मैहतपुर व चिंतपूर्णी में लगेगा इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टमः डीसी
उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने की जिला स्तरीय रोड सेफ्टी समिति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता
ऊना, 24 नवंबर: उपायुक्त ऊना राघव शर्मा की अध्यक्षता में आज जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की एक समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए डीसी ने कहा कि मैहतपुर व चिंतपूर्णी में इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमैंट सिस्टम लगाया जाएगा, जिससे ट्रैफिक नियमों की अवहेलना के चालान कैमरा स्वतः करेगा।
डीसी ने कहा कि पुलिस विभाग ने 77.40 लाख रुपए से जिला ऊना में ट्रैफिक कंट्रोल रूम स्थापित करने का प्रस्ताव दिया है। इसके अतिरिक्त लगभग 35 लाख रुपए का प्रस्ताव जिला के मुबारिकपुर, गगरेट, टाहलीवाल तथा ऊना शहर के डीसी कार्यालय चौक पर ट्रैफिक लाइट्स लगाने के लिए प्राप्त हुआ है। राघव शर्मा ने कहा कि प्रदेश का प्रथम ट्रैफिक पार्क बनाने का प्रस्ताव भी है जिसके लिए क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी कार्यालय के पास अढ़ाई कनाल भूमि का चयन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनवरी माह को रोड सेफ्टी माह के रूप में मनाया जाएगा। एनएच अधिकारियों को निर्देश देते हुए उन्होंने कि वाहनों की गति पर नियंत्रण पाने के लिए उचित स्थानों पर गति संकेतक बोर्ड प्रदर्शित करें।
राघव शर्मा ने कहा कि ऊना जिला में 21 ब्लैक स्पॉट चिन्हित किए हैं। उन्होंने इन चिन्हित स्थानों पर संबंधित विभाग के अधिकारियों को थर्मोप्लास्टिक, स्पीड ब्रेकर, स्पीड बोर्ड व क्रॉस बैरिकेड लगाने के निर्देश दिए। राघव शर्मा ने उपमंडलाधिकारी, पुलिस विभाग व आरटीओ को संयुक्त रूप से स्कूल के वाहनों का समय-समय पर निरीक्षण करने के साथ-साथ वाहन चालक व परिचलाक की वैरिफिकेशन करने को भी कहा। उपायुक्त ने ट्रैफिक नियमों की अवहेलना पर सख्ती करने के निर्देश देते हुए कहा कि पेट्रोल पंप पर नो हैल्मेट, नो पेट्रोल का निमय शुरू किया जाए।
इस मौके पर क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी रमेश चंद कटोच ने कहा कि अधिकांश सड़क दुर्घटनाओं का कारण मानवीय भूल व सुरक्षा नियमों की अनदेखी करना है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वह वाहन चलाते समय हैल्मेट और सीट बेल्ट का प्रयोग करना अवश्य सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर एसडीएम डॉ. निधि पटेल, डीएसपी ऊना कुलविंद्र सिंह, आरटीओ रमेश चंद कटोच, रोड सेफ्टी ऊना के अध्यक्ष डॉ सुभाष शर्मा, अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग राजेश कुमार, सहायक अभियंता एनएच रणजीत सिंह, राजीव भनोट सहित समिति के अन्य सदस्य उपस्थित रहे।
===================================
ऊना की प्रभजोत कौर को जिला प्रशासन ने दिया गरिमा सम्मान
ऊना, 24 नवंबरः उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने आज ऊना के वार्ड नंबर 4 की निवासी प्रभजोत कौर को गरिमा सम्मान प्रदान किया। डीसी ने गरिमा सम्मान के तहत प्रभजोत को प्रशस्ति पत्र, शॉल व टोपी पहनाकर सम्मानित किया। इसके अतिरिक्त उन्होंने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत मेरे गांव की बेटी मेरी शान योजना के तहत उनकी उपलब्धियों को दर्शाता बोर्ड भी प्रदान किया। इस सम्मान के लिए प्रभजोत कौर ने उपायुक्त ऊना राघव शर्मा का धन्यवाद किया।
राघव शर्मा ने कहा कि प्रभजोत कौर एक अभिनेत्री, मॉडल तथा मीडिया इंफ्लूएंसर हैं तथा वह स्वाबलंबन की एक मिसाल पेश कर रही हैं। उन्होंने कहा कि गरिमा योजना के तहत महिला उद्यमिता को प्रोत्साहित करने के लिए सम्मानित किया जाता है, ताकि समाज के समक्ष वह एक रोल मॉडल के रूप में प्रस्तुत हों तथा अन्य महिलाएं भी उनसे प्रेरणा लेकर समाज में आगे बढ़ें।
इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी आईसीडीएस सतनाम सिंह व सीडीपीओ कुलदीप दयाल भी उपस्थित रहे।
=======================================
ई-ग्राम स्वरोज पोर्टल बारे दिया जा रहा प्रशिक्षण
ऊना, 24 नवंबर: 15वें वित्तायोग के कार्यों के सुचारु निष्पादन के उद्देश्य से ई-ग्राम स्वराज पोर्टल बारे जिला के समस्त पंचायत निरीक्षकों, उपनिरीक्षकों, लेखापाल और सचिवों के लिए जिला परिषद भवन में प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। इस बारे जानकारी देते हुए उपायुक्त, ऊना राघव शर्मा ने बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत वीरवार 25 नवंबर को सायं 3 से 5 बजे के दौेरान विकास खंड ऊना से संबंधित निरीक्षकों, उपनिरीक्षकों, लेखापाल और सचिवों के स्वरोज पोर्टल बारे विस्तृत जानकारी प्रदान की जाएगी। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व 22 व 23 नवंबर को विकास खंड बंगाणा, अंब, गगरेट और हरोली से संबंधित प्रतिभागियों को इस बारे विस्तृत जानकारी प्रदान करने हेतु प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए गए हैं।
डीसी ने बताया कि ई-ग्राम स्वरोज पोर्टल बारे प्रदान किए जा रहे प्रशिक्षण का मुख्य लक्ष्य है कि 15वें वित्तायोग के तहत पंचायत समिति और पंचायत स्तर पर लंबित पड़ी राशि को डीएससी के माध्यम से तय सीमा के भीतर खर्च किया जा सके। ========================================
डीसी राघव शर्मा ने आहुतियां डाल कर की गायत्री अग्निहोत्र की शुरुआत
ऊना, 24 नवंबरः उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने जिला परिषद सभागार में आहुतियां डालकर गायत्री अग्निहोत्र की शुरूआत की। इस दौरान आज़ादी का अमृत महोत्सव के तहत स्वाधीनता के 75 वर्ष विषय पर संगोष्ठी का आयोजन भी किया गया। अपने संबोधन में जिलाधीश राघव शर्मा ने कहा कि भारत की पहचान प्रत्येक व्यक्ति के व्यक्तित्व पर निर्भर करती है। उन्होंने कहा कि यदि देश का कोई भी व्यक्ति अच्छे कार्य करता है, तो देश बेहतर बनता है और यदि कोई अनुचित व्यवहार करता है, तो देश की छवि बिगड़ती है। अच्छे कार्यों से ही देश का भविष्य सुरक्षित है तथा देश सेवा के लिए प्रत्येक भारतवासी को निरंतर प्रयासरत रहने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि हमें तीन विषयों पर सोचने की आवश्यकता है कि भारत क्या था, कैसा होना चाहिए और क्यों होना चाहिए।
इस अवसर पर मुख्य वक्ता ओम प्रकाश ने स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद किया। उन्होंने ऊना जिला के स्वतंत्रता सेनानी सत्यभूषण शास्त्री जी का जिक्र करते हुए कहा कि 93 वर्ष की आयु में भी वह समाज सेवा के लिए तत्पर रहते थे। उन्होंने कहा कि देशभक्ति केवल देश की कमियां निकालने से नहीं है, बल्कि हमें उन कमियों को दूर करने के लिए प्रयास करने होंगे। हम अपने आसपास सफाई व्यवस्था, गरीबों की सहायता करने व समाज के हर वर्ग से सम्पर्क बनाकर रखें, जिससे हमारा समाज एकजुट होकर रहे। ओम प्रकाश ने कहा कि बहुत सारी शक्तियां भारत के विरुद्ध कार्य कर रहीं है तथा उनसे लड़ने के लिए हमें अपने कर्त्तव्यों का निर्वहन करना बहुत आवश्यक है।
इस अवसर पर डॉ. हेमराज शर्मा, डॉ.चमन सिंह चौहान, प्रताप, गौरी शंकर, शांति स्वरूप, सुनिद्धि शर्मा, एडवोकेट दीपक शर्मा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।
====================================
ऊना के इंदिरा गाँधी खेल परिसर में 27 नवंबर से 1 दिसंबर तक आयोजित होगी राष्ट्रीय खो-खो प्रतियोगिता
राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर करेंगे खेलों का शुभारम्भ
देश भर से 60 से अधिक टीमें पहुंचेंगी हिमाचल प्रदेश की देव भूमि में
ऊना, 24 नवंबर: ऊना के इंदिरा गाँधी खेल मैदान में 27 नवंबर से 1 दिसम्बर तक 31वीं सब जूनियर राष्ट्रीय प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। आज यहां हिमाचल प्रदेश खो- खो संघ और प्रतियोगिता आयोजन समिति के अध्यक्ष राकेश ठाकुर ने पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए बताया कि प्रतियोगिता का शुभारम्भ प्रातः 11 बजे हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर करेंगे, जबकि हिमाचल प्रदेश के ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, पशु पालन ब मतस्य पालन विभागों के मंत्री वीरेंद्र कँवर समापन समारोह के मुख्यातिथि होंगे। हिमाचल प्रदेश राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती 28 नवंबर को इंदिरा गाँधी खेल परिसर में सांस्कृतिक कार्यक्रम के मुख्यातिथि होंगे। जबकि चिंतपूर्णी के विधायक बलबीर सिंह, गगरेट के विधायक राजेश ठाकुर, हिमुडा उपाध्यक्ष प्रवीण शर्मा और हिमाचल प्रदेश औद्योगिक विकास निगम के उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार भी प्रतियोगिता के समारोहों के दौरान वशिष्ठ अतिथि रहेंगे।
राकेश ठाकुर ने बताया कि इस प्रतियोगिता को हिमाचल प्रदेश में आयोजित करने के लिए केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण, खेल और युवा मामले व् खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर के विशेष प्रयास रहे हैं। उन्होंने बताया कि अनुराग ठाकुर ने स्वयं इस प्रतियोगिता के दौरान व्यक्तिगत रूप से उपस्थित रहकर खिलाड़िओं से रूबरू होने की इच्छा ज़ाहिर की थी, लेकिन अपनी व्यस्तताओं के चलते वे इस प्रतियोगिता में उपस्थिति दर्ज नहीं कर पा रहे है।
राकेश ठाकुर ने जानकारी दी कि देश के विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से 14 वर्ष से कम आयु वर्ग की बालिका एवं बालक वर्गों की लगभग 60 टीमों के 750 से अधिक खिलाड़ी प्रतियोगिता में भाग लेंगे। इसके अलावा भारतवर्ष से 300 से अधिक खेल आयोजक, भारतीय खो-खो संघ और प्रांतीय खो खो संघों से लगभग 400 लोग हिमाचल प्रदेश की देव भूमि में पधारेंगे। इन 5 दिनों के दौरान भारत वर्ष के विभिन्न राज्यों से आये बच्चे व खेल आयोजक एक दुसरे की संस्कृति, भाषा और रहन-सहन से रूबरू होंगे, जबकि हिमाचल प्रदेश के लोगों को विशेष रूप से यहां के आतिथ्य भाव, सांस्कृतिक परम्पराओं, भाषा, वेश भूषा, खान पान और प्राकृतिक सौंदर्य से आगंतुकों को परिचय करवाने का सुअवसर भी मिलेगा। यह प्रतियोगिता केवल भारत के पारम्परिक खेल खो खो में उत्कृष्टता की बाजी तक सीमित न रह कर भारत की ‘अनेकता में एकता’ के सत्य को परिलक्षित करने में भी अहम भूमिका निभाएगी।
हिमाचल प्रदेश खो-खो संघ के प्रधान अभिषेक ठाकुर ने बताया कि खेलों के शुभारम्भ से पूर्व ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ के सन्देश बारे जन जागरूकता को लेकर एक रैली का आयोजन किया जायेगा जिसमें देश के कोने-कोने से यहां पहुंचे खिलाड़ी भाग लेंगे। 27 नवंबर को प्रातः साढ़े आठ बजे नगर परिषद् पार्क के सामने मैदान से इस जन जागरूकता रैली को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया जायेगा जिस के बाद रैली का समापन इंदिरा गाँधी खेल परिसर में प्रातः साढ़े 9 बजे होगा ।
ऊना जिला परिषद् के उपाध्यक्ष और जिला खो-खो संघ के उपाध्यक्ष कृष्ण पाल शर्मा ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में पहली बार अंतरराष्ट्रीय स्तर के मैटों पर खो-खो खेलों का आयोजन किया जायेगा, जिस से ऊना जिला के उभरते हुए खिलाड़ी भी इस खेल की ओर आकर्षित हांेगे। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता के दौरान खेल मैदान में 4 अलग-अलग कोर्ट स्थापित किये जाएंगे जबकि रात्रि के समय फ्लड लाइटों की रोशनी में भी मैचों का आयोजन किया जायेगा।
हिमाचल प्रदेश खो खो संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एल आर वर्मा, महासचिव देवी दत्त तनवर, ऊना जिला खो खो संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी राजेश शर्मा और प्रवीण दुबे ने बताया कि देश के वियभिन्न प्रांतों से ऊना मैं टीमों का आगमन 25 नवंबर से आरम्भ हो जायेगा। उन्होंने ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कँवर और राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती का इस प्रतियोगिता के आयोजन के लिए उनके मार्गदर्शन का आभार जताया। उन्होंने बताया कि खिलाड़िओं और खेल अधिकारिओं के रहने और भोजन की व्यवस्था की ज़िम्मेवारी, ऊना जिला के उपायुक्त राघव शर्मा की अगुवाई में जिला प्रशासन के सहयोग से हिमाचल प्रदेश खो-खो संघ और ऊना जिला खो-खो संघ द्वारा की जा रही है।
====================================
पुलिस विभाग में कांस्टेबल के भरें जाएंगे 9 पद
ऊना, 24 नवंबर: पुलिस अधीक्षक संचार एवं तकनीकी सेवाएं शिमला द्वारा भूतपूर्व सैनिकों के आश्रितों के लिए कांस्टेबल के 9 पद अधिसूचित किए गए हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला रोजगार अधिकारी ऊना अनीता गौतम ने बताया कि अनारक्षित श्रेणी में 6 पद, ओबीसी श्रेणी में 2 पद व एसटी श्रेणी में 1 पद भरें जाएंगे। उन्होंने बताया कि इन पदों के लिए शैक्षणिक योग्यता दसवीं पास के साथ-साथ साईंस या इलैक्ट्राॅनिक एंड टेलीकम्युनीकेशन या सूचना प्रौद्योगिकी में इंजीनिरिंग में डिप्लोमा उत्तीर्ण होना चाहिए। उन्होंने बताया कि यह पद केवल भूतपूर्व सैनिकों के आश्रितों के लिए भरे जाने हैं। यह स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों के लिए नहीं हैं।
अनीता गौतम ने बताया कि अभ्यार्थी की 1 नवंबर, 2021 तक आयु सीमा अनारक्षित वर्ग में 20 से 25 वर्ष, ओबीसी व एसटी वर्ग में 20 से 27 वर्ष होनी चाहिए। उन्होंने इच्छुक अभ्यार्थियों से आहवान किया है कि वह अपने संबंधित रोजगार कार्यालय में 30 नवंबर तक सम्पर्क करना सुनिश्चित करें ताकि उनके नाम विभाग को प्रायोजित किये जा सके।
उन्होंने कहा कि यदि किसी पात्र स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों ने रोजगार कार्यालय में नाम दर्ज नहीं करवाया है तो वह संबंधित रोजगार कार्यालय में अपना नाम दर्ज करवाएं।
==================================
जनकल्याणकारी योजनाओं के प्रति जागरूक करने हेतू शिविर आयोजित
ऊना, 24 नवंबर: प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व स्वर्ण जयंती समारोह के तहत आज ग्राम पंचायत धर्मशाला महंतां में जिला उद्योग विभाग द्वारा एक दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया। शिविर की अध्यक्षता चिंतपूर्णी विधानसभा क्षेत्र के विधायक बलवीर चैधरी ने की। शिविर में प्रदेश सरकार द्वारा जन कल्याण में क्रियान्वित की जा रही विभिन्न योजनाओं की विस्तृत जानकारी लोगों को दी गई। शिविर में लगभग 10 पंचायतों के पंचायत प्रतिनिधियों तथा स्थानीय लोगों ने भाग लिया।
चिंतपूर्णी विधायक बलवीर चैधरी ने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा अनेकों योजनाएं चलाई जा रही है। उन्होंने युवाओं से कल्याणकारी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाकर स्वयं को आत्मनिर्भर बनाने तथा दूसरों को भी रोजगार के साधन उपलब्ध करवाने की अपील की। उन्होंने उपस्थित सभी पंचायत प्रतिनिधियों से कहा कि वह सरकार द्वारा क्रियान्वित की जा रही कल्याणकारी योजनाओं का अपनी पंचायतों में प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करें ताकि अंतिम छोर पर बैठे गरीब तबके तक इन योजनाओं का लाभ पहुंच सके।
प्रतिभागियों को मुख्यमंत्री स्बावलंबन योाजना, पीएम फोरमेलाईजेशन आॅफ माईक्रो फूड प्रोसैसिंग एंटरप्राईजिज तथा प्रधानमंत्री स्वरोजगार सृजन कार्यक्रम बारे में भी विस्तृत जानकारी दी गई।
इस अवसर पर महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र ऊना अंशुल धीमान, उप निदेशक पशुपालन विभाग, खंड विकास अधिकारी अंब सहित अन्य अधिकारी व स्थानीय लोग उपस्थित रहे।
===============================
9 दिसंबर तक हर मतदान केंद्र पर मतदाता सूचियां निरीक्षण के लिए उपलब्ध
ऊना, 24 नवंबर - भारत निर्वाचन आयोग द्वारा 1 जनवरी 2022 को अहर्ता तिथि मानते हुए फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त पुनर्रीक्षण-2022 का आयोजन किया जा रहा है। यह जानकारी देते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने बताया कि 10 नवंबर से 09 दिसंबर तक प्रत्येक मतदान केंद्र पर संबंधित भाग की फोटोयुक्त मतदाता सूचियां निरीक्षण हेतू उपलब्ध रहेंगी।
उन्होंने बताया कि पुनर्रीक्षण के दौरान पात्र नागरिक जिनकी आयु दिनांक 1 जनवरी, 2022 को अठारह वर्ष या इससे अधिक हो गई है, वे अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करवा सकते हैं। इसके अत्तिरिक्त मतदाता सूची की किसी प्रविष्टि की शुद्धि करवाने, मतदाता सूची से अपात्र, मृत व्यक्तियों के नाम हटाने या निर्वाचन क्षेत्र के एक मतदान केंद्र से दूसरे मतदान केंद्र पर नाम स्थानांतरित करवाने हेतु समुचित प्ररूप (फार्म) भरकर दावे व आक्षेप प्रस्तुत किए जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि सभी प्राप्त दावों व आक्षेपों का निपटारा संबधित निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारी द्वारा 31 दिसंबर, 2021 तक किया जाएगा तथा 15 जनवरी, 2022 को फोटो युक्त मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन कर दिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि वर्तमान फोटायुक्त मतदाता सूचियों में कोई भी व्यक्ति अपना नाम दर्ज होने की पुष्टि विभागीय बेवसाईट http://ceohimachal.nic.in पर भी कर सकते हैं। इसके अलावा वोटर हेल्पलाईन मोबाइल ऐप व राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल में ई-रजिस्ट्रेशन की सुविधा भी उपलब्ध है।