ऊना, 23 जनवरी - ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, कृषि, मत्स्य व पशुपालन मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने आज कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र के भ्यांम्बी स्थित भीमाकाली मदिर में पूजा अर्चना करके और गुग्गा जाहर वीर मंदिर, अलसाहन में माथा टेक कर संपर्क से समर्थन यात्रा का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने लगभग 4.13 करोड़ से अप्पर थाना से कुट, चराड़ा, भ्यांम्बी, हरिजन बस्ती अलसाहन तक निर्मित होने वाले संपर्क मार्ग और अलसाहन में 15 लाख से बनने वाली पंचवटी वाटिका का भूमिपूजन भी किया। अलसाहन से शुरु हुई यात्रा का आज पिपलू मे ठहराव हुआ।
इस मौके पर अलसाहन में जनसभा को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि संपर्क से समर्थन यात्रा का मुख्य उद्देश्य कुटलैहड़ विधानसभा क्षत्र में गत चार वर्षों में किए गए विकास कार्यों की जानकारी जन-जन तक पहुंचाना है। उन्हांेने बताया कि विगत चार वर्षों में कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र मे विभिन्न विकास परियोजनाओं पर करोड़ों रुपये व्यय किए गए हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व व मार्गदर्शन से कुटलैहड़ विस विकास के पथ पर निरंतर अग्रसर है। उन्होंने बताया कि कुटलैहड़ वासियों की सुविधा के लिए बंगाणा में फायर स्टेशन व उपरोजगार कार्यालय का शुभारंभ किया गया है। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पिपलु व बुधान में विज्ञान की कक्षाएं और बंगाणा काॅलेज में एमए इंग्लिश व हिन्दी और एमकाॅम की कक्षाएं आरंभ होने से विद्यार्थियों को काफी लाभ हुआ है। इसके अलावा कोठी गैहरा में 50 करोड़ रूपये से अटल आदर्श विद्यालय बनाया जा रहा है।
वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि बंगाणा में 19.52 करोड़ से मिनी सचिवालय और 10 करोड़ सेे बीडीओ कार्यालय के निर्माणाधीन भवनों का कार्य युद्धस्तर पर जारी है। सिविल अस्पताल बंगाणा व सीएचसी थानाकलां को अपग्रेड कर 50 बेड का किया गया है। सीएचसी थानाकलां को 24 घंटे क्रियाशील किया गया है। हेल्थ सब सेंटर हरोट तथा डीहर में स्वीकृत किए गए हैं। पीएचसी चमायड़ी शुरू हो गई जबकि पीएचसी थानाकलां में 5 करोड़ रुपये अतिरिक्त भवन निर्माण के लिए दिए गए हैं।
उन्होंने बताया कि कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र को जल जीवन मिशन के तहत 50 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं जबकि 15 करोड़ रुपए की लागत से कोहडरा-तूतडू पेयजल योजना का निर्माण कार्य आरंभ हो चुका है, जिससे पानी की समस्या समाप्त होगी। इसके अलावा 11 करोड़ की लागत से रामगढ़धार पेयजल योजना पूर्ण होने की ओर अग्रसर है और क्षेत्र में वर्षा जल संग्रहण के लिए दो परियोजनाएं स्वीकृत की गई है। समूर व सनाहल में 16.38 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले डैम का कार्य शुरू किया जा चुका है। इसके अलावा डीहर, चरोली, चंबोआ व धनेत में सिंचाई योजना के लिए 5.38 करोड़ रूपए की योजना पर भी कार्य शुरू हो चुका है।
इस अवसर पर जिला परिषद उपाध्यक्ष कृष्ण पाल शर्मा, मंडलाध्यक्ष मास्टर तरसेम लाल, ग्राम पंचायत प्रधान वीना देवी, उपप्रधान अरुण कुमार, गुग्गा जाहरवीर मंदिर सेवा समिति के प्रधान पवन कुमार शर्मा, हटली के उपप्रधान सुरेन्द्र हटली, कैप्टन प्रीतम, राजेन्द्र सिंह, मंगल सिंह, विनोद कुमार, बीडीओ यशपाल सिंह परमार, सहित अन्य उपस्थित रहे।