ऊना, 25 सितंबर - ग्रामीण विकास पंचायती राज, कृषि, मत्स्य एवं पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने आज बंगाणा में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के लाभार्थियों के साथ शिमला से प्रसारित वर्चुअल संवाद कार्यक्रम देखा तथा इस योजना के लाभार्थियों को निशुल्क राशन की किट्स भी प्रदान की। इस अवसर पर वीरेंद्र कंवर ने कहा कि बंगाणा में सिविल अस्पताल के नए भवन का निर्माण कार्य जल्द ही शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह भवन 14 करोड रुपए की लागत से बनने जा रहा है जिसका शिलान्यास मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जल्द ही करेंगे। उन्होंने कहा कि इस अस्पताल में 50 बिस्तर होंगे जिससे पूरे क्षेत्र को लाभ होगा। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में बिजली की कम वोल्टेज की समस्या का स्थाई समाधान करने के लिए शुक्रवार को हुई कैबिनेट बैठक में मंदली तथा लठियाणी में 8.30 करोड़ रुपए की लागत से 33 केवी के दो सब स्टेशन बनाने को मंजूरी दी है। कंवर ने कहा कि बंगाणा में आज विकास की अनेकों परियोजनाएं संचालित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि 90 लाख रुपए की लागत से पंचायत का नया भवन बनने जा रहा है। इसके अलावा यहां पर 13 करोड़ रुपए की लागत से सीवरेज व्यवस्था का निर्माण किया जा रहा है।
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि बंगाणा में ट्रैफिक की समस्या दिनोंदिन बढ़ती जा रही है तथा लोगों को पैदल चलने के लिए बेहतर सुविधा प्रदान करने के लिए फुटपाथ का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने फुटपाथ निर्माण के लिए 50 लाख रुपए देने का आश्वासन दिया और कहा कि अगर इस परियोजना को पूरा करने के लिए और धन की आवश्यकता होगी तो वह इसे उपलब्ध करवाएंगे। उन्होंने कहा कि बंगाणा में गंदे नाले की चैनेलाइजेशन का कार्य 55 लाख रुपए से शुरू किया गया है। इसके अतिरिक्त 35 लाख रुपए की लागत से नारड़ु गांव के लिए लिंक रोड का निर्माण किया जाएगा। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कोरोना वायरस फैलने के बाद प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की घोषणा की गई जिसके तहत परिवारों को 5 किलो राशन मुफ्त में उपलब्ध करवाया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले 15 माह से इस योजना का लाभ गरीब परिवारों को मिल रहा है ताकि वैश्विक महामारी के इस युग में कोई भी भूखा सोने को मजबूर न हो।
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश देश का ऐसा पहला राज्य बन गया है जहां पर पहली डोज़ का शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल कर लिया गया है और नवंबर माह के अंत तक शत प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को दूसरी डोज़ लगाने का लक्ष्य रखा गया है।
जिला के अन्य आठ स्थानों पर भी लाईव दिखाया गया संवाद कार्यक्रम
संवाद कार्यक्रम के सीधा प्रसारण अवसर पर जिला परिषद सभागार ऊना मंे छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, नगर पंचायत गगरेट के सभागार में विधायक राजेश ठाकुर, मिनी सचिवालय हरोली में एचपीएसआईडीसी के उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार ने सीधा प्रसारण कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। इसके अलावा नगर परिषद मैहतपुर के सभागार, काॅमन फैसिलिटी सैन्टर बाथू, अंबेदकर भवन अंब, बीडीओ आॅफिस अंब, अंबेदकर भवन थानाकलां मंे भी लोगों को संवाद कार्यक्रम का सीधी प्रसारण देखा। इस मौके पर सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि गरीबों के कल्याण के लिए शुरु की गई यह योजना एक अनूठी पहल है। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के दौरान प्रदेश के सभी जरुरतमंद लोगों को पर्याप्त अन्न दिया गया ताकि महामारी के उस दौर में कोई भी भूखा न सोए। उन्होंने कहा कि आज का दिन पूरे प्रदेश में अन्न उत्सव के तौर पर मनाया जा रहा है। इस दौरान उन्होंने 25 लाभार्थियों को राशन की किटें भी वितरित कीं।
इस अवसर पर प्रदेश कामगार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष डॉ राकेश बबली, मंडलाध्यक्ष हरोली नरेन्द्र राणा, जिला परिषद अध्यक्षा नीलम कुमारी, बीडीसी अध्यक्षा रजनी देवी, जिला परिषद सदस्य आंेकार नाथ कसाना, एसडीएम ऊना डाॅ निधि पटेल, एसडीएम बंगाणा विशाल शर्मा, एडीएम हरोली विकास शर्मा, जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक राजीव शर्मा प्रधान मुच्छाली पंचायत विजय शर्मा व उपप्रधाान अजय शर्मा, व्यापार प्रकोष्ठ अध्यक्ष अजय जोशी, तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।