चंबा में हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह
चंबा, 26 जनवरी- चंबा के ऐतिहासिक चौगान में आज 73वां जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ। समारोह की अध्यक्षता करते हुए ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, पशुपालन व मत्स्य मंत्री वीरेंद्र कंवर ने ध्वजारोहण करके समारोह का शुभारंभ किया और पुलिस, होमगार्ड, एनसीसी की टुकड़ियों द्वारा प्रस्तुत मार्च पास्ट की सलामी ली। समारोह में विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ हंसराज विशिष्ट अतिथि के रूप में व सदर विधायक पवन नैयर, भरमौर पांगी के विधायक जियालाल कपूर , जिला कृषि उपज मंडी समिति के अध्यक्ष डी एस ठाकुर भी मौजूद रहे| समारोह के दौरान कोविड अनुरूप व्यवहार की अनुपालना को सुनिश्चित बनाते हुए विभिन्न सांस्कृतिक दलों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए |

अपने संबोधन के दौरान ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश देवभूमि के अलावा वीर भूमि के रूप में भी जानी जाती है। यहां के युवा सैन्य और सुरक्षा बलों में सेवा करने के लिए हमेशा तत्पर रहे हैं। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने सैनिकों व भूतपूर्व सैनिक परिवारों के लिए अनेक सुविधाएं प्रदान की हैं | वर्तमान में प्रदेश सरकार द्वारा युद्ध में शहीद हुए सैनिकों की बेटियों की शादी के लिए 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता भी प्रदान की जा रही है|
प्रदेश सरकार द्वारा युद्ध अथवा सैन्य ऑपरेशन में शहीद सैनिकों के आश्रितों को 20 लाख रुपए तथा अपंग हुए सैनिकों को 1 से अढाई लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है |
जवाब देह व पारदर्शी प्रशासन की दिशा में सरकार ने अनेक कदम उठाए हैं| मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन 1100, जनमंच और हिम प्रगति पोर्टल के माध्यम से लोगों की समस्याओं का घर द्वार पर ही समाधान किया जा रहा है|

अपने संबोधन में मंत्री ने केंद्र सरकार द्वारा संचालित उज्जवला योजना, प्रदेश सरकार की महत्वकांक्षी मुख्यमंत्री गृहणी सुविधा योजना, मुख्यमंत्री हिम केयर योजना, मुख्यमंत्री सहारा योजना, मुख्यमंत्री शगुन योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए नई मंजिलें- नई राहें योजना का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार हिमाचल के सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्ध है | उन्होंने कहा कि इसी दिशा में प्रदेश सरकार ने और प्रयास करते हुए प्रदेश में औद्योगिक निवेश को आकर्षित करने के लिए निवेशकों को कई प्रकार की राहतें एवं प्रोत्साहन दिए हैं | वर्ष 2019 में धर्मशाला में ग्लोबल इन्वेस्टर मीट के आयोजन के दौरान 96 हजार 721 करोड रुपए के 703 समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित हुए |

उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं के धरातल पर उतरने से प्रदेश के लगभग दो लाख लोगों को रोजगार मिलेगा।
उन्होंने कहा कि विकास की दिशा में और प्रयास करते हुए हमारी सरकार ने ग्राम पंचायतों की महत्वपूर्ण भूमिका को देखते हुए 412 नई ग्राम पंचायतों का गठन किया और तीन नगर निगमों का भी सृजन किया गया है |
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि आकांक्षी जिला होने के बावजूद भी जिला चंबा ने वैश्विक महामारी कोरोना की तमाम चुनौतियों का मुकाबला करते हुए विभिन्न क्षेत्रों में विकास, प्रगति व खुशहाली के नए आयाम स्थापित किए हैं | गत 4 वर्षों के दौरान मनरेगा के तहत एक करोड़ 89 लाख कार्य दिवस अर्जित किए जिस पर 524 करोड रुपए की धनराशि व्यय की गई |

कृषि के क्षेत्र में जिला में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत विभाग द्वारा बीजों, रसायनों तथा उपकरणों पर 33 करोड़ 17 लाख रुपए का अनुदान भी उपलब्ध कराया गया |

उन्होंने कहा कि भनौता में 4 करोड रुपए की लागत से निर्मित होने वाला भेड़ प्रजनन केंद्र का निर्माण कार्य भी अंतिम चरण पर है और यहीं पर एक करोड़ 20 लाख रुपए की लागत से कृत्रिम गर्भाधान प्रयोगशाला का भी निर्माण किया जा रहा है |

उन्होंने कहा कि बेसहारा गोवंश की समुचित व्यवस्था के लिए जिला में चार गौसदन कार्यशील है इसी दिशा में प्रदेश सरकार द्वारा और प्रयास करते हुए सलूणी के मंजीर में दो करोड़ की लागत से निर्मित 200 गोवंश क्षमता का गौसदन जल्द कार्यशील होगा | इसके अतिरिक्त भाटियात के तुनूहटी में 73 लाख से 100 गोवंश की क्षमता और सियुंता में 26 लाख रुपये की लागत से 50 गोवंश की क्षमता के गौसदनों का निर्माण किया जा रहा है |

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को दो पदम श्री अवार्ड मिले हैं इसमें जिला चंबा की ललिता वकील को कला के क्षेत्र में और जिला सिरमौर के प्रसिद्ध साहित्यकार एवं लोक गायक विद्यानंद सरैक को साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में पदम श्री अवार्ड से नवाजा जा रहा है |
ललिता वकील को इससे पहले भी चंबा रुमाल एवं लोक कला के संरक्षण और संवर्धन के लिए कई पुरस्कारों से नवाजा गया है इसके लिए उन्होंने हिमाचल प्रदेश की जनता और विशेषकर चंबा वासियों को बधाई भी दी |
इस मौके उपायुक्त डीसी राणा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस अरुल कुमार, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी अमित मेहरा, पंडित जवाहरलाल नेहरू राजकीय मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल डॉ रमेश भारती, जिला भाजपा अध्यक्ष जसवीर नागपाल व अन्य पदाधिकारी, पूर्व सैन्य अधिकारी, चंबा नगर परिषद पार्षद और विभिन्न विभागों के अधिकारी भी मौजूद रहे।
---------

गणतंत्र दिवस के समारोह पर बेहतरीन कार्यों के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशंसा पत्र द्वारा किया गया सम्मानित.....
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर द्वारा 73 वें जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस के समारोह के दौरान प्रधानाचार्य पंडित जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज चंबा रमेश भारती को कोविड-19 में उनके अथक प्रयासों एवं प्रशासनिक कार्यों के अलावा छात्रों को सर्जरी और प्रशिक्षण में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए, डॉक्टर सलोनी सूद सहायक प्रोफेसर निश्चेतक मेडिकल कॉलेज चंबा को कोविड-19 के रोगियों की व्यवस्था के लिए कठिन परिश्रम करने पर, डॉक्टर सुनील ठाकुर सीनियर रेजिडेंट एनेस्थीसिया को, डॉ संजय कुमार सहायक प्रोफेसर मेडिसन, श्रीमती जीवन लता वार्ड सिस्टर, डॉ जालम सिंह भारद्वाज एम ओ एच को कोविड-19 टीकाकरण अभियान के दौरान उनके अथक प्रयासों के लिए और एक नोडल अधिकारी के रूप में कोविड-19 पहली लहर से लेकर अब तक उनके सराहनीय कार्य के लिए, डॉ शैलजा सूर्य चिकित्सा अधिकारी को पूरे जिला में कोविड-19 टीकाकरण प्रक्रिया में एमडीआईओ का अतिरिक्त प्रभार देखने के लिए, श्री अनिल कुमार वीसीसीएम, श्री नारायण सिंह एमएचएस, श्री राजेश कुमार बीपीएम, श्रीमती हेमलता एचडब्ल्यू सी, श्री करण सिंह, श्री दिलीप सिंह, श्रीमती ललिता देवी फीमेल हेल्थ वर्कर, डॉक्टर अजय कौशल एम ओ सी एच किहार, श्री निधिया राम ठाकुर एमएचएस, श्री राजकुमार एमएचडब्ल्यू, रितेश फार्मासिस्ट, श्री ललित कुमार फार्मासिस्ट, श्रीमती रीना सी एच ओ, श्रीमती संगीता शर्मा फीमेल हेल्थ वर्कर, श्री सुनील कुमार एमएसडब्ल्यू को टीकाकरण कवरेज सुनिश्चित करने के लिए पुरस्कृत किया गया |
इसके अतिरिक्त पुलिस विभाग के निरीक्षक स्किनी कपूर प्रभारी थाना सदर चंबा को बेहतरीन कार्य के लिए, सहायक उप निरीक्षक कुलदीप कुमार प्रभारी पुलिस लाइन चंबा, सहायक उपनिरीक्षक रघुवीर सिंह, मुख्य आरक्षी दीपक कुमार, मुख्य आरक्षी मनजीत कुमार, मुख्य आरक्षी दिनेश कुमार मुख्य आरक्षी दीपक,मुख्य आरक्षी नीरज, मुख्य आरक्षी ग्यास लाल, मुख्य आरक्षी हेमराज आरक्षी पंकज,आरक्षी मनोहर लाल, आरक्षी मनीष कुमार, आरक्षी विक्रम सिंह को प्रशस्ति पत्र द्वारा पुरस्कृत किया गया
साहसिक खेल स्कीइंग का राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए हवलदार केवल कृष्ण को, संगीत एवं गाने के माध्यम से जिला पर्यटन विकास एवं जिला प्रशासन चंबा द्वारा चलाए गए महत्वकांक्षी चलो चंबा अभियान का राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर प्रचार प्रसार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने पर श्री गुलशन पाल प्रवक्ता संगीत को, श्री रवि किशन मीणा जिला सूचना विज्ञान अधिकारी चंबा को ऑनलाइन माध्यम से प्रचार-प्रसार करने में, श्री हंसराज चालक को ऑक्सीजन सिलेंडर के लाने व पहुंचाने में, चालक ज्ञानचंद, ओमप्रकाश, संजू, हेमराज प्राइवेट वाहन चालक, सनी तथा श्री दीपक भाटिया प्रधान प्रेरणा दा इंस्पिरेशन चंबा को सामाजिक कार्यों में उत्कृष्ट योगदान देने हेतु, इंजीनियर राहुल राठौर प्रिंसिपल गवर्मेंट आईटीआई लचोरी को डलहौजी में ऑक्सीजन प्लांट को स्थापित करवाने में, इंजीनियर विपिन शर्मा प्रिंसिपल गवर्नमेंट आईटीआई चंबा को 21 यूथ को ऑक्सीजन प्लांट तथा मेडिकल इक्विपमेंट्स तथा वेंटिलेटर इत्यादि स्थापित करने में सराहनीय योगदान के लिए, तथा संदीप कुमार नायब तहसीलदार सदर चंबा, श्री दिलीप सिंह फॉर मैन को, इंजीनियर विनीत, इंजीनियर अरुन को बेहतरीन कार्य करने के लिए सम्मानित किया गया इसके अतिरिक्त स्पोर्ट्स एक्टिविटीज में फरहान मिर्जा को, कैफ खान को हिमाचल कला उत्सव में 2 डी पेंटिंग्स के लिए भी पुरस्कृत किया गया |
इसके अतिरिक्त परेड में शामिल पुलिस होमगार्ड के अधिकारी व जवानों को, एनसीसी के छात्र व छात्राओं को भी पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया |
सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले नाट्य दलों को भी पुरस्कृत किया गया |
==============================

ग्रामीण विकास से जुड़े विभाग कलस्टर आधारित योजनाओं पर रखे फोकस- वीरेंद्र कंवर

एक साल पांच काम के तहत विभिन्न कार्यों में रखे प्राथमिकता

पंचायतों में लंबित कार्यों को माह मार्च तक पूरा करना बनाया जाए सुनिश्चित

योजनाओं की रूपरेखा तैयार करने से पहले जनप्रतिनिधियों से भी किया जाए विचार-विमर्श

चंबा ,26 जनवरी-ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि ग्रामीण विकास से जुड़े सभी विभाग समूह आधारित गतिविधियों पर फोकस रखते हुए कन्वर्जेंस के माध्यम से विभिन्न योजनाओं का कार्यान्वयन सुनिश्चित करें ।

वे आज बचत भवन में आयोजित विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे ।

उन्होंने यह निर्देश भी दिए कि विकास योजनाओं की रूपरेखा तैयार करने से पहले स्थानीय जनप्रतिनिधियों से विचार- विमर्श करना सुनिश्चित बनाया जाए ताकि कार्यान्वित की जाने वाली योजनाओं से अधिकाधिक लोगों को जोड़ा जा सके ।

बैठक में विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ हंसराज, विधायक भरमौर जिया लाल कपूर , स्थानीय विधायक पवन नैय्यर , अध्यक्ष कृषि उपज मंडी समिति डीएस ठाकुर और जिला भाजपा अध्यक्ष जसवीर नागपाल भी विशेष रूप से मौजूद रहे ।

बैठक के दौरान ग्रामीण विकास विभाग के तहत विभिन्न विकासात्मक कार्यों की समीक्षा करते हुए वीरेंद्र कंवर ने ज़िला के सभी विकास खंडों में एक साल पांच काम के तहत विभिन्न योजनाओं में प्राथमिकता रखने के निर्देश जारी किए ।

उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि विभिन्न पंचायतों में लंबित कार्यों को माह मार्च तक पूरा करना सुनिश्चित बनाया जाए ।

उन्होंने पंचायती राज, कृषि , पशुपालन विभाग की ग्रामीण विकास में महत्वपूर्ण भूमिका के मद्देनजर समूह आधारित गतिविधियों को कन्वर्जेंस के माध्यम से कार्यान्वित करने व योजनाओं को अपेक्षा के अनुरूप व्यवहारिक रूप देने के लिए संयुक्त तौर पर कार्यवाही करने को भी कहा ।

कृषि विभाग द्वारा किए जा रहे विभिन्न कार्यों की समीक्षा के दौरान वीरेंद्र कंवर ने फसल विविधीकरण की आवश्यकता पर जोर देते हुए ज़िला में किसानों के आर्थिक उत्थान के लिए नयापन दिखाने की बात भी कही ।

उन्होंने किसानों को सूक्ष्म सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए विभाग को आवश्यक कदम उठाने के निर्देश जारी किए ।

ज़िला में जल स्त्रोतों से संबंधित किए जा रहे कार्यों की तारीफ करते हुए वीरेंद्र कंवर ने कहा की बावड़ियों इत्यादि के संरक्षण से संबंधित किए जाने वाले कार्यों के साथ सूक्ष्म सिंचाई सुविधा को भी जोड़ा जाना चाहिए ताकि सूखे की स्थिति के दौरान किसानों को बेहतर सिंचाई सुविधा उपलब्ध हो सके ।

इससे पहले उपायुक्त डीसी राणा ने ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर का स्वागत करते हुए विभिन्न विभागों द्वारा कार्यान्वित की जा रही योजनाओं के तहत अर्जित उपलब्धियों का ब्यौरा रखा ।

उन्होंने यह भी बताया कि ज़िला में कलाकारों और शिल्प कारों के उत्कृष्ट उत्पादों को ऑनलाइन बेहतर बाजार उपलब्ध करवाने के लिए मोबाइल ऐप तैयार किया गया है।

इसके अलावा चंबा थाल और सलूणी क्षेत्र की मक्की और भटियात क्षेत्र के लाल चावल को जीआई टैग उपलब्ध करवाने के लिए आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं ।

बैठक में पशुपालन और मत्स्य विभाग से संबंधित विभिन्न योजनाओं पर भी विस्तृत चर्चा की गई ।

इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस अरुल कुमार, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी अमित मैहरा, उप निदेशक एवं परियोजना अधिकारी ग्रामीण विकास अभिकरण चंद्रवीर सिंह, उप निदेशक कृषि विभाग कुलदीप धीमान, उपनिदेशक पशुपालन डॉ राजेश सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।