कोरोना रोधी टीकाकरण की दूसरी डोज लगवाने के लिए आगे आएं लोग.....उपायुक्त
चंबा,13 अक्टूबर-उपायुक्त चंबा डीसी राणा ने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि जिला में कोरोना टीकाकरण अभियान में पहली डोज लगवाने के लिए पात्र लोग जिस तरह से आगे आए थे उसी तरह से दूसरी डोज लगवाने के लिए भी आगे आएं। उन्होंने कहा कि जिला में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आई है | अभी त्योहारों,शादियों और अन्य समारोहों का सीजन चल रहा है कोविड को लेकर अगर हम एहतियात नहीं बरतेंगे या फिर टीकाकरण की दूसरी डोज नहीं लेंगे तो तीसरी लहर तथा संक्रमित मामलों की संभावना और बढ़ जाएगी।
उपायुक्त ने बताया कि प्रदेश ने पूरे देशभर में कोरोना की पहली डोज लेने में प्रथम स्थान हासिल किया है और 30 नवंबर तक दूसरी डोज को शत प्रतिशत संपूर्ण करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।
उन्होंने बताया कि दूसरी डोज लगवाने का कार्य प्रगति पर है अभी तक जिला में सिर्फ 43 प्रतिशत लोगों ने ही वैक्सीन की दूसरी डोज ली है। जिले में करीब 70 हजार लोग ऐसे हैं जिनकी दूसरी डोज लगनी प्रस्तावित है लेकिन वे वैक्सीनेशन के लिए आगे नहीं आ रहे हैं।
उपायुक्त ने कहा कि आदमी के शरीर में इम्यूनिटी और एंटीबॉडीज तब तक नहीं बढ़ेगी जब तक वह वैक्सीनेशन की दोनों डोज नहीं लगा लेते, अगर एक डोज ली है और दूसरी नहीं ली तो एंटीबॉडीज नहीं बढ़ेगी और आने वाले समय में कोरोना से संक्रमित होने की संभावना बनी रहेगी।
उपायुक्त ने जानकारी देते हुए कहा कि जिन लोगों ने 84 दिन पहले प्रथम डोज ली हो वह दूसरी डोज लगवाने के लिए सक्षम है और पहली डोज का लाभ भी तभी होगा जब वे कोविड रोधी टीकाकरण की दूसरी डोज लगवाएंगे । उपायुक्त ने कहा कि त्योहारों और शादियों के सीजन के साथ साथ बच्चे स्कूल भी जाने लगे हैं उनको भी संक्रमण का खतरा पैदा हो सकता है और संपूर्ण जिला में कोविड संक्रमण के मामले फिर से आना शुरू हो सकते हैं इसलिए उपायुक्त ने सभी से आग्रह किया है कि कोरोना रोधी टीकाकरण की दूसरी डोज लगवाने के लिए आगे आएं और टीकाकरण के इस अभियान को संपूर्ण करने में भागीदारी सुनिश्चित बनाएं।
उन्होंने यह भी बताया कि कोविड-19 वैक्सीनेशन टीम को अलग-अलग जगहों पर भेजा जा रहा है और उनके समय में परिवर्तन करते हुए दोपहर 12 बजे से शाम 6 बजे तक कार्य करने के निर्देश जारी किए है ताकि खेतों में लोगों के काम में कोई बाधा ना आए और फ्री समय में टीकाकरण के लिए आ सकें।
उपायुक्त ने लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि लोग जब भी घर से निकल कर सार्वजनिक स्थानों पर आए तो मास्क और सैनिटाइजर का प्रयोग लगातार करें और सामाजिक दूरी की अनुपालन भी सुनिश्चित बनाएं ताकि संक्रमित होने की संभावना को कम किया जा सके।
=================================
दशहरा उत्सव के मद्देनजर उपायुक्त ने जारी किया आदेश...
चंबा,13 अक्टूबर-दशहरा उत्सव के मद्देनजर जिला दंडाधिकारी एवं अध्यक्ष जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण चंबा डीसी राणा ने कोरोना संक्रमण को लेकर एहतियातन जिला में धार्मिक स्थलों के प्रवेश पर कोरोना वायरस संबंधी मानक संचालन प्रक्रिया को लेकर आदेश जारी किये हैं ।
जारी आदेशों के मुताबिक विभिन्न मंदिरों व तीर्थ स्थलों के दर्शन करने में इच्छुक श्रद्धालुओं को जिला के मंदिरों और तीर्थ स्थानों में प्रवेश करने की अनुमति तभी दी जाएगी यदि उनके पास कोविड-19 टीकाकरण के दोनों डोज का प्रमाण पत्र या आरटीपीसीआर की नकारात्मक रिपोर्ट जो 48 घंटे के भीतर और अधिकृत प्रयोगशालाओं द्वारा जारी की गई हो।
आदेशों की अनुपालना और कोविड-19 के नियमों के उचित व्यवहार के लिए मंदिर अधिकारी,प्रबंध समिति और पुजारी पूरी तरह से जिम्मेदार होंगे। संबंधित क्षेत्रों के एसडीएम यह सुनिश्चित करेंगे कि आदेशों को सभी धार्मिक स्थलों पर लागू किया जाए और बाजार जैसे सार्वजनिक स्थलों पर नियमित निरीक्षण करना सुनिश्चित बनाएंगे । यह आदेश जिला चंबा में तत्काल प्रभाव से लागू होंगे और अगले आदेश तक जारी रहेंगे।
=================================
कोरोना वैक्सीनेशन की दूसरी डोज से ही इम्यून सिस्टम होगा मजबूत -जिला स्वास्थ्य अधिकारी
चंबा ,13 अक्टूबर -जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जालम भारद्वाज ने कहा की कोरोना वैक्सीनेशन की दूसरी डोज लगवाना बहुत जरूरी है, कोरोना वायरस के प्रति प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए दूसरी डोज से ही इम्यून सिस्टम शत प्रतिशत मजबूत होगा । अगर कोई व्यक्ति कोरोना से संक्रमित होता है दूसरी डोज लगने से कोरोना के लक्षण कम होंगे और घातक नहीं होंगे । लिहाजा लोग नजदीकी वैक्सीनेशन केंद्रों में त्योहारी वह खेती बाड़ी के सीजन को भी मद्देनजर रखते हुए तथा शहरी क्षेत्र में रहने वाले लोगों की सुविधा के लिए जारी शेड्यूल के मुताबिक वैक्सीनेशन करवाएं और इस अभियान को सफल बनाएं ।
===============================
भरमौर उपमंडल के दूरदराज ग्राम पंचायत कुगती में लोगों को दी ईवीएम और वीवीपैट की जानकारी

चंबा, 13 अक्टूबर-जिला रोजगार व नोडल अधिकारी अरविंद चौहान ने बताया कि आज स्वीप कार्यक्रम के उपमंडल भरमौर की दूरदराज ग्राम पंचायत कुगती में ग्रामीणों को ईवीएम और वीवीपैट मशीन की कार्यप्रणाली के बारे में अवगत करवाया।
इस दौरान गांव के बुजुर्गों को ईवीएम और वीवीपैट मशीन द्वारा वोट डालने और सत्यापन करने की विस्तृत जानकारी भी प्रदान की।
उन्होंने यह भी बताया कि लोगों को मतदान के महत्व के बारे में भी अवगत करवाया और मतदान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने के लिए प्रोत्साहित किया।
=================================
राजकीय महाविद्यालय किलाड़ में विद्यार्थियों को मतदान के लिए किया गया प्रेरित
चंबा 13 अक्टूबर-सहायक निर्वाचन अधिकारी एवं एसडीएम पांगी रजनीश शर्मा ने बताया कि सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता कार्यक्रम "स्वीप" के तहत आज उपमंडल पांगी में मतदान के प्रति मतदाताओं को प्रोत्साहित करने के लिए जागरूकता अभियान चलाया चलाया गया।
उन्होंने बताया कि उपमंडल पांगी के राजकीय महाविद्यालय किलाड़ में भी आज विद्यार्थियों को मतदान करने के लिए प्रेरित किया।
इस दौरान स्वीप कार्यक्रम के अंतर्गत विद्यार्थियों द्वारा नाटक और प्रश्नोत्तरी के माध्यम से सही तरीके से मतदान करने के लिए भी जागरूक किया।
===================================
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंडी ने लोगों को बांटी विधिक सेवाओं से जुड़ी प्रचार व शिक्षा सामग्री
मंडी, 13 अक्तूबर। पैन इंडिया अवेयरनेस एवं आउटरीच अभियान के तहत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंडी ने जिला में विभिन्न स्थानों पर लोगों को कानूनी अधिकारों एवं निशुल्क विधिक सेवाओं को लेकर जागरूक करने के लिए विशेष रूप से प्रकाशित शिक्षा व प्रचार सामग्री वितरित की। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव सूर्य प्रकाश ने बताया कि मंडी के अलावा गोहर, करसोग, सरकाघाट और जोगिंदर नगर में यह शिक्षा व प्रचार सामग्री लोगों को बांटी गई। महिला एवं बाल विकास विभाग, एएनएम, आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं समेत विभिन्न विभागों के सहयोग से जिले भर में जागरूकता गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं।
उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा महात्मा गांधी जी की जयंती पर 2 अक्तूबर से आरंभ देशव्यापी मुहिम ’पैन इंडिया अवेयरनेस एवं आउटरीच अभियान’ के तहत राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के मार्गदर्शन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंडी लोगों को उनके कानूनी अधिकारों एवं संविधान प्रदत्त ताकत के बारे में अवगत कराने को लेकर प्रयासरत है।