मंडी, 3 दिसंबर। हिमाचल में कोरोना के नए वैरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ का कोई मामला नहीं है। लेकिन हिमाचल सरकार इसकी किसी भी संभावना से निपटने को लेकर पूरी तरह सतर्क है। इसके मद्देनजर जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने शुक्रवार को मेकशिफ्ट कोविड अस्पताल भंगरोटू का दौरा किया और अस्पताल प्रबंधन से ‘ओमिक्रॉन’ की किसी भी संभावना से निपटने को लेकर पूर्व तैयारियों का ब्योरा लिया। उन्होंने अस्पताल में मरीजों के उपचार और देखभाल की व्यवस्था जानने के अलावा ऑक्सीजन प्लांट सहित अन्य प्रबंधों की जानकारी ली। मंत्री ने सभी से सतर्कता और बचाव के लिए आवश्यक सावधानी बरतने का आग्रह किया।
श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉजेल एवं अस्पताल के उप चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राकेश मोहन ने जलशक्ति मंत्री को कोविड अस्पताल भंगरोटू में उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाओं का ब्योरा दिया। उन्होंने बताया कि मंडी समेत पूरे हिमाचल में ‘ओमिक्रॉन’ का कोई मामला नहीं आया है। वर्तमान में जिला में कोविड की स्थिति नियंत्रण में है। मेकशिफ्ट कोविड अस्पताल भंगरोटू में वर्तमान में केवल 4 मरीज उपचाराधीन हैं। अस्पताल प्रबंधन की कोविड से जुड़ी किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य समस्या से निपटने को लेकर पूरी तैयारी है।
.0.