चंडीगढ़, 23 जून: इनेलो के प्रधान महासचिव एवं ऐलनाबाद के विधायक अभय सिंह चौटाला ने वीरवार को अग्निपथ योजना के खिलाफ आंदोलन कर रहे युवाओं की आवाज रक्षा मंत्री तक पहुंचाने के लिए केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखा। पत्र में रक्षा मंत्री से अग्निपथ योजना लागू न करने और सेना में खाली पड़ी नियमित स्थायी भर्ती करने की मांग की गई। अग्निपथ योजना को वापिस लेने के लिए बुधवार को इनेलो के प्रतिनिधि मंडल ने हरियाणा के राज्यपाल को ज्ञापन भी दिया था।
पत्र में रक्षा मंत्री को इस बात के लिए भी अवगत करवाया गया कि अग्निपथ योजना जमीनी हकीकत से परे है। हमारे युवा नौकरी पाने के लिए संघर्ष करते हैं और अक्सर ऐसी नौकरियां लेने के लिए मजबूर होते हैं जो उनकी योग्यता और क्षमता से काफी कम होती हैं। हर चार साल के बाद 74 प्रतिशत सैनिकों को नौकरी से निकाल दिया जाएगा, उसके बाद वो क्या करेंगे? यह नहीं भूलना चाहिए कि उन्हें जुझारू भूमिकाओं के लिए प्रशिक्षित किया जाता है और अगर उन्हें बड़ी संख्या में निराश बेरोजगारों की श्रेणी में शामिल होने के लिए मजबूर किया गया तो परिणाम विनाशकारी हो सकते हैं।
अंत में उन्होंने लिखा कि हम आशा करते हैं कि देश और युवाओं के हित में हम विफल सेनाओं के मॉडल का अनुसरण करने के बजाय अपने स्वयं का आत्म-निर्भर और ‘मेक इन इंडिया’ मॉडल बना रहे हैं। हमारा मॉडल हमारी शर्तों और जरूरतों के अनुसार होना चाहिए।