चंडीगढ़ : 10 अगस्त 2022-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले वर्ष स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर विभाजन की विभीषिका बारे कहा था कि भारतवासी बटवारे का दर्द भूल नहीं सकते और इसी दर्द को याद करते हुये 14 अगस्त को हर वर्ष विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मानाने की बात कही थी। इस पर अमल करते हुए भाजपा द्वारा देश भर मे 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाने का फैसला किया है और इसी कड़ी मे चंडीगढ़ भाजपा द्वारा भी यह दिवस बड़े पैमाने पर मनाया जाएगा। विभाजन विभिषिका स्मृति दिवस मनाने की तैयारियों को लेकर आज भाजपा कार्यालय में कार्यक्रम संयोजक एवं प्रदेश प्रवक्ता कैलाश चन्द जैन की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई ।बैठक में उनके साथ कार्यक्रम के प्रदेश सह संयोजक रवि कांत शर्मा, जिला संयोजक सतपाल वर्मा, इंदिरा सिंह, संजीव वर्मा, राजेश अरोड़ा व स्वराज उपाध्याय के अलावा कार्यक्रम से संबंधित कमेटी के सभी सदस्य उपस्थित रहे।
उक्त जानकारी देते हुए प्रदेश प्रवक्ता कैलाश चन्द जैन ने बताया कि बैठक में तय किया गया है कि इस कार्यक्रम के दौरान 14 अगस्त को सभी मण्डलों में शांति मार्च निकले जाएगें जिसमे विभाजन के दर्द झेल चुके विस्थापित विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे। विभाजन के दर्द को व इसकी सच्चाई को लोगो तक पहुचाने के उद्देश्य से प्रदेश के हर संगठनात्मक जिले में विभाजन विभीषिका के संदर्भ में प्रदर्शनी लगाई जाएगी , विस्थापित लोगों के अनुभवों पर आधारित वीडियो क्लिपिंग तैयार की जाएंगी जिन्हें सोसल मीडिया के माध्यम से लोगो तक पहुंचाया जाएगा तथा विभाजन की दशं झेल चुके परिवारों को सम्मानित भी किया जाएगा।
इसके अलावा विभाजन के दर्द की असलियत लोगो तक पहुचाने के प्रयास किये जायेंगे।