षण कर लें और पात्र नागरिकों के नाम दर्ज करवाने तथा अपात्र नागरिकों के नाम फोटोयुक्त मतदाता सूची से हटाने में अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करें।
उन्होंने बताया कि मतदाता सूचियों में नाम दर्ज करने के लिए आवेदन प्ररूप-6, अप्रवासी निर्वाचकों मतदाता सूची में नाम दर्ज करने के लिए प्ररूप-6क,विद्यमान निर्वाचक नामावली में अपना नाम अधिप्रमाणन के प्रयोजन के लिए आधार संख्या की सूचना के लिए प्ररूप-6 ख, मतदाता सूची में से नाम हटवाने के लिए आवेदन प्ररूप-7 तथा मौजूदा निर्वाचक नामावली में प्रविष्टियों का सुधार करने, एपिक प्रतिस्थापित करने, दिव्यांगजनों को चिन्हित करने और निवास स्थानान्तरण करने के लिए प्ररूप-8 पर आवेदन कर सकते हैं।
================================================
ऑनलाईन छात्रवृति के लिए 31 अक्तूबर तक आवेदन करें
हमीरपुर 16 अगस्त- उपनिदेशक शिक्षा उच्चतर बीडी शर्मा ने हमीरपुर जिला के समस्त राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक/उच्च/ प्रईवेट पाठशालाओं के प्रधानाचार्य / मुख्याध्यापकों से कहा है कि 31 अक्तूबर, 2022 तक ऑनलाईन छात्रवृति आवेदन करने के लिए National Scholarship पर आवेदन कर सकते हैं। उन्होंने प्रधानाचार्य/मुख्याध्यापक,पात्र विद्यार्थियों का छात्रवृति आवेदन निर्धारित तिथि से पहले करवाना सुनिश्चित कर लें ताकि कोई भी पात्र विद्यार्थी छात्रवृति लाभ से वंचित न रहे। इसके अतिरिक्त प्रधानाचार्य/छात्रवृति नोडल यह भी सुनिश्चित करें कि पात्र विद्याार्थियों द्वारा जमा करवाए गए/ अपलोड किए गए प्रमाण पत्र सही है।
उन्होंने कहा कि किसी भी कोताही के लिए पाठशाला के मुखिया जिम्मेवार होंगे।

===================================================

23 अगस्त को आयोजित की जाएगी जिलास्तरीय लोकसंगीत प्रतियोगिता -निक्कू राम
हमीरपुर 16 अगस्त- जिला भाषा अधिकारी निक्कू राम ने बताया कि भाषा एवं संस्कृति विभाग प्रदेश की समृद्ध लोक संस्कृति के संरक्षण एवं संवद्र्धन तथा लोक संगीत को बढ़ावा देने के लिए सत्त प्रयासरत है। हिमाचल प्रदेश का लोकसंगीत मेलों, पर्वों, तीज-त्योहारों तथा नृत्यगीतों के माध्यम से विभिन्न लोकवाद्यों के साहचर्य से पनपता रहता है । इसके लय, भाव, नाद आदि के स्वरूप निजी हैं जो अपनी सरसता, मिठास, स्वर-साहित्य, नाद-सौन्दर्य एवं गंभीरता से आद्वितीय हैं तथा इसमें एक सरस प्रवाह है।
उन्होंने बताया कि हिमाचल सरकार द्वारा लोक संगीत के संरक्षण एवं संवद्र्धन के उद्देश्य से लता मंगेशकर स्मृति राज्य सम्मान तथा लोकसंगीत जिला स्तरीय एवं राज्य स्तरीय प्रतियोगिताएं आयोजित करने की नीति बनाई है इसी के अंतर्गत जिला के लोक संगीत को बढ़ावा देने के उद्देश्य से भाषा एवं संस्कृति विभाग जिला हमीरपुर द्वारा 23 अगस्त को प्रात: 10 बजे संस्कृति सदन सलासी में जिला स्तरीय लोकसंगीत प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें जिला हमीरपुर से सम्बन्ध रखने वाले सभी कलाकार भाग ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि यह प्रतियोगिता आयुवर्ग से दो वर्गों में आयोजित होगी। 16 वर्ष तक की आयु के कलाकार कनिष्ठ वर्ग में तथा 16 वर्ष से अधिक आयु के कलाकार वरिष्ठ वर्ग की प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं। इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को आयु एवं स्थाई निवास के सत्यापन हेतु सम्बन्धित कोई भी प्रमाण पत्र आधार कार्ड आदि की प्रतिलिपि साथ लानी होगी।
इसके अतिरिक्त प्रतियोगिता दो श्रेणियों में आयोजित होगी - पहली श्रेणी में विशुद्ध लोकसंगीत है जबकि दूसरी श्रेणी में समकालीन व आधुनिकता लिए हुए विलयात्मक लोकसंगीत। विशुद्ध लोकसंगीत की श्रेणी का हिमाचली लोकसंगीत कई विषयों पर आधारित है जिसका मनुष्य के जीवन से गहरा सम्बन्ध है। इन लोकगीतों का विषय सामान्य जीवन से लेकर इतिहास, धर्म, पुराण, प्रेम, वीर गाथाओं, देवस्तुतियों, ऋतुप्रभात और सामाजिक बन्धनों, सामाजिक उत्सवों आदि से सम्बन्धित है। हर्ष और वेदना दोनों ही प्रकार की अनुभूति इनमें होती है। उन्होंने बताया कि विशुद्ध लोक संगीत पर आधारित प्रतियोगिता में प्रतिभागियों से यह अपेक्षा रहेगी कि वे लोकसंगीत की मौलिकता को प्राथमिकता दें तथा जिस प्रकार लोकसंगीत परम्परागत रूप से गाया या बजाया जाता है उसी रूप में इसे प्रदर्शित करें।
उन्होंने बताया कि आधुनिकता की दौड़ में हिमाचल के लोक गीत अपनी परम्परा और मौलिकता को भूलते नजर आ आ रहे है। हिमाचल प्रदेश अपनी समृद्ध संस्कृति से सराबोर है। विलयात्मक लोकसंगीत की श्रेणी में ऐसे लोकसंगीत को रखा जाएगा जिसमें परम्परा लोकसंगीत के साथ -साथ आधुनिक संगीत का विलय हो। उन्होंने बताया कि
प्रत्येक प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागी को रूपये 11 हजार की पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी एवं राज्यस्तरीय प्रतियोगिता के लिए भेजा जाएगा। राज्यस्तरीय प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागी को रूपये 31 हजार की पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में प्रतिभागी को किसी भी प्रकार का यात्रा भत्ता/ दैनिक भत्ता आदि नहीं दिया जाएगा केवल मात्र विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी।
============================================
क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक 24 अगस्त को-अंकुश शर्मा
हमीरपुर 16 अगस्त-क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी अंकुश शर्मा ने जिला हमीरपुर के सभी वाहन मालिकों से कहा है कि क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक जो कि 6 जुलाई को क्षेत्रीय कार्यालस हमीरपुर में होनी निश्चित हुई थी। वह बैठक किन्हीं प्रशासनिक कारणों से स्थगित कर दी गई थी। उन्होंने बताया कि अब बैठक 24 अगस्त को क्षेत्रीय कार्यालय हमीरपुर में होगी। उन्होंने सभी वाहन मालिकों से कहा है कि जिन वाहन मालिकों ने वाहन/परमिट सम्बधी पहले आवेदन किया है वे 24 अगस्त को प्रात: 11 बजे क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक में उपस्थित हों।

==================================================

निर्वाचक नामावली में नाम सम्मलित करने हेतू 11 सितम्बर तक आवेदन कर सकते हैं-मनीष सोनी
हमीरपुर 16 अगस्त- भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचक नामावली को शुद्ध एवं त्रुटिरहित बनाए रखने के उदेश्य से मतदाता सूचियों में विद्यमान प्रविष्यिों का शुद्धिकरण एवं छूटे हुए पात्र/ मतदाताओं को सम्मलित करने का कार्य 38-हमीरपुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के प्रत्येक मतदान केंद्र में नामित अधिकारियों/ बूथ लेबल अधिकारियों के माध्यम से किया जाएगा।
निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी एसडीएम मनीष कुमार सोनी ने बताया कि मतदाता सूची के विशेष सारांश संसोधन-2022 (Special Summary Revision of Photo Electoral Roll-2022) के अंतर्गत बूथ लेबल अधिकारियों/ नामित अधिकारियों एवं नायब तहसीलदार निर्वाचन हमीरपुर के साथ बैठक आयोजित की गई। जिसमें बूथ लेवल अधिकारियों/ नामित अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि वह अपने-अपने मतदान केंद्र में छूटे हुए पात्र/ मतदाताओं को निर्वाचक नामावली में सम्मलित करने का कार्य करें। निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी एवं एसडीएम ने आगामी विधानसभा चुनाव-2022 के मध्यनजर नये मतदाताओं के नाम मतदाता सूचियों में दर्ज करने पर विशेष जोर दिया ताकि भारत निर्वाचन आयोग के लक्ष्य "कोई भी मतदाता ना छूटे" को शत प्रतिशत पूर्ण किया जा सके।
उन्होंने 1 अक्तूबर 2022 को 18 वर्ष या इससे अधिक आयु पूर्ण करने वाले अपंजीकृत पात्र नागरिकों को अपना नाम निर्वाचक नामावली में सम्मलित करने हेतू (online voter helpline app) या बूथ लेबल अधिकारियों में माध्यम से 16 अगस्त से 11 सितम्बर 2022 तक आवेदन करने बारे अपील भी समस्त जनता से की।
-0-
-